NDTV Khabar

जब बजट पेश करते हुए अरुण जेटली के साथ हुआ ऐसा, पहले दिया आराम फिर बैठकर पढ़ा था बजट

मोदी सरकार अपने कार्यकाल का पांचवा और आखिरी बजट पेश करेगी. केंद्र सरकार 1 फरवरी को अंतिम बजट पेश करेगी. बजट को लेकर सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जब बजट पेश करते हुए अरुण जेटली के साथ हुआ ऐसा, पहले दिया आराम फिर बैठकर पढ़ा था बजट

मोदी सरकार अपने कार्यकाल का पांचवा और आखिरी बजट पेश होगा. केंद्र सरकार 1 फरवरी को अंतिम बजट पेश करेगी. वित्त मंत्री अरुण जेटली की सेहत खराब होने के चलते पियूष गोयल को वित्त मंत्रालय का कार्यवाहक प्रभार दिया है. पियूष गोयल 2019 का बजट पेश करेंगे.अरुण जेटली अमेरिका के एक हॉस्पिटल में अपना इलाज करा रहे हैं. 2014-15 के बजट में अरुण जेटली ने पीठ दर्द होने के कारण बैठकर बजट पेश किया था. संभवत: यह पहला मौका है जब बजट भाषण बीच में रुका. 

मोदी सरकार के पास चुनाव से पहले 'चौका-छक्का' मारने का आखिरी मौका, पीयूष गोयल के पिटारे में क्या होगा खास, 10 बातें

2014-15 बजट भाषण के दौरान असामान्य स्थिति देखने को मिली थी. वित्त मंत्री अरुण जेटली के पांच मिनट का विराम लेने से लोकसभा में वित्त वर्ष 2014-15 का बजट भाषण थोड़ी देर के लिए रुक गया. मंत्री के अनुरोध को स्वीकार करते हुए लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने पांच मिनट का ब्रेक दिया. 40 मिनट का भाषण देने के बाद वित्तमंत्री थोड़ा थके दिखे और उसके बाद उन्होंने थोड़ा विराम देने का अनुरोध किया.


टिप्पणियां

इंश्योरेंस, रियल, ऑयल एंड एनर्जी समेत इन सेक्टरों को बजट 2019 से क्या है उम्मीदें

सदन की कार्यवाही फिर से शुरू होने के बाद लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि मंत्री थोड़ा अस्वस्थ्य महसूस कर रहे थे, इसलिए विराम दिया गया. उसके बाद उन्होंने बजट बैठकर पढ़ने की अनुमति दे दी. अरुण जेटली को पीठ में दर्द की भी शिकायत थी. उन्हें मेज की ओर झुकते हुए देखा गया था. इससे पहले, उन्हें बजट भाषण के दौरान उन्हें बार-बार पानी पीते देखा गया.  



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement