Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

वीआईपी कारों से लाल बत्ती हटाने के फैसले को ट्विटर ने दी 'हरी झंडी'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
वीआईपी कारों से लाल बत्ती हटाने के फैसले को ट्विटर ने दी 'हरी झंडी'

फैसला लिए जाने के बाद बहुत-से राजनेताओं ने तुरंत ही अपने वाहनों की छत से लालबत्तियां उतार दीं... (प्रतीकात्मक चित्र)

नई दिल्ली:

अगले महीने की पहली तारीख से ही राजनेता और सरकारी अधिकारी अपनी-अपनी कारों की छतों पर चमकती लाल बत्तियों को उतारने जा रहे हैं, और सिर्फ एम्बुलेंस, फायर ब्रिगेड के वाहनों तथा पुलिस वैनों को नीली बत्ती लगाकर चलने की इजाज़त होगी... यहां तक कि देश के प्रथम नागरिक, यानी राष्ट्रपति, देश के प्रशासनिक प्रमुख, यानी प्रधानमंत्री तथा देश के प्रधान न्यायाधीश को भी 1 मई से लालबत्ती लगाने की अनुमति नहीं होगी... समूचा सोशल मीडिया देश में फैले 'वीआईपी कल्चर' को खत्म करने के लिए केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा लिए गए इस फैसले से बेहद खुश नज़र आ रहा है, और चौतरफा तारीफों के पुल बांधे जा रहे हैं...

हालांकि नियमों के अनुसार, देश के राष्ट्रपति या प्रधानमंत्री जैसे सर्वाधिक सुरक्षित नेताओं के सफर के दौरान यातायात पर बंदिशें लागू की जा सकेंगी, लेकिन हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना की अगवानी करने के लिए दिल्ली एयरपोर्ट जाते वक्त अपने काफिले को 'सामान्य ट्रैफिक' के बीच से ही गुज़ारा था, और उनके पूरे रूट पर किसी भी वक्त सड़कों को नहीं रोका गया था...


टिप्पणियां

बहुत-से राजनेताओं ने भी सरकार के इस कदम का स्वागत किया है, और अनेक मंत्रियों ने भी अपने आधिकारिक वाहनों से लाल बत्ती हटाने के बाद खींची गई तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर पोस्ट कीं...
 


माइक्रो-ब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर पर जल्द ही हैशटैग #EveryoneVIPinNewIndia ट्रेंड करने लगा, और ढेरों लोगों ने फैसला लेने के लिए सरकार की तारीफ करने के साथ-साथ अपने पसंदीदा नेताओं की तस्वीरें भी पोस्ट करना शुरू कर दिया...
 
गौरतलब है कि इसी महीने देश की राजधानी दिल्ली में एक एम्बुलेंस में अस्पताल की ओर जाते घायल बच्चे को उस वक्त तड़पते रहना पड़ा था, जब मलेशिया के प्रधानमंत्री नजीब रज़ाक के काफिले की वजह से ट्रैफिक को रोक दिया गया था... गुस्साए हुए एक चश्मदीद ने इस घटना का वीडियो सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट फेसबुक पर लाइव स्ट्रीम कर दिया था, और जब वह वीडियो वायरल हो गया, तब पुलिस का बयान जारी हुआ था कि वे सिर्फ प्रोटोकॉल का पालन कर रहे थे...

अन्य 'ज़रा हटके' ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... UN चीफ ने कश्मीर के बाद अब CAA पर दिया बयान, कहा - भारत में मुस्लिमों को लेकर चिंता है

Advertisement