NDTV Khabar

पीएम नरेंद्र मोदी परोस रहे थे खाना, बच्ची ने अचानक दिया जवाब, बोली- हम सुबह खाकर आए हैं... देखें VIDEO

धानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सोमवार को वृंदावन में बच्चे से मिले. पीएम मोदी अक्षयपात्र फाउंडेशन (Akshay Patra foundation) के कार्यक्रम में पहुंचे थे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पीएम नरेंद्र मोदी परोस रहे थे खाना, बच्ची ने अचानक दिया जवाब, बोली- हम सुबह खाकर आए हैं... देखें VIDEO

बच्ची ने पीएम मोदी को कहा- हम खाना खाकर आए थे...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सोमवार को वृंदावन में बच्चे से मिले. पीएम मोदी अक्षयपात्र फाउंडेशन (Akshay Patra foundation) के कार्यक्रम में पहुंचे थे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कार्यक्रम में स्कूली बच्चों को थाली परोसी और खुद भी उनके साथ बैठकर भोजन किया. कार्यक्रम की शुरुआत में प्रधानमंत्री ने श्री प्रभुपाद एसी भक्तिवेदांता स्वामी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी. इतना ही नहीं प्रधानमंत्री (Prime Minister Narendra Modi) ने बच्चों के साथ जमकर हंसी-ठिठोली की और उन्हें अपने हाथों से खाना भी खिलाया. पीएम मोदी ने एक वीडियो शेयर किया जो काफी वायरल हो रहा है.

अक्षयपात्र के कार्यक्रम में बोले पीएम मोदी, अब पशुपालक भी ले सकते हैं किसान क्रेडिट कार्ड से लोन


पीएम मोदी एक बच्ची से बात करते हुए कह रहे थे- अब डेढ़ बज रहा है... बारह बजे मिलना चाहिए था खाना. देर से आया प्रधानमंत्री, आपका खाना लेट हो गया. है ना? बच्ची ने फिर ऐसा रिप्लाई दिया जिसको सुनकर पास में बैठी बच्चियां भी हंसने लगीं. बच्ची ने कहा- 'हम सुबह खा के आए थे.' पीएम नरेंद्र मोदी ने इंस्टाग्राम पर वीडियो शेयर करते हुए लिखा- 'बच्चों से अच्छी बातचीत हई. लेट लंच मिलने से उनको बुरा नहीं लगा.'

पीएम मोदी ने कर्नाटक में गठबंधन पर कसा तंज, कहा- कुमारस्वामी ‘असहाय' सरकार के 'पंचिंग बैग'

देखें VIDEO:

 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Narendra Modi (@narendramodi) on

 

टिप्पणियां

इस अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, 'यदि हम सिर्फ पोषण अभियान को हर माता, हर शिशु तक पहुंचाने में सफल हुए तो अनेक जीवन बच जाएंगे.' इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आबादी के लिहाज से उत्तर प्रदेश देश का सबसे बड़ा राज्य है. राज्य के प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों में करीब 1.77 करोड़ बच्चे पढ़ते हैं. इन सभी बच्चों को मध्याह्न भोजन उपलब्ध कराया जाता है. उन्होंने कहा कि इस कार्य में अक्षय पात्र फाउंडेशन से मदद ली जाती है. सरकार ने राज्य के 10 जनपदों में संस्था के साथ इस सहयोग को आगे बढ़ाने का निर्णय लिया है. 

फाउंडेशन के उपाध्यक्ष मोहन दास पई ने बताया कि अक्षय पात्र ने यह कार्यक्रम पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल में शुरू किया था. 2016 में 2 अरबवीं थाली परोसने के कार्यक्रम में तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी यहां पधारे थे. उन्होंने बताया कि संस्था का लक्ष्य अब 2025 तक स्कूली दिनों में प्रतिदिन 50 लाख बच्चों को भोजन परोसने का है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement