यह ख़बर 05 फ़रवरी, 2014 को प्रकाशित हुई थी

...जब जयराम रमेश के कदमों में गिर पड़े तेदेपा विधायक

...जब जयराम रमेश के कदमों में गिर पड़े तेदेपा विधायक

नई दिल्ली:

गृह मंत्रालय के सामने मंगलवार को उस समय अजीबोगरीब स्थिति पैदा हो गई, जब तेलुगू देशम पार्टी के लगभग 20 विधायक केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री जयराम रमेश के चरणों में गिरकर याचना करने लगे कि आंध्र प्रदेश का विभाजन न किया जाए।

जिस समय एक अन्य केंद्रीय मंत्री वी नारायणसामी की कार गृह मंत्रालय में प्रवेश कर रही थी, एक विधायक सामने जमीन पर लेट गया। कुछ अन्य तेदेपा विधायकों ने नारायणसामी की गाड़ी पर लगी लाल बत्ती तोड़ दी।

यह अफरातफरी उस समय मची जब ये मंत्री तेलंगाना मसौदा विधेयक को अंतिम रूप देने के लिए होने जा रही मंत्री समूह की बैठक में शामिल होने गृह मंत्रालय में जा रहे थे। जयराम जैसे ही नार्थ ब्लाक में प्रवेश करने वाले थे, ये विधायक उनके सामने पैरों में गिर पड़े और कहने लगे, 'सर प्लीज आंध्र प्रदेश को बचाइये। कृपया विभाजन न कीजिए। कृपया कुछ कीजिए ..।'

परेशान रमेश को सीआईएसएफ और दिल्ली पुलिस के जवान अपने घेरे में लेकर गृह मंत्रालय की इमारत में ले गए।

वहीं नारायणसामी की कार के सामने लेट जाने वाले विधायक को सुरक्षाकर्मियों ने मौके से जबरन हटाया।

Newsbeep

तेदेपा विधायक पी केशव ने कहा कि आंध्र प्रदेश विधानसभा की मंजूरी के बिना संसद में तेलंगाना मसौदा विधेयक पारित करने का कदम 'असंवैधानिक' है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अधिकारियों ने कहा कि कड़े सुरक्षा जोन में आने वाले मंत्रालय में हंगामा करने के लिए पुलिस तेदेपा विधायकों पर कार्रवाई का इरादा कर रही है। गृह मंत्रालय जिस जगह पर है, वहां निषाधाज्ञा लागू है। एक अधिकारी ने कहा कि विधायकों ने निषेधाज्ञा का उल्लंघन किया है, इसलिए कार्रवाई बनती है।