NDTV Khabar

ये हैं छाया मोहिते, ऑटो रिक्शा का हैंडल थामा और एक्सीलेटर देते हुए निकल पड़ी फुर्र...

561 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
ये हैं छाया मोहिते, ऑटो रिक्शा का हैंडल थामा और एक्सीलेटर देते हुए निकल पड़ी फुर्र...

मुंबई में 19 महिलाओं ने ऑटो रिक्‍शा चलाना शुरू किया है.

खास बातें

  1. मुंबई में 19 महिलाओं को ऑटो रिक्शा चलाने की ट्रेनिंग
  2. महिला ऑटो रिक्शा ड्राइवरों में में से एक हैं 45 वर्षीय छाया मोहिते
  3. महाराष्‍ट्र में रिक्‍शा परमिट का पांच प्रतिशत महिलाओं के लिए रिजर्व रखा
मुंबई: देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में 19 महिलाओं ने ऑटो रिक्‍शा चलाना शुरू किया है. इन्हें महाराष्ट्र सरकार ने महिला सशिक्‍तकरण की स्‍कीम के तहत ऑटो रिक्‍शा चलाना सिखाया है. इन्‍हीं में से एक हैं 45 वर्षीय छाया मोहिते. छाया कहती हैं, 'ये काम, घरेलू काम करने से कहीं बेहतर है. इससे मैं ज्‍यादा पैसे कमा सकती हूं और मेरा भविष्‍य भी बेहतर रहेगा.' तीन बच्‍चों की मां ने पिछले दो माह में मुंबई के एक सरकारी ट्रेनिंग सेंटर से ऑटो चलाना सीखा है. मोहिते खुश होते हुए कहती हैं कि वे अब भी साइकिल नहीं चला सकतीं पर ऑटो रिक्‍शा चला सकती हैं. वे आत्‍मनिर्भर हो गई हैं.

राज्‍य सरकार ने नई स्‍कीम शुरू की है, जिसके तहत महाराष्‍ट्र में रिक्‍शा परमिट का पांच प्रतिशत महिलाओं के लिए रिजर्व रखा गया है. इसी तरह की स्‍कीम नई दिल्‍ली और रांची में भी चल रही है, जहां पिंक ऑटो को महिलाएं चलाती हैं और इन ऑटो में केवल महिलाएं ही सफर भी करती हैं. पर महाराष्‍ट्र में इन महिलाओं के ऑटो में पुरुष भी सवारी कर सकते हैं. 

हालांकि ये योजना महाराष्‍ट्र में पिछले साल आरंभ हो गई थी पर मोहिते और उनके जैसी अन्‍य महिलाएं, इस महानगर में ऑटो चलाने वाली पहली महिलाओं की सूची में शामिल हो गई हैं.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement