NDTV Khabar

चमत्कार! डॉक्टरों ने ब्रेन डेड घोषित कर दिया था, बड़ी बहन के पेट पर चूूमते ही ठीक हो गई बच्ची

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
चमत्कार! डॉक्टरों ने ब्रेन डेड घोषित कर दिया था, बड़ी बहन के पेट पर चूूमते ही ठीक हो गई बच्ची

जिस बच्ची को डॉक्टरों ने लगभग मृत घोषित कर दिया था, उसे बड़ी के चुमते ही हुआ चमत्कार.

खास बातें

  1. बड़ी बहन के चुमते ही जिंदगी के लिए मौत से लड़ रही बच्ची में लौटी जान
  2. डॉक्टरों के हाथ खड़े करने के बाद बच्ची की बड़ी बहन ने किया चमत्कार
  3. अब दो साल की हो गई बच्ची, पूरी तरीके से है स्वस्थ्य
लंदन:

ब्रिटेन में एक ऐसा चमत्कार हुआ जिसे पढ़कर आप हैरत में पड़ जाएंगे. यहां एक बच्ची को डॉक्टरों ने ब्रेन डेड घोषित कर दिया था, लेकिन उसकी बड़ी बहन के चुमते ही वह जिंदा हो गई. इस चमत्कार को देखकर डॉक्टर से लेकर बच्चों के मां-पिता भी अचंभित रह गए थे. पोपी स्मिथ अब करीब दो साल की हो गई है, लेकिन उसे जन्म के बाद जिंदा रहने के लिए काफी संघर्ष करना पड़ा. जन्म के पहले साल में पोपी ने बेहद मुश्किल घड़ी देखें हैं. एक वक्त ऐसा था, जब डॉक्टरों ने भी आस छोड़ दी थी. जन्म के कुछ दिन बाद बच्ची पोपी को कई सारी बिमारियां एक साथ हो गई थीं. हद तो तब हो गई जब पोपी हाइपोसिक ब्रेन डैमेज का शिकार हो गई. डॉक्टरों ने उसके जिंदा होने की सारी उम्मीदें छोड़ चुके थे. इसे कुदरत का करिश्मा कहें या कुछ और, पोपी की बड़ी बहन ने उसके पेट पर किस किया, तो चमत्कार हो गया.

मिरर की खबर के मुताबिक, 29 सप्ताह गर्भ में रहने के बाद ही पोपी स्मिथ का जन्म हो गया था. जन्म के समय वह महज दो पौंड की थी. डॉक्टरों ने उसे तीन महीने तक भर्ती रखा. जब वह अपने माता-पिता, एमी और स्टीफन के साथ घर गई, तो भी चीजें बिल्कुल सही नहीं थीं. तभी मां-पिता को लगा कि उनकी बेटी दूध को नहीं पी पा रही है. मेडिकल चेकअप में पता चला कि वह मोबियस सिंड्रोम से पीड़ित थी. मालूम हो कि मोबियस सिंड्रोम एक ऐसी बीमारी है, जिसमें चेहरे की मांसपेशियां ठीक से काम नहीं करती हैं. इसके बाद डॉक्टरों ने बताया कि पोपी का विकास सामान्य बच्चों की तरह नहीं होगा.


टिप्पणियां

तभी एक दिन डॉक्टरों ने बताया कि वह सीवियर हाइपोक्सिक ब्रेन डैमेज की शिकार हो गई. बचना मुश्किल था. डॉक्टरों ने पॉपी को ब्रेन डेड घोषित कर दिया. सब रो रहे थे. इसी बीच पॉपी की बहन मैसी उसके पास गई और पॉपी के पेट पर किस करने लगी. थोड़ी देर में पॉपी के पैर-हाथ में हलचल हुई. डॉक्टर भी इसे चमत्कार मान रहे हैं.

पोपी के हालत में तेजी से सुधार दिखने लगा. उसने 15 महीने की उम्र में चलना शुरू कर दिया, जो समय से पहले जन्मे बच्चे के लिए बड़ी बात है. यह बदलाव देखना सबके लिए चौंकाने वाला था.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement