NDTV Khabar

12वीं के लड़के ने लगाया लड़की को गले तो पढ़िए स्कूल ने क्या सुनाई सजा

सेंट थॉमस सेंट्रल स्कूल के 12वीं क्लास के स्टूडेंट ने लड़की को गले लगाया तो स्कूल ने उसे निष्कासित कर दिया. ये स्कूल तिरुवनंतपुरम के मुकोला में है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
12वीं के लड़के ने लगाया लड़की को गले तो पढ़िए स्कूल ने क्या सुनाई सजा

सेंट थॉमस सेंट्रल स्कूल के 12वीं क्लास के स्टूडेंट ने लड़की को गले लगाया तो स्कूल ने उसे निष्कासित कर दिया.

खास बातें

  1. स्टूडेंट ने लड़की को गले लगाया तो स्कूल ने उसे निष्कासित कर दिया.
  2. स्टूडेंट ने सोशल मीडिया पर अपलोड की थी फोटो.
  3. निष्कासित करने के बाद माता-पिता ने कोर्ट के ऑर्डर को चुनौती दी है.
नई दिल्ली:

केरल का एक ऐसा मामला सामने आया है जो आपको हैरान कर देगा. Times Of India की खबर के मुताबिक, सेंट थॉमस सेंट्रल स्कूल के 12वीं क्लास के स्टूडेंट ने लड़की को गले लगाया तो स्कूल ने उसे निष्कासित कर दिया. ये स्कूल तिरुवनंतपुरम के मुकोला में है. स्कूल ने डिसिप्लिनरी कोड को सामने रखते हुए ये फैसला लिया. आइए जानते हैं आखिर मामला क्या था...

पढ़ें- इस भारतीय लड़की की दुश्मन बनी खूबसूरती, विदेशी समझ लोग करते हैं ऐसे कमेंट

सोशल मीडिया पर अपलोड की थी फोटो
मामला 21 जुलाई का है जब एक 12वीं में पढ़ने वाले लड़के ने लड़की को गले लगाती हुई फोटो सोशल मीडिया पर अपलोड की थी. जिसके बाद स्कूल ने बच्चे को दोषी माना और स्कूल से निष्कासित कर दिया. स्कूल के अनुसार उसने स्कूल के अनुशासनात्मक कोड का उल्लंघन किया था. 

पढ़ें- कुत्ते ने किया महिला का मर्डर, क्लिक करती थी सेल्फी और ले जाती थी घुमाने
 

kerala high court

हाई कोर्ट ने खारिज किया केरल राज्य बाल अधिकार आयोग का ऑर्डर
बच्चे ने केरल राज्य बाल अधिकार आयोग को कंप्लेंट की थी. केरल राज्य बाल अधिकार आयोग ने 4 अक्टूबर को स्कूल को ऑर्डर दिया था कि बच्चे को स्कूल में बैठने दिया जाए और पढ़ाई पूरी कराई जाए. लेकिन स्कूल ने इस ऑर्डर को हाई कोर्ट में चुनौती दी. 12 दिसंबर को हाई कोर्ट ने ऑर्डर को खारिज कर दिया.

पढ़ें- एक सेल्फी की वजह से पूरा देश दे रहा है इस लड़की को गालियां, दी मौत की धमकी

टिप्पणियां

माता-पिता ने दी कोर्ट के ऑर्डर को चुनौती
अब बच्चे के माता-पिता ने कोर्ट के ऑर्डर को चुनौती दी है. कोर्ट ने स्कूल का पक्ष लेते हुए कहा है कि स्कूल की प्रतिष्ठा बनाए रखने के लिए ये फैसला सुनाया है. 

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement