NDTV Khabar

नदी के अंदर मछली की तरह तैरता है ये शख्स, मुंह से इस तरह करता है शिकार, लोग बोले- 'ये तो Krrish है...'

उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले के मेरापुर गांव के मछुआरा सुघर निषाद के करतब को देख आस-पास के लोग हैरान हैं. वह नदी में कूदकर सिर्फ दोनों हाथों में ही नहीं, बल्कि मुंह में दबाकर भी जिंदा मछली पकड़ लेते हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नदी के अंदर मछली की तरह तैरता है ये शख्स, मुंह से इस तरह करता है शिकार, लोग बोले- 'ये तो Krrish है...'

नदी के अंदर मछली की तरह तैरता है ये शख्स, मुंह से इस तरह करता है शिकार.

उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले के मेरापुर गांव के मछुआरा सुघर निषाद के करतब को देख आस-पास के लोग हैरान हैं. वह नदी में कूदकर सिर्फ दोनों हाथों में ही नहीं, बल्कि मुंह में दबाकर भी जिंदा मछली पकड़ लेते हैं. यह हुनर उनकी जिंदगी में रोटी कमाने का जरिया है. बड़े-बड़े मछुआरे नदी में जाल डालकर भी जब मछलियों को पकड़ पाने में नाकाम साबित होते हैं. ऐसी स्थिति में भी सुघर पानी के अंदर जाकर एक बार में तीन मछलियां तक अपने दोनों हाथों और मुंह से पकड़ कर ले आते हैं.

चलते झूले में हुआ दिल दहला देने वाला हादसा, सीट से उछलकर नीचे गिरे लोग... देखें Video

सुघर ने आईएएनएस से विशेष बातचीत में बताया कि यह कला उसने अपने पिता शिवप्रसाद से सीखी है। उनके यहां मछली बेचने का ही काम होता है. सुघर ने कहा, "बचपन में जब पिता नदी में मछली पकड़ने जाते थे तो मुझे ले जाते थे. वह भी नदी में हाथों से मछली पकड़ते थे. उनकी यह कला मैंने बड़े ध्यान से सीखी है। ज्यादा पैसे न होने के कारण सुघर ने महज कक्षा पांच तक ही पढ़ाई की है."


पाकिस्तानी गेंदबाज ने मारा ऐसा बोल्ड कि जमीन पर गिरा बल्लेबाज, अंपायर बोला- 'नो बॉल...' देखें Video

सुघर ने बताया, "यह कोई जादू नहीं है. इसमें सिर्फ ध्यान देना पड़ता है. पानी में देर तक सांस रोके हुए मछली के पीछे जाना पड़ता है. उसके बाद मछली खुद अपने आप पकड़ में आ जाती है. उन्होंने बताया कि मछली पकड़ने के लिए पानी के अंदर मछली की तरह ही चलना पड़ता है." निषाद ने बताया कि मछली के ऊपर हाथ रखते ही वह रुक जाती है. इस क्रिया-कलाप के दौरान मछलियों ने सुघर को कभी कोई नुकसान नहीं पहुंचाया है.

सोशल मीडिया पर एक्टर से भिड़ गए शोएब अख्तर, बोले- 'बड़ा क्रिकेटर है तू...' मिला ऐसा जवाब

सुघर ने बताया कि वह नहाते समय ही हाथ और मुंह से मछली पकड़ते हैं. यह उनका शौक है. वह लोगों के कहने पर उनकी पसंद की मछलियां भी नदी से निकाल देते हैं. उन्होंने बताया कि उनकी रोजी-रोटी का यही जरिया है. वह रोज 10 से 15 किलो तक मछलियां पकड़ते हैं, जिससे हजार-दो हजार की कमाई हो जाती है. परिवार बड़ा है, इसीलिए वह ज्यादा से ज्यादा पैसे कमाने की कोशिश करते हैं. तैराकी और गोताखोरी की इस अनोखी प्रतिभा के कारण यमुना नदी में जब कभी कोई डूब जाता है तो प्रशासन के अधिकारी इस युवक की मदद लेते हैं. सुघर कई लोगों की जान बचा चुके हैं.

टिप्पणियां

रजनीकांत ने पैरों से पेटिंग करने वाले अपने फैन को बुलाया घर, पूरी की उसकी इच्‍छा, लोग बोले, "ये हैं हमारे थलाईवा"

सुघर के इस अदांज को देखकर लोग बॉलीवुड सुपर स्टार ऋतिक रोशन की फिल्म 'कृष' के किरदार कृष्णा से उनकी तुलना करने लगे हैं. लोग बड़े गौर से उसके हुनर को देखने नदी पर जाते हैं. 24 वर्षीय सुघर की इस प्रतिभा की तारीफ करते हुए लोग उसे 'बुंदेलखंड का फिशरमैन' उपाधि देने लगे हैं.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... कौन हैं मधुरिमा तुली? जो Bigg Boss 13 में विशाल को पतीले से पीटती आ रही हैं नज़र

Advertisement