शादी के दिन संविधान की किताब लेकर दुल्हन के घर पहुंचा दूल्हा, बिना 7 फेरे लिए ऐसे किया विवाह...

मध्य प्रदेश के सीहोर जिले में एक अनोखी शादी हुई. इसमें ना तो फेरे हुए, न ही अन्य वैवाहिक रस्में हुईं. बल्कि नवयुगल ने संविधान की शपथ लेकर जीवन भर एक-दूसरे के साथ रहने का संकल्प लिया.

शादी के दिन संविधान की किताब लेकर दुल्हन के घर पहुंचा दूल्हा, बिना 7 फेरे लिए ऐसे किया विवाह...

शादी के दिन संविधान की किताब लेकर दुल्हन के घर पहुंचा दूल्हा.

मध्य प्रदेश के सीहोर जिले में एक अनोखी शादी हुई. इसमें ना तो फेरे हुए, न ही अन्य वैवाहिक रस्में हुईं. बल्कि नवयुगल ने संविधान की शपथ लेकर जीवन भर एक-दूसरे के साथ रहने का संकल्प लिया. भारती नगर निवासी विष्णु प्रसाद दोहरे के पुत्र हेमंत और जयराम भास्कर की पुत्री मधु रविवार को परिणय सूत्र में बंधे. यह शादी कई मायनों में अनोख रही.

IND Vs NZ XI: जसप्रीत बुमराह ने किया ऐसा बोल्ड, खड़ा-खड़ा देखता रह गया बल्लेबाज, देखें Video

विवाह समारोह में न मांग में सिंदूर भरा गया और न ही मंगलसूत्र पहनाया गया. अग्नि के सात फेरे भी विवाह में देखने को नहीं मिले. दूल्हा हेमंत हाथ में संविधान की किताब लेकर वधु के घर पहुंचा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

McDonald's का चिकन बर्गर खा रही थी महिला, जैसे ही लिया मुंह में तो अंदर से निकली ये नुकीली चीज...

मंच पर एक व्यक्ति ने नवयुगल को संविधान की प्रस्तावना की शपथ दिलाई, और शादी पूरी हो गई. दूल्हे हेमंत ने कहा, "संविधान हमें सम्मान दिलाता है, इसलिए शादी में संविधान की प्रस्तावना की शपथ ली."



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)