Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

हेलमेट पहनने के लिए ट्रैफिक पुलिस कर रही लोगों को जागरुक, न पहनने वालों से लिखवा रही 100 शब्दों का निबंध

ट्रैफिक को लेकर जागरुकता फैलाने को लेकर पुलिस लड्डू और टॉफी तक बांटती नजर आई है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
हेलमेट पहनने के लिए ट्रैफिक पुलिस कर रही लोगों को जागरुक, न पहनने वालों से लिखवा रही 100 शब्दों का निबंध

ट्रैफिक पुलिस हेलमेट न पहनने वालों से 100 शब्दों का निबंध लिखवा रही है.

खास बातें

  1. भोपाल पुलिस ने मनाया सड़क सुरक्षा सप्ताह
  2. हेलमेट न पहनने वालों से पुलिस लिखवा रही 100 शब्दों का निबंध
  3. भोपाल पुलिस ने रैली निकाल जागरुकता अभियान भी चलाया
भोपाल :

हम जानते हैं कि दोपहिया वाहन चलाते समय हेलमेट पहनना कितना जरूरी है. सड़क पर होने वाली दुर्घटनाओं में अधिकतर मामले हेलमेट न पहनने की वजह से ही पेश आते हैं. हेलमेट पहनने के लिए न जाने कितने ही जागरुकता कैंपेन चलाए जाते हैं. केंद्र सरकार ने भी नए मोटर व्हीकल संशोधन कानून को लागू कर दिया है जिसके तहत हेलमेट न पहनने पर 1,000 रुपये जुर्माना है और तीन महीने के लिए लाइसेंस रद्द किया जाना शामिल है. इस सबके बावजूद लोग हेलमेट नहीं पहनते हैं. इसी को ध्यान में रखते हुए देशभर में यातायात पुलिस नई नई तरकीबें आजमा रही है. वाहन चालकों को हेलमेट खरीदवाने से लेकर भारी जुर्माना लगाना सब किया जा रहा है. ट्रैफिक को लेकर जागरुकता फैलाने को लेकर पुलिस लड्डू और टॉफी तक बांटती नजर आई है. अब मध्य प्रदेश पुलिस ने भी एक नई तरकीब आजमाने की कोशिश की है. भोपाल में ट्रैफिक पुलिस हेलमेट न पहनने वालों से निबंध लिखवा रही है कि उन्होंने हेलमेट क्यों नहीं पहना है.

नहीं थे गाड़ी के कागज, कार छुड़ाने के लिए भरना पड़ा 27 लाख रुपये का Fine


टिप्पणियां

पुलिस ने एक हफ्ते में 150 लोगों से 100 शब्द का निबंध लिखवाया है. सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत पुलिस को ये आइडिया आया है. पहल के बारे में बताते हुए एडिशनल सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस प्रदीप चौहान ने हिंदुस्तान टाइम्स को बताया, "सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत बिना हेलमेट के दोपहिया वाहन चलाने वालों को पुलिस 100 शब्दों का निबंध लिखवा रही है कि वे हेलमेट क्यों नहीं पहन रहे हैं. उन्होंने बताया कि ये पहल सड़क सुरक्षा सप्ताह के बाद भी जारी रहेगी. इसके अलावा भोपाल पुलिस ने रैली निकाल जागरुकता अभियान चलाया. ऑटो ड्राइवर्स के लिए आंखें चेक कराने के लिए कैंप भी लगाया गया.


 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... दिल्ली में तनाव के बीच एक बार फिर बोले कपिल मिश्रा, 'जिन्होंने बुरहान वानी और अफजल गुरु को आतंकी नहीं माना, वो...'

Advertisement