मेकअप के बिना हीन महसूस करती हैं महिलाएं

खास बातें

  • दुनिया भर की लाखों महिलाएं मेकअप के बिना आत्मविश्वास महसूस नहीं करती हैं, यही कारण है कि प्रत्येक तीन में से एक महिला बिना मेकअप के घर से बाहर नहीं निकलती।
लंदन:

प्रत्येक तीन में से एक महिला बिना मेकअप के घर से बाहर नहीं निकलती। एक नए अध्ययन के मुताबिक 30 प्रतिशत महिलाएं ऐसी हैं, जो घर से निकलने से पहले मेकअप जरूर करती हैं। ब्रिटेन में शोधकर्ताओं का कहना है कि दुनिया भर की लाखों महिलाएं मेकअप के बिना आत्मविश्वास महसूस नहीं करती हैं। ऐसी महिलाएं जब मेकअप कर लेती हैं, तो वे अपनी अच्छी प्रस्तुति के प्रति पर्याप्त आश्वस्त होती हैं। समाचार पत्र 'डेली एक्सप्रेस' के मुताबिक 10 में से छह महिलाएं हर दिन मेकअप लगाती हैं, जबकि उन्हें इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि वे क्या करने जा रही हैं, कहां जा रही हैं या उन्हें कौन देख रहा है। करीब 3,000 महिलाओं पर किए गए एक सर्वेक्षण में यह बात सामने आई है। तीन में से एक महिला हमेशा अपने चेहरे पर मेकअप लगाए रखती है, जबकि 10 प्रतिशत महिलाएं सोते समय भी मेकअप में रहती हैं। सर्वेक्षण करने वाली कम्पनी 'सुपरड्रग' की सौंदर्य निदेशक सारा वोल्वरसन कहती हैं कि ज्यादातर महिलाओं के लिए मेकअप करना उनकी दिनचर्या का एक अहम हिस्सा होता है। इसके पीछे उनकी मानसिकता यह होती है कि लोगों का उन्हें बिना मेकअप के देखना डरावना हो सकता है। सारा कहती हैं कि मेकअप चेहरे के दाग-धब्बों को छुपाकर महिलाओं के आत्मविश्वास को बहुत बढ़ा देता है। अध्ययन में पाया गया है कि एक औसत महिला अपने नए पुरुष मित्र को अपना असली चेहरा दिखाने से पहले ढाई महीने तक इंतजार करती है। एक-तिहाई से ज्यादा महिलाएं मानती हैं कि यदि वे अपने प्रेमियों के सामने बिन मेकअप जाएंगी, तो वे उन्हें पसंद नहीं करेंगे।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com