यह ख़बर 14 अगस्त, 2014 को प्रकाशित हुई थी

पद्मनाभ स्वामी मंदिर के खजाने में कोबरा की बात झूठी?

नई दिल्ली:

केरल की राजधानी तिरुवनंतपुरम के प्राचीन श्री पद्मनाभ स्वामी मंदिर में मौजूद खजाने और इसके तहखानों को लेकर नया खुलासा हुआ है। एक अखबार में छपी रिपोर्ट के मुताबिक पूर्व नियंत्रक लेखा महापरीक्षक (सीएजी) विनोद राय ने मंदिर के तहखानों के बारे में प्रचलित कहानियों का खंडन किया है।

2011 में सीएजी की निगरानी में ही श्री पद्मनाभ स्वामी मंदिर से करीब एक लाख करोड़ रुपये मूल्य का खजाना निकाला गया था। हालांकि उस समय मंदिर के तहखाने−बी को नहीं खोला गया। ऐसी मान्यता थी कि अगर तहखाने−बी को खोला गया, तो प्राकृतिक आपदा या फिर कोई बड़ी दुर्घटना घट सकती है। कहा गया कि मंदिर के तहखानों में कोबरा जैसे जहरीले सांप मौजूद हैं, जो इस खजाने की रक्षा करते हैं और किसी को भी तहखाने में दाखिल नहीं होने देते।

अब विनोद राय ने इन सब कहानियों को खारिज कर दिया है। उल्लेखनीय है कि सुप्रीम कोर्ट ने श्री पद्मनाभ स्वामी मंदिर की संपत्ति का पूर्व नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक विनोद राय की देखरेख में विशेष ऑडिट का आदेश दिया था।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com