कोरोनावायरस होने के बाद इस शख्स के शरीर का हुआ ऐसा हाल, खुद को आइने में देख निकल पड़े आंसू

कैलिफोर्निया (California) के रहने वाले माइक शुल्ज (Mike Schultz) अपनी फोटो की वजह से इन दिनों काफी सुर्खियों में है. उन्होंने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट से अपनी एक फोटो शेयर की और बताया कि उनकी बॉडी की कैसी हालत हो गई है.

कोरोनावायरस होने के बाद इस शख्स के शरीर का हुआ ऐसा हाल, खुद को आइने में देख निकल पड़े आंसू

कोरोनावायरस की वजह से इस शख्स के शरीर का हुआ ऐसा हाल

कैलिफोर्निया (California) के रहने वाले माइक शुल्ज (Mike Schultz) अपनी फोटो की वजह से इन दिनों काफी सुर्खियों में है. जी हां हाल ही में माइक (Mike Schultz) ने अपने इंस्टाग्राम (Instagram) अकाउंट से अपनी एक फोटो शेयर की,  साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि वह हाल ही में कोरानावायरस संक्रमण का शिकार हो गए थे जिसके बाद उनके शरीर में अजीबोरगरीब बदलाव हुआ सिर्फ इतना ही नहीं इस बीमारी के कारण उनका 20 किलो वजन भी कम हो गया है.

माइक ने बताया कि, मैं 6 सप्ताह तक हॉस्पिटल में इस बीमारी से लड़ता रहा, इस दौरान मेरा 20 किलो वजन कम हो गया. आपको बता दें कि माइक ने अपनी दो फोटो एक साथ सोशल मीडिया पर शेयर की, जिसमें से एक फोटो बीमारी के पहले की है तो एक फोटो बीमारी के बाद की है. जिसमें आप माइक के शरीर में होने वाले बदलाव को साफ देख सकते हैं. आपको बता दें कि माइक के इंस्टाग्राम पर 30,000 से ज्यादा फॉलोअर्स हैं.

माइक ने बताया कि जब उन्हें इस बीमारी का पता चला तो उनका वजन 86 किलो था. लेकिन 6 सप्ताह तक इस बीमारी से लड़ने के दौरान उनका वजन कम होकर 63 किलो हो गया. माइक ने बताया कि हॉस्पिटल में खड़े होकर फोटो क्लिक करना उन्हें बिल्कुल पसंद नहीं था, लेकिन वह अपनी इस फोटो के जरिए लोगों को मैसेज देना चाहते थे कि घर पर रहें और सुरक्षित रहें क्योंकि यह बीमारी आपके शरीर को अंदर तक कमजोर कर देती है. साथ ही वह अपने फोटो के जरिए यह भी बताना चाहते थे कि यह बीमारी किसी को भी हो सकती है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

माइक ने बताया कि, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप जवान है या बूढ़े... यह बीमारी किसी को, कभी भी हो सकती है और शरीर का यह हाल बना देती है. माइक आगे कहते हैं कि covid 19 की वजह से मैं काफी समय तक वैंटिलेटर पर रहा सिर्फ इतना ही नहींं इस बीमारी की वजह से मुझे सांस लेने में भी काफी तकलीफ हो रही थी.

सीएनएन से खास बातचीत में माइक ने बताया कि मुझे इस संक्रमण का पता 16 मार्च को चला, इसके कुछ दिन बाद मुझे सांस लेने में तकलीफ होने लगी. उसके बाद मैं हॉस्पिटल में एडमिट हो गया. 6 सप्ताह हॉस्पिटल में रहने के बाद जब मैंने अपने शरीर को आइने में देखा तो एक पल के लिए मेरे आंखों में आंसू आ गए कि आखिर मेरे शरीर के साथ क्या हो गया. मैं वापस से अपनी शरीर को पहले की तरह बनाने के लिए एक्सरसाइज और जिम कर रहा हूं.