NDTV Khabar

स्वाद ही नहीं स्तन कैंसर से बचाव भी देती है आपकी फेवरेट स्ट्राबेरी

1Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
स्वाद ही नहीं स्तन कैंसर से बचाव भी देती है आपकी फेवरेट स्ट्राबेरी

सोचिए क्या हो अगर आपको पता चले कि जो स्ट्राबेरी आप महज स्वाद के लिए खाते हैं वह आपको स्तन कैंसर से भी बचाती है... जी हां, हाल ही के शोध में एक नया खुलासा हुआ है कि महिलाओं का चहेता माना जाने वाला फल स्ट्राबेरी स्तन कैंसर से लड़ने में भी मददगार है...

पृथ्वी दिवस 2017 : लोमड़ी-बिल्ली की कहानी के जरिए जरूरी संदेश दे रहा Google का Doodle

वैज्ञानिकों ने पाया कि स्ट्राबेरी के रस से तेजी से बढ़ने वाली स्तन कैंसर कोशिकाओं को रोकने के साथ ट्यूमर के आकार को भी कम किया जा सकता है. इस शोध में पाया गया कि स्ट्राबेरी के अर्क से लेब में विकसित स्तन  कैंसर कोशिकाओं को फैलने से रोका जा सकता है. 
 
 
breast cancer 650

Photo Credit: iStock


इससे पहले के सर्वे में देखा गया कि हर रोज 500 ग्राम स्ट्रॉबेरी यानी 10 से 15 स्ट्रॉबेरी का प्रयोग एंटीऑक्सिडेंट और एंटी इंफ्लैमेटरी है. यह कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करने में भी मदद करता है. यह सर्वे साइंटिफिक रिपोर्ट्स पत्रिका में प्रकाशित किया गया था.

आखिर कैसे जन्म के 6 महीने बाद 9 महीने का हुआ यह बच्चा!

वायु प्रदूषण का असर
इससे पहले ही आए एक शोध में पता चला था कि जिन इलाकों में उच्च स्तर का वायु प्रदूषण हो, वहां की महिलाओं के स्तनों के ऊतकों का घनत्व ज्यादा हो सकता है, और उसमें कैंसर पनपने की आशंका बढ़ जाती है. यह निष्कर्ष अमेरिका की करीब 2,80,000 महिलाओं पर अध्ययन करने के बाद निकाला गया. कहा गया है कि स्तनों का आकार ऊतकों का घनत्व बढ़ने से बड़ा हो जाता है और वसा की अधिकता से भी आकार बढ़ता जाता है, लेकिन अगर चर्बी बढ़ने से स्तन का आकार बढ़ा हो, तो उसमें कैंसर पनपने की आशंका नहीं रहती. खतरा ऊतकों का घनत्व बढ़ने पर होता है, जिसे मैमोग्राफी मापा जा सकता है.

एजेंसियों से इनपुट
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement