Khabar logo, NDTV Khabar, NDTV India

OMG: चूहों के लिए खुला कैफे, गरमा-गरम कॉफी की चुस्कियों के साथ करें उनसे दोस्ती

इस कैफे में एक कप कॉफी की कीमत 50 अमेरिकी डॉलर होगी. इतना ही नहीं इस कैफे में कॉफी पीने के दौरान अगर आप किसी चूहे से दोस्ती कर लेते हैं तो उसे अपने साथ ले जा सकते हैं. बताया जा रहा है कि यह कैफे खासतौर से इसलिए खोला जा रहा है ताकि लोग यहां से चूहों को गोद ले सकें.

ईमेल करें
टिप्पणियां
OMG: चूहों के लिए खुला कैफे, गरमा-गरम कॉफी की चुस्कियों के साथ करें उनसे दोस्ती

इस अजीबोगरीब कैफे का नाम 'द ब्लैक रैट' कैफे है.

खास बातें

  1. सैन फ्रांसिस्को में खुलेगा चूहों के लिए कैफे
  2. यहां चूहों के साथ बैठकर पी सकेंगे कॉफी
  3. यहां एक कप कॉफी की कीमत 50 अमेरिकी डॉलर होगी
नई दिल्ली: कुतों के कैफे के बारे में तो आपने सुना और देखा होगा, लेकिन इस बार सैन फ्रांसिस्को में चूहों के लिए कॉफी कैफे खुलने जा रहा है. यहां एक ही टेबल पर बैठकर चूहे के साथ कॉफी का लुत्फ उठाया जा सकेगा. इस अजीबोगरीब कैफे का नाम 'द ब्लैक रैट' कैफे है. यह कैफे उन लोगों को आकर्षित करेगा जिनहें चूहों से प्यार है. इस कैफे में आकर चूहों से दोस्ती भी की जा सकती है. भारतीयों के लिहाज से यह कैफे थोड़ा महंगा है. यूपीआई की खबर के मुताबिक इस कैफे में एक कप कॉफी की कीमत 50 अमेरिकी डॉलर होगी. इतना ही नहीं इस कैफे में कॉफी पीने के दौरान अगर आप किसी चूहे से दोस्ती कर लेते हैं तो उसे अपने साथ ले जा सकते हैं. बताया जा रहा है कि यह कैफे खासतौर से इसलिए खोला जा रहा है ताकि लोग यहां से चूहों को गोद ले सकें.

इस कैफे का संचालन कैलिफोर्नियां की रैट्टि रैट्ज नाम की अडॉप्शन संस्था करेगी. यह कैफे केवल एक जुलाई से 8 जुलाई तक खोला जाएगा. संस्था के पास 250 से ज्यादा स्थानीय पालूत चूहे हैं. यह संस्था 1998 में बनाई गई थी. इस कैफे में मिलने वाली काफी, चाय, पेस्ट्रीज इस कैफे में नहीं बनाई जाती हैं.


कुत्तों के लिए 'रेस्टोरेंट'

मालूम हो कि राजस्थान के बाड़मेर के शमशान घाट के अंदर स्थित इस रेस्टारेंट में कुत्तों को प्लेट में खाना दिया जाता है. खाने के साथ कुछ मीठा भी दिया जाता है. रेस्टोरेंट 11 बजे खुलता है, जिसमें खाने का मेन्यू फिक्स रहता है. खाने में बाजरे की रोटी और गुड़ दिया जाता है. इस रेस्टोरेंट में रोज करीब 60 से 70 कुत्ते खाना खाते हैं.

यह भोजनालय लोगो के चंदे से चलता है. भोजनालय के लिए लोगो से प्रति व्यक्ति 200 रूपए लिए जाते हैं. यहां पर लोग शादी के बाद बचे हुए खाने को भी लेकर आते हैं. जिससे इन कुत्तों की विशेष खाने की हसरत भी पूरी हो जाती है. ज्योतिष शास्त्र में माना जाता है कि कुत्तों को खाना खिलाने से ग्रह दोष दूर होते हैं, जिसकी वजह से कई लोग अपने साथ खाना लाकर इन कुत्तों को खिलाते हैं.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement