NDTV Khabar

Viral Video: प्लीज! मुझे रेपिस्ट बनने से बचा लो, बड़ा हो गया तो मैं भी बिगड़ जाऊंगा...

149 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
Viral Video: प्लीज! मुझे रेपिस्ट बनने से बचा लो, बड़ा हो गया तो मैं भी बिगड़ जाऊंगा...

11 अप्रैल को शेयर किया गया यह वीडियो वायरल हो रहा है.

खास बातें

  1. महिलाओं के प्रति अत्याचार को रोकने के लिए बच्चों की अपील
  2. घरेलू हिंसा से लेकर पब्लिक ट्रांसपोर्ट में छेड़छाड़ की ओर दिलाया ध्यान
  3. फेसबुक पर वायरल हो रहा बच्चों का यह वीडियो
नई दिल्ली: बच्चों का एक वीडियो फेसबुक पर वायरल हो रहा है. इस वीडियो में कुछ बच्चों ने कहा है कि उन्हें रेपिस्ट बनने से बचा लिया जाए. इस वीडियो में बच्चे महिलाओं और लड़कियों के ऊपर समाज में हो रहे अत्याचारों की ओर ध्यान दिलाने की कोशिश की है. बच्चों ने बस में छेड़खानी से लेकर घर में एक पिता द्वारा मां पर हाथ उठाए जाने तक की बात को कहा गया है. बच्चे कह रहे हैं कि उन्हें अभी से महिलाओं का सम्मान करना सिखाया जाए. उन्हें महिला के साथ अत्याचार करने से रोका जाए, वे जब बड़े हो जाएंगे तो तो शायद देर हो जाए. केगन पिंटो (Keegan Pinto) के फेसबुक पेज से 11 अप्रैल को शेयर किया गया यह वीडियो काफी तेजी से शेयर किया जा रहा है.
 
 
 
मालूम हो कि भारतीय महिलाओं को अपराधों के विरुद्ध सुरक्षा प्रदान करने तथा उनकी आर्थिक तथा सामाजिक दशाओं में सुधार करने हेतु ढ़ेर सारे कानून बनाए गए हैं. इनमें अनैतिक व्यापार (निवारण) अधिनियम 1956, दहेज प्रतिषेध अधिनियम 1961, कुटुम्ब न्यायालय अधिनियम 1984, महिलाओं का अशिष्ट-रुपण प्रतिषेध अधिनियिम 1986, गर्भाधारण पूर्व लिंग-चयन प्रतिषेध अधिनियम 1994, सती निषेध अधिनियम 1987, राष्ट्रीय महिला आयोग अधिनियम 1990, घरेलू हिंसा से महिलाओं का संरक्षण अधिनियम 2005, बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम 2006, कार्यस्थल पर महिलाओं का लैंगिक उत्पीड़न (निवारण, प्रतिषेध, प्रतितोष) अधिनियम 2013 प्रमुख हैं.

इसके अलावा दिल्ली में 16 दिसंबर, 2012 को हुई निर्भया रेप कांड के बाद ‘दंड विधि (संशोधन) 2013 पारित किया गया और यह कानून 3 अप्रैल, 2013 को देश में लागू हो गया. इस कानून में प्रावधान किया गया है कि तेजाबी हमला करने वालों को 10 वर्ष की सजा और बलात्कार के मामले में अगर पीड़ित महिला की मृत्यु हो जाती है तो बलात्कारी को न्यूनतम 20 वर्ष की सजा होगी. इसके बाद भी देश में आए दिन रेप, छेड़छाड़, रेप जैसी सैंकड़ो वारदातें होती हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement