Solar Eclipse 2018: चंद्रग्रहण से पहले होगा सूर्य ग्रहण, जानें 5 अहम बातें

चंद्रग्रहण 27 जुलाई को पड़ने वाला है. लेकिन उससे पहले सूर्यग्रहण भी आने वाला है. 13 जुलाई को साल का दूसरा सूर्यग्रहण पड़ेगा. साल का तीसरा सूर्यग्रहण अगले महीने यानी अगस्त में पड़ने वाला है.

Solar Eclipse 2018: चंद्रग्रहण से पहले होगा सूर्य ग्रहण, जानें 5 अहम बातें

13 जुलाई को साल का दूसरा सूर्यग्रहण पड़ेगा.

चंद्रग्रहण 27 जुलाई को पड़ने वाला है. लेकिन उससे पहले सूर्यग्रहण भी आने वाला है. 13 जुलाई को साल का दूसरा सूर्यग्रहण पड़ेगा. साल का तीसरा सूर्यग्रहण अगले महीने यानी अगस्त में पड़ने वाला है. ये सूर्यग्रहण करीब 1 घंटे तक रहेगा. ये सूर्यग्रहण आषाढ़ महीने की अमावस्या को यानी 13 जुलाई 2018 को सूर्य ग्रहण पड़ रहा है. आइए जानते हैं सूर्य ग्रहण से जुड़ी 5 अहम बातें...

क्या होता है ग्रहण? सूर्यग्रहण और चंद्रग्रहण में क्या है अंतर

1. ये सूर्यग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा. 13 जुलाई को इंग्लैंड के ग्रीनविच शहर में दोपहर 1:30 बजे नजर आएगा. वहीं अमेरिका के पूर्वी तट पर सुबह 9:30 बजे पड़ेगा. ऑस्ट्रेलिया के दक्षिणी क्षेत्र में सूर्य ग्रहण को देखा जा सकता है. मेलबर्न में सूर्यग्रहण नजर आएगा. 

2. अगले महीने यानी 11 अगस्त को साल का तीसरा सूर्यग्रहण नजर पड़ेगा. जो उत्तरी यूरोप और पूर्वी एशिया में नजर आएगा. 

3. 13 जुलाई को पड़ने वाला सूर्यग्रहण भारतीय समय अनुसार 7 बजकर 18 मिनट पर शुरू होगा और  बजकर 13 मिनट तक रहेगा. 

इस महीने लगेगा सदी का सबसे लंबा पूर्ण चंद्रग्रहण, पृथ्वी के बहुत करीब आ जाएगा मंगल

4. क्या होता है सूर्य ग्रहण?
पृथ्वी अपनी धुरी पर घूमने के साथ-साथ अपने सौरमंडल के सूर्य के चारों ओर भी चक्कर लगाती है. दूसरी ओर, चंद्रमा दरअसल पृथ्वी का उपग्रह है और उसके चक्कर लगता है, इसलिए, जब भी चंद्रमा चक्कर काटते-काटते सूर्य और पृथ्वी के बीच आ जाता है, तब पृथ्वी पर सूर्य आंशिक या पूर्ण रूप से दिखना बंद हो जाता है. इसी घटना को सूर्यग्रहण कहा जाता है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Lunar Eclipse 2018: भारत में लगभग पूरी रात दिखाई देगा सदी का सबसे लंबा चंद्र ग्रहण, इस तरह करें दीदार

5. क्या होता है चंद्रग्रहण?
जब सूर्य के चारों ओर परिक्रमा करती हुई पृथ्वी एक सीध में अपने उपग्रह चंद्रमा तथा सूर्य के बीच आ जाती है, तो चंद्रमा पर पड़ने वाली सूर्य की किरणें रुक जाती हैं, और पृथ्वी की प्रच्छाया उस पर पड़ने लगती है, जिससे उसका दिखना बंद हो जाता है. इसी खगोलीय घटना को चंद्रग्रहण कहा जाता है.