लगाई गई रेप पीड़ितों के कपड़ों की प्रदर्शनी, कहा- 'कोई कपड़ा रेप होने से नहीं रोक सकता'

ब्रुसेल्स के मोलेनबीक में एक ऐसी प्रदर्शनी लगाई गई, जिसकी चर्चा हर जगह हो रही है. इस प्रदर्शनी में रेप पीड़ितों ने क्राइम सीन के वक्त जो कपड़े पहने थे.

लगाई गई रेप पीड़ितों के कपड़ों की प्रदर्शनी, कहा- 'कोई कपड़ा रेप होने से नहीं रोक सकता'

लगाई गई रेप पीड़ितों के कपड़ों की प्रदर्शनी.

खास बातें

  • ब्रुसेल्स के मोलेनबीक में लगाई गई रेप पीड़ितों के कपड़ों की प्रदर्शनी.
  • रेप पीड़ितों ने क्राइम सीन के वक्त जो कपड़े पहने थे उन्हें दिखाया गया.
  • इस प्रदर्शनी में एक बच्चे की भी शर्ट है.
नई दिल्ली:

ब्रुसेल्स के मोलेनबीक में एक ऐसी प्रदर्शनी लगाई गई, जिसकी चर्चा हर जगह हो रही है. इस प्रदर्शनी में रेप पीड़ितों ने क्राइम सीन के वक्त जो कपड़े पहने थे. उन्हें दिखाया गया जैसे ट्रैकसूट, पजामा और ड्रेस.  इसके जरिए ये संदेश दिया गया कि ''रेप का कपड़ों से कोई लेना देना नहीं है. इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि महिला ने क्या पहना है.''  इस प्रदर्शनी को नाम दिया गया कहा गया- ''क्या ये मेरी गलती है?'' 

पीएम मोदी से मिलने इजरायल से आया ये बच्चा, जानिए क्या हुआ था 26/11 की रात को इसके साथ
 

brussels

Metro की खबर के मुताबिक, सीएडब्लू (पीड़ितों की सहायता करने वाली संस्था) के प्रशिक्षण और परामर्श कर्मचारी लीशबेथ केन्स (जिन्होंने कपड़े दिए) ने कहा- जब आप यहां पहुंचेंगे तो आपको भी लगेगा- ये सामान्य कपड़े हैं जो हर कोई पहनता है. यहां एक बच्चे की भी शर्ट है, जिसको 'माय लिटिल पोनी'  नाम दिया गया है. 
Newsbeep

जर्मनी से आई इस लड़की ने सूट पहन किया पंजाबी गाने पर डांस, वीडियो वायरल

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मोनेलबेक की रोकथाम सेवा की प्रोजेक्ट मैनेजर डेलफिन गूसेन्स ने कहा- हम चाहते हैं लोग समझें कि महिला जो पहनना चाहती हैं वो पहनें.  छोटे कपड़े पहनने से अटैक नहीं होता. इस प्रदर्शनी में यही संदेश दिया गया है कि 'कोई कपड़ा रेप होने से नहीं रोक सकता'