NDTV Khabar

500 रुपए के पुराने नोटों से बिजली पैदा करता है छात्र, PMO में आविष्कार की चर्चा

खरिअर कॉलेज के लख्मण दुन्डी नाम के एक स्टूडेंट का कहना है कि वह 500 रुपये के एक पुराने नोट से 5 वोल्ट बिजली पैदा कर सकता है. छात्र के इस आविष्कार की चर्चा प्रधानमंत्री कार्यालय तक पहुंच गई है. पीएम कार्यालय ने ओडिशा के विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग को इस प्रोजेक्ट के बारे में रिपोर्ट भेजने को कहा है.

175 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
500 रुपए के पुराने नोटों से बिजली पैदा करता है छात्र, PMO में आविष्कार की चर्चा

ओडिशा के छात्र ने 500 रुपए के पुराने नोटों से बिजली पैदा करने की तकनीक ढूंढी. तस्वीर: प्रतीकात्मक

खास बातें

  1. ओडिशा के 17 वर्षीय छात्र का आविष्कार
  2. 500 रुपए के पुराने नोटों से बिजली बनाने का दावा
  3. प्रधानमंत्री कार्यालय ने छात्र के आविष्कार की मांगी रिपोर्ट
नई दिल्ली: ओडिशा के एक छात्र ने 500 रुपए के पुराने नोटों से बिजली पैदा करने का दावा किया है. नुआपादा जिले के रहने वाले महज 17 साल के छात्र का कहना है कि उसके पास पुराने नोटों से बिजली पैदा करने की तकनीक ढूंढी है. खरिअर कॉलेज के लख्मण दुन्डी नाम के एक स्टूडेंट का कहना है कि वह 500 रुपये के एक पुराने नोट से 5 वोल्ट बिजली पैदा कर सकता है. छात्र के इस आविष्कार की चर्चा प्रधानमंत्री कार्यालय तक पहुंच गई है. पीएम कार्यालय ने ओडिशा के विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग को इस प्रोजेक्ट के बारे में रिपोर्ट भेजने को कहा है. 

मीडिया रिपोर्ट्स में लख्मण के हवाले से कहा जा रहा है कि उसने बिजली पैदा करने के लिए 500 रुपए के पुराने नोट पर लगी सिलिकॉन कोटिंग का इस्तेमाल किया. उसका कहना है कि नोट को फाड़ने पर कोटिंग दिखाई देने लगे. इसके बाद उसने उसे धूप में रखा. छात्रा का दावा है कि इस प्लेट को एक बिजली की तार के जरिए ट्रांसफॉर्मर से कनेक्ट करने से बिजली पैदा की जा सकती है.

लख्मण ने बताया कि मैंने एक ट्रांसफॉर्मर बनाया है जो सिलिकॉन प्लेट से पैदा किए गए चार्ज को स्टोर कर सकता है. अगर पीएमओ मेरे इस इनोवेशन को पसंद करता है तो मेरे लिए गर्व की बात होगी. छात्र ने अपने इस आविष्कार को कॉलेज में प्रदर्शित किया है. उसका कहना है कि नोटबंदी के चलते देश में अरबों रुपए के बेकार नोट पड़े हैं. अगर उससे बिजली पैदा हो सकेगी तो यह सरकार के लिए राहत की बात होगी. लख्मण ने बताया कि 15 दिनों की मेहनत के बाद उसने इस पुराने नोटों से बिजली पैदा करने की तकनी ढूंढी है.

मालूम हो कि पिछले साल 8 नवंबर की रात आठ बजे से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 500 और 1000 रुपए के पुराने नोटों का चलन बंद करने का ऐलान कर दिया था. सरकार का कहना है कि यह फैसला देश से काला धन नष्ट करने के लिए लिया गया था.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement