दुनिया का दूसरे सबसे ऊंचे पर्वत K2 की चोटी पर पहुंचने से 10 मीटर पहले नेपालियों ने गाया था राष्ट्रगान - देखें Viral Video

पर्वतारोही निर्मल पुरजा (Mountaineer Nirmal Purja) ने आज K2 शीतकालीन अभियान दल (K2 Winter Expedition Team) का एक नया वीडियो (Video) जारी किया है. जहां चरम पर पहुंचने से कुछ मिनट पहले वो नेपाली राष्ट्रगान (Nepali National Anthem) गाते नजर आ रहे हैं.

दुनिया का दूसरे सबसे ऊंचे पर्वत K2 की चोटी पर पहुंचने से 10 मीटर पहले नेपालियों ने गाया था राष्ट्रगान - देखें Viral Video

K2 की चोटी पर पहुंचने से 10 मीटर पहले नेपालियों ने गाया था राष्ट्रगान - देखें Viral Video

पर्वतारोही निर्मल पुरजा (Mountaineer Nirmal Purja) ने आज K2 शीतकालीन अभियान दल (K2 Winter Expedition Team) का एक नया वीडियो (Video) जारी किया है. जहां चरम पर पहुंचने से कुछ मिनट पहले वो नेपाली राष्ट्रगान (Nepali National Anthem) गाते नजर आ रहे हैं. 10 नेपालियों की एक टीम ने दुनिया का दूसरा सबसे ऊंचे पर्वत K2 को सर्दी के मौसम में फ़तह कर विश्व रिकॉर्ड बना दिया है. इसका वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है.

निर्मल पुरजा ने वीडियो शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा, 'भाई से भाई, कंधे से कंधा मिला कर हम नेपाली राष्ट्रगान गाते हुए शिखर तक एक साथ गए. हम सभी 10 मीटर पहले रुके और एक साथ ऐतिहासिक करतब को चिह्नित करने के लिए एक टीम के रूप में अपने अंतिम कदम बढ़ाए.'

राष्ट्रगान गाते हुए टीम K2 की चोटी पर पहुंचे और आखिर में टीम के सदस्यों से मिलवाया. उन्होंने आखिर में उन साथियों को तस्वीर शेयर की, जो इस रिकॉर्ड बनाने में उनके साथ थे.

देखें Video:

K2 का शिखर 28251 फुट ऊंचा है. भौगोलिक कठिनाइयों के कारण सर्दियों में वहां पहुंचना अब तक नामुमकिन माना जाता रहा है. शीर्ष पर चढ़ने के लिए तकनीकी कौशल की आवश्यकता होती है. के2 माउंट एवरेस्ट के बाद दूसरे नंबर की सबसे ऊंची चोटी है.


पर्वतारोहियों के दल में मिंगमा ग्यालजे शेरपा, निर्मल पुरजा, पुन मागर, गेलजे शेरपा, मिंगमा डेविड शेरपा, मिंगमा तेनजी शेरपा, दावा तेम्बा शेरपा, पेम छीरी शेरपा, किलु पेम्बा शेरपा, द्वाटेनजेनिंग शेरपा, और सोना शेरपा शामिल थे. यह दल शनिवार को दोपहर में चोटी के शीर्ष पर पहुंचा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


हिमालय पवर्तमाला के पाकिस्तान में पड़ने वाले हिस्से में स्थित इस पर्वत शिखर की ऊंचाई 8611 मीटर है. सर्दियों में K2 पर 200 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलती है. यहां तापमान शून्य से 60 डिग्री सेल्सियस तक नीचे चला जाता है. इससे पहले सर्दियों में इस चोटी पर पहुंचने में किसी को कामयाबी नहीं मिली थी.