NDTV Khabar

भिखारी की मौत के बाद झोपड़ी में पहुंची पुलिस, बरामद हुए लाखों रुपये, गिनने में लग गए घंटों

जीआरपी पुलिस के मुताबिक सिक्के इतने अधिक थे कि गिनने में उन्हें घंटों लग गये.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भिखारी की मौत के बाद झोपड़ी में पहुंची पुलिस, बरामद हुए लाखों रुपये, गिनने में लग गए घंटों
मुंबई:

मुम्बई में शुक्रवार की रात पटरी पार करते समय एक बुजुर्ग व्यक्ति की मौत हो गई. 83 साल का बिड़दीचंद आजाद पेशे से भिखारी था. लेकिन उसकी मौत के बाद सूचना देने के लिए जब पुलिस उसकी झोपड़ी में पहुंची और उसमे कोई नहीं मिला. इसके बाद पुलिस ने उस झोपड़ी की तलाशी ली तो हैरान हो गई. घर मे बोरी में भरकर सिक्के रखे हुए थे और कुछ एफडी के सर्टिफिकेट भी थे. 

जीआरपी पुलिस के मुताबिक सिक्के इतने अधिक थे कि गिनने में उन्हें घंटों लग गये. घर से कुल 1 लाख 50 हजार रुपये के करीब थे. इसके अलावा बैंक एफडी के कई सर्टिफिकेट मिले, जिनकी कुल कीमत 8 लाख 77 हजार रुपये है. 

भीख मांगने के लिए चीख-चीख कर रो रहा था भिखारी, तभी हुआ कुछ ऐसा...Video हो गया Viral

राजस्थान के रहने वाले बिड़दीचंद मुम्बई के गोवंडी इलाके में रेल पटरी के पास ही रहते थे और रेलवे स्टेशन पर भीख मांगकर अपना गुजारा करते थे. लेकिन किसी को अंदाजा नहीं था कि उनके पास इतने पैसे होंगे. 


बीरभिचन्द आजाद के घर से पुलिस को उनका पैन कार्ड, आधार कार्ड और सीनियर सिटीजन कार्ड भी मिला है. घर से मिले दस्तावेजों के आधार पर जीआरपी पुलिस ने राजस्थान पुलिस से बीरभिचन्द आजाद के परिवार वालों की तलाश करने को कहा है.

टिप्पणियां

भीख मांगकर खुश हैं भिखारी, कहा- "सरकार की कोई योजना उनके काम की नहीं, भीख मांगने में है ज्‍यादा मुनाफा"



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement