NDTV Khabar

पत्नी की जिद के बाद असल जिंदगी में 'अक्षय कुमार' बन गया यह ऑटो ड्राइवर

मुंबई से खबर आई है, जहां एक ऑटो रिक्शा ड्राइवर की पत्नी और बेटी उसका साथ छोड़कर इसलिए मायके चली गई हैं, क्योंकि गांव में शौचालय की सुविधा नहीं है.

226 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
पत्नी की जिद के बाद असल जिंदगी में 'अक्षय कुमार' बन गया यह ऑटो ड्राइवर

ऑटो ड्राइवर ने फैसला किया है कि वह गांव में शौचालय का निर्णाण करके रहेगा.

खास बातें

  1. मुंबई के ऑटो ड्राइवर ने किया गांव में शौचालय बनाने का फैसला
  2. पत्नी और बेटी ने शौचालय ना होने की वजह से किया मायके का रूख
  3. गांव में शौचालय के लिए ऑटो ड्राइवर ने बैंक लोन के लिए किया आवेदन
मुंबई: हाल ही में में ‘टॉयलेट एक प्रेम कथा’ नाम की एक फिल्म आई थी, जिसे लोगों ने खूब पसंद किया. इस फिल्म में दिखाया गया था कि घर में शौचालय ना होने की वजह से गांव की एक बहू ससुराल छोड़कर अपने मायके चली जाती है और तब तक नहीं आती, जब तक उसके घर में शौचालय नहीं बन जाता. ऐसी ही एक खबर मुंबई से आई है, जहां एक ऑटो रिक्शा ड्राइवर की पत्नी और बेटी उसका साथ छोड़कर इसलिए मायके चली गई हैं, क्योंकि गांव में शौचालय की सुविधा नहीं है. पत्नी और बेटी के इस कदम के बाद ऑटो ड्राइवर ने यह फैसला किया है कि वह गांव में शौचालय का निर्णाण करके रहेगा, चाहे इसके लिए उसे बैंक से लोन ही क्यों न लेना पड़े. 

यह भी पढ़ें: महिला ने ओला कैब में दिया बच्‍चे को जन्‍म, तोहफे में मिली पांच सालों तक फ्री राइड

इस बारे में ऑटो रिक्शा ड्राइवर ने ‘ह्यूमन्स ऑफ बॉम्बे’ नाम के फेसबुक पेज पर कहा,  "मुझे पता है कि यह एक छोटा सा सपना है, लेकिन यह अब मेरे लिए सब कुछ है." इस ऑटो ड्राइवर के ऐसे विचार वाकई में प्रेरणादायक है. ऑटो ड्राइवर ने जिस तरह से अपने ड्रीम के बारे में बताया उससे निश्चित तौर पर किसी का भी दिल पिघल जाएगा. उन्होंने कहा कि वो मुंबई के रहने वाले है, लेकिन उन्होंने अपना नाम नहीं बताया. इस पोस्ट में उन्होंने बताया कि उनकी पत्नी और बेटी गांव में बुनियादी सुविधाएं और शौचालय ना होने की वजह से उन्हें छोड़कर चली गई है.
 


VIDEO: कुत्ते को घुमाने को लेकर दिल्ली के सफदरजंग इलाके में चली गोली
ऑटो ड्राइवर ने कहा, “जब मुझे पता चला कि उनकी पत्नी और बेटी रात में ही शौच जा पाती है, क्योंकि उस समय किसी की नजर उन पर नहीं पड़ती. यह सोचकर मैं काफी ज्यादा परेशान हो गया.” इस समस्या से निपटने के लिए उन्होंने अपने गांव में शौचालय बनाने के लिए बैंक ऋण के लिए आवेदन करने का निर्णय लिया है. उन्होंने कहा कि अपनी पत्नी और बेटियों के लिए स्वच्छ शौचालय उपलब्ध कराना उनका लक्ष्य है. पेसबुक पर यह पोस्ट देखते ही देखते वायरल हो गया. इस पोस्ट को अब तक 150 से अधिक बार शेयर किया जा चुका है और 5,400 से ज्यादा कमेंट आ चुके हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement