यह ख़बर 05 जून, 2013 को प्रकाशित हुई थी

'चुनाव आयोग ऐसी खूबसूरत लड़की, जिसकी फरमाइशें खत्म नहीं होतीं'

'चुनाव आयोग ऐसी खूबसूरत लड़की, जिसकी फरमाइशें खत्म नहीं होतीं'

खास बातें

  • कलकत्ता हाइकोर्ट में पंचायती चुनावों को लेकर चुनाव आयोग और राज्य सरकार के मुकदमे में महिलाएं 'पिस' गईं। राज्य के महाधिवक्ता बिमल चटर्जी ने चुनाव आयोग को ऐसी खूबसूरत लड़की करार दिया, जो रोज नई फरमाइश करती है।
कोलकाता:

कलकत्ता हाइकोर्ट में पंचायती चुनावों को लेकर चुनाव आयोग और राज्य सरकार के मुकदमे में महिलाएं 'पिस' गईं। राज्य के महाधिवक्ता (एडवोकेट जनरल) बिमल चटर्जी ने चुनाव आयोग को ऐसी खूबसूरत लड़की करार दिया, जो रोज नई फरमाइश करती है।

यह टिप्पणी कहीं और नहीं, बल्कि अदालत में की गई और इसके निशाने पर थीं महिलाएं। इत्तेफाक से राज्य चुनाव आयोग की अध्यक्ष भी एक महिला मीरा पांडेय हैं। चटर्जी ने कहा, सरकार के अनुसार आयोग का रवैया मांगों के मामले में एकपक्षीय और मनमाना रहा है तथा समय-समय पर मांगें बदल रहीं हैं।

महाधिवक्ता का बयान ऐसे समय में आया है, जब राज्य में पंचायत चुनाव कराने के मुद्दों पर राज्य सरकार और चुनाव आयोग के बीच गतिरोध है। अदालत से बाहर आकर चुनाव आयोग के वकील ने इस बयान की तीखी आलोचना की। बाद में महाधिवक्ता ने सफाई देते हुए कहा कि उनकी टिप्पणी संस्था को लेकर थी, न कि राज्य निर्वाचन आयुक्त मीरा पांडेय को लेकर।

Newsbeep

विपक्षी कांग्रेस ने चटर्जी के इस्तीफे की मांग करते हुए कहा कि उनके बयान से महिलाओं का अपमान हुआ है। पश्चिम बंगाल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष प्रदीप भट्टाचार्य ने कहा कि हम अपमानजनक और गैरजरूरी टिप्पणी के लिए उनके इस्तीफे की मांग करते हैं। उन्होंने कहा कि राज्य की जनता महाधिवक्ता के बयान को हल्के में नहीं लेगी।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


तृणमूल कांग्रेस सांसद तथा वरिष्ठ वकील कल्याण बनर्जी ने कहा कि महाधिवक्ता द्वारा अदालत कक्ष में इस तरह की टिप्पणी करना शोभा नहीं देता। वहीं, सीपीएम नेता वृंदा करात ने भी कहा कि बंगाल महिलाओं के सम्मान के लिए जाना जाता है। वहां से ऐसे बयान वाकई अफसोस पैदा करते हैं।