Ind Vs Aus: शशि थरूर ने ऑस्ट्रेलिया को अपनी ट्रेडमार्क स्टाइल में किया ट्रोल,कम ही लोग समझ पाएंगे मतलब

जैसे ही टीम इंडिया ने 2-1 से सीरीज अपने नाम की तो फैन्स ने इन पूर्व क्रिकेटर्स को खूब ट्रोल किया. शशि थरूर ने ऑस्ट्रेलिया को अपनी ट्रेडमार्क शैली में ट्रोल किया है. एक ऐसे शब्द के साथ जिसका अर्थ बहुत कम लोगों को पता होगा.

Ind Vs Aus: शशि थरूर ने ऑस्ट्रेलिया को अपनी ट्रेडमार्क स्टाइल में किया ट्रोल,कम ही लोग समझ पाएंगे मतलब

Ind Vs Aus: शशि थरूर ने ऑस्ट्रेलिया को अपनी ट्रेडमार्क स्टाइल में किया ट्रोल

Ind Vs Aus 4th Test: भारत और ऑस्ट्रेलिया (India Vs Australia) के बीच चौथा टेस्ट मुकाबला ब्रिसबेन में खेला गया. इस मुकाबले में भारत ने टेस्ट मैचों की सीरीज के आखिरी और चौथे मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया को हरा दिया. टेस्ट सीरीज शुरू होने से पहले कई पूर्व क्रिकेटर्स ने कहा था कि टीम इंडिया (Team India) यह सीरीज बुरी तरह हारेगा और हो सकता है कि उनको क्लीनस्वीप का भी सामना करना पड़े. किसी को उम्मीद नहीं थी कि टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज अपने नाम कर लेगी. जैसे ही टीम इंडिया ने 2-1 से सीरीज अपने नाम की तो फैन्स ने इन पूर्व क्रिकेटर्स को खूब ट्रोल किया. इनमें संयुक्त राष्ट्र के पूर्व अवर महासचिव, लेखक, कांग्रेस सांसद और शब्दकार शशि थरूर (Shashi tharoor) ने ऑस्ट्रेलिया को अपनी ट्रेडमार्क शैली में ट्रोल किया है. एक ऐसे शब्द के साथ जिसका अर्थ बहुत कम लोगों को पता होगा.

जैसा कि टीम इंडिया ने ब्रिस्बेन में चौथे और अंतिम टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया पर तीन विकेट से ऐतिहासिक जीत हासिल कीऔर सोशल मीडिया पर खुशी की लहर दौड़ पड़ी. थरूर ने भी खुशी जाहिर करते हुए अपने "वर्ड ऑफ द डे" Epicaricacy को ट्विटर पर शेयर किया और कुछ इस तरह ऑस्ट्रेलिया को ट्रोल किया.

एपिकैरिकेसी (epicaricacy), दूसरों के दुर्भाग्य से खुशी प्राप्त करने या खुशी प्राप्त करने का कार्य है.

अपने ट्वीट के साथ, थरूर ने पूर्व क्रिकेटरों माइकल क्लार्क, रिकी पोंटिंग और मार्क वॉ द्वारा की गई टिप्पणियों का एक स्नैपशॉट साझा किया. ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क ने विराट कोहली के बिना टीम इंडिया की बल्लेबाजी के लिए "गहरी परेशानी" की भविष्यवाणी की थी, जबकि रिकी पोंटिंग ने कहा था कि कोहली की अनुपस्थिति में "व्हाइट वॉश" करने का अच्छा मौका होगा. ब्रैड हैडिन और मार्क वॉ दोनों ने कहा था कि भारत एडिलेड में अपने नुकसान से उबर नहीं पाएगा.

शशि थरूर ने स्पष्ट करते हुए कहा, "मैं दंगाई किस्म का नहीं हूं, लेकिन आज इन टिप्पणियों को पढ़ने में एक बहुत खुशी हो रही है."

उन्होंने एक और ट्वीट करते हुए लिखा, हां, माइकल क्लार्क सही है. चलो एक साल के लिए जश्न मनाते हैं. अगले महीने इंग्लैंड को रैंद कर इससे शुरु करते हैं.


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com