Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

Surya Grahan 2019: भारत में ऐसा दिखाई दिया सूर्य ग्रहण, पीएम मोदी ने देखा लाइव स्ट्रीमिंग के जरिए...

Solar Eclipse 2019: आज 2019 का आखिरी सूर्य ग्रहण (Surya Grahan) दिखाई दिया. भारतीय समयानुसार वलयाकार सूर्यग्रहण की अवस्था सुबह 9.06 बजे शुरू हुई. सूर्य ग्रहण को देश के दक्षिणी भाग कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु के हिस्सों में साफ देखा गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Surya Grahan 2019: भारत में ऐसा दिखाई दिया सूर्य ग्रहण, पीएम मोदी ने देखा लाइव स्ट्रीमिंग के जरिए...

Surya Grahan 2019: भारत में ऐसा दिखाई दिया सूर्य ग्रहण

Solar Eclipse 2019: आज 2019 का आखिरी सूर्य ग्रहण (Surya Grahan) दिखाई दिया. भारतीय समयानुसार वलयाकार सूर्यग्रहण की अवस्था सुबह 9.06 बजे शुरू हुई.  सूर्य ग्रहण की वलयाकार अवस्था दोपहर 12 बजकर 29 मिनट पर समाप्त हुई, जबकि ग्रहण की आंशिक अवस्था दोपहर 1 बजकर 36 मिनट पर समाप्त हुई. यह पूर्ण सूर्यग्रहण भारत समेत अन्य देशों में भी दिखाई दिया. सूर्य ग्रहण को देश के दक्षिणी भाग कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु के हिस्सों में साफ देखा गया.

Solar Eclipse 2019: सूर्य ग्रहण के बाद दुष्प्रभावों से बचने के लिए करें ये 6 काम


दिल्लीवासी कोहरे के कारण बृहस्पतिवार को सुबह बहुप्रतीक्षित सूर्य ग्रहण का नजारा नहीं देख पाए. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी दिल्ली में आसमान में बादल छाए रहने के कारण सूर्य ग्रहण नहीं देख सके लेकिन उन्होंने कोझिकोड और अन्य हिस्सों से लाइव स्ट्रीम के जरिए इसकी झलक देखी.

पीएम नरेंद्र मोदी ने चश्मा लगाकर देखा Surya Grahan, बोले- 'सूरज बादल में छिप गया था...'

केरल में सूर्य ग्रहण साफ देखा गया. बच्चों और बुजुर्गों समेत हजारों लोगों ने साल का आखिरी सूर्य ग्रहण देखा. दुर्लभ दृश्य सबसे पहले कासरगोड के चेरुवतूर में देखने को मिला और इसके बाद यह कोझिकोड और कन्नूर में भी दिखाई दिया. सबरीमाला स्थित प्रसिद्ध भगवान अयप्पा मंदिर, तिरुवनंतपुरम में पद्मनाभ स्वामी मंदिर और गुरुवयूर में भगवान कृष्ण मंदिर समेत विभिन्न मंदिर सूर्य ग्रहण के कारण बंद रहे.

Surya Grahan 2019: सूर्य ग्रहण के दौरान नहीं किए ये काम, तो हो सकते हैं गंभीर नुकसान! जानें कैसे लगता है सूर्य ग्रहण

सूर्य ग्रहण के अवसर पर बड़ी संख्या में श्रद्धालु हरियाणा के कुरुक्षेत्र जिले में उमड़े और ब्रह्म सरोवर में स्नान किया. कड़ाके की सर्दी के बावजूद बच्चों सहित श्रद्धालुओं ने सरोवर में डुबकी लगाई.

Surya Grahan 2019: सूर्य ग्रहण के दौरान कौन सी चीजें नहीं खानी चाहिए, जानें क्या होते हैं नुकसान!

टिप्पणियां

क्या होता है सूर्य ग्रहण?
क्या आप जानते है कि सूर्य ग्रहण किसे कहते हैं. असल में सूर्य और पृथ्वी के बीच में चंद्रमा के आ जाने की खगोलिया स्थिति से जब सूर्य का प्रकाश पृथ्वी पर नहीं पहुंच पाता है, तो इस स्थिति को ही सूर्य ग्रहण कहा जाता है.

साल 2020 का पहला सूर्य ग्रहण कब होगा?
अगला सूर्य ग्रहण भारत में 21 जून, 2020 को दिखाई देगा. यह एक वलयाकार सूर्य ग्रहण होगा. वलयाकार अवस्था का संकीर्ण पथ उत्तरी भारत से होकर गुजरेगा. देश के शेष भाग में यह आंशिक सूर्य ग्रहण के रूप में दिखाई पड़ेगा.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... जन्म के बाद डॉक्टर ने मारा तो गुस्से से देखने लगी बच्ची, सोशल मीडिया पर हुई Memes की बरसात

Advertisement