NDTV Khabar

National War Memorial: राष्ट्रीय युद्ध स्मारक से जुड़ी 10 खास बातें

National War Memorial: राष्ट्रीय युद्ध स्मारक में अमर चक्र, वीर चक्र, त्याग चक्र और रक्षा चक्र, 4 चक्र होंगे. इनमें से अमर चक्र पर 15.5 मीटर ऊंचा स्मारक स्तंभ है जिसमें अमर ज्योति जलेगी.

65 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
National War Memorial: राष्ट्रीय युद्ध स्मारक से जुड़ी 10 खास बातें

राष्ट्रीय युद्ध स्मारक से जुड़ी 10 खास बातें

नई दिल्ली:

पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 25 फरवरी को शहीद जवानों के सम्मान में राष्ट्रीय युद्ध स्मारक (National War Memorial) का उद्धाटन किया. ये स्मारक आज़ादी के बाद देश के लिए कुर्बानी देने वाले वीर सैनिकों के सम्मान में तैयार किया गया है. अभी तक दिल्ली में सिर्फ एक ही युद्ध स्मारक (इंडिया गेट) था, लेकिन वो प्रथम विश्वयुद्ध और अफगान लड़ाई के दौरान शहीद हुए 84 हज़ार सैनिकों की याद में अंग्रेज़ों ने बनवाया था. इसके बाद 1971 की लड़ाई में शहीद हुए करीब 4 हज़ार सैनिकों की याद में अमर जवान ज्योति (Amar Jawan Jyoti) बनाई गई. लेकिन ये पहला मौका है जब स्वतंत्रता के बाद राष्ट्र के लिए अपनी जान देने वाले जवानों के सम्मान में यह स्मारक बनाया गया. यहां जानिए इस राष्ट्रीय युद्ध स्मारक (National War Memorial) से जुड़ी 10 खास बातें.

हाईकोर्ट ने Bail देने के लिए रखी शर्त, कहा - पुलवामा शहीदों के परिवारों को दो 1 लाख रुपये


1. 2014 में इसे बनाने के लिए प्रक्रिया शुरू की और 25 फरवरी, 2019 तक इसे तैयार कर लिया गया.
2. इस मेमोरियल में अमर चक्र, वीर चक्र, त्याग चक्र और रक्षा चक्र, 4 चक्र होंगे. इनमें से अमर चक्र पर 15.5 मीटर ऊंचा स्मारक स्तंभ है जिसमें अमर ज्योति जलेगी.
3. इस मेमोरियल में शहीद हुए 26 हजार सैनिकों के नाम हैं.

ट्विटर पर छाया #Surgicalstrike2, भारतीय यूजर्स ने पाकिस्तान से पूछा- Hows The Khauf?

ihuvm4j8

राष्ट्रीय युद्ध स्मारक

टिप्पणियां


4. नेशनल वॉर मेमोरियल बनने के बाद अब शहीदों से जुड़े कार्यक्रम अमर जवान ज्योति के बजाए नेशनल वॉर मेमोरियल में ही होंगे. 
5. राष्ट्रीय युद्ध स्मारक बनाने में करीब 176 करोड़ रुपये की लागत आई.
6. 1947-48, 1961 में गोवा मुक्ति आंदोलन, 1962 में चीन से युद्ध, 1965 में पाक से जंग, 1971 में बांग्लादेश निर्माण, 1987 में सियाचिन, 1987-88 में श्रीलंका और 1999 में कारगिल में शहीद होने वाले सैनिकों के सम्मान में इसे बनाया गया है. 
7. सुरक्षा चक्र में 600 पेड़ हैं जो देश की रक्षा में तैनात जवानों को दर्शाते हैं.
8. इन सबके साथ-साथ स्मारक में इलेक्ट्रिक पैनल के जरिए भी जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की जाएगी. इसमें शाम के समय रंग-बिरंगी लाइटें जलेंगी. 
9. इस राष्ट्रीय युद्ध स्मारक में जाने की कोई फीस नही है, लेकिन मुख्य क्षेत्र और परम योद्धा स्थल (Param Yodha Sthal) के लिए समय निश्चित किया गया है. 
10. नेशनल वॉर मेमोरियल के पास ही 21 परमवीर चक्र पुरस्कार विजेताओं की कांस्य से प्रतिमाएं भी बनाई गई हैं.

cmr9bi08

राष्ट्रीय युद्ध स्मारक

VIDEO: पीएम मोदी सेना को समर्पित करेंगे शहीदों की याद में बना वॉर मेमोरियल


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement