वर्ल्ड हार्ट डे 2018: इन 8 संकेतों को ना करें नजर अंदाज़, Heart Attack के हैं ये शुरुआती लक्षण

World Heart Day 2018: इन रोगों का कारण सिर्फ तनाव है और इससे मुक्ति पाने के लिए ये लोग धूम्रपान, नींद की दवाएं, शराब का सेवन करते हैं. जो उन्हें दिल की बीमारी की तरफ ले जा रही है.

वर्ल्ड हार्ट डे 2018: इन 8 संकेतों को ना करें नजर अंदाज़, Heart Attack के हैं ये शुरुआती लक्षण

Heart Attack के हैं ये शुरुआती लक्षण और बचाव

नई दिल्ली:

World Heart Day 2018: वो दौर गया जब सिर्फ 50 साल की उम्र के ही लोगों को हार्ट अटैक का खतरा होता था. क्योंकि अब 30 के उम्र के लोग भी इस खतरनाक बीमारी की चपेट में आने लगे हैं. जी हां, 30 से 40 उम्र के लोगों को दिल संबंधी बीमारियों होने लगी है. इन रोगों का कारण सिर्फ तनाव है और इससे मुक्ति पाने के लिए ये लोग धूम्रपान, नींद की दवाएं, शराब का सेवन करते हैं. जो उन्हें दिल की बीमारी की तरफ ले जा रही है. आपको ये बीमारी ना हो और आप इससे खुद को बचाने के लिए पहले से ही सतर्क कर सकें, इसीलिए हृदय रोगों के लक्षण को बारे में बालाजी एक्शन मेडिकल इंस्टीट्यूट के सीनियर इंटरवेंशनल कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. अमर सिंघल दिल की बीमारी के शुरुआती लक्षण बता रहे हैं जिन्हें समय से पहले जान गंभीर दिल की बीमारियों से बचा जा सकता है. 

वर्ल्ड हार्ट डे 2018: आपके दिल के दुश्मन हैं ये 5 FOOD, ना खाएं तो ही बेहतर​

1. छाती में बेचैनी महसूस होना
यदि आपकी आर्टरी ब्लॉक है या फिर हार्ट अटैक है तो आपको छाती में दबाव महसूस होगा और दर्द के साथ ही खिंचाव महसूस होगा.

2. मतली, हार्टबर्न और पेट में दर्द होना
दिल संबंधी कोई भी गंभीर समस्या होने से पहले कुछ लोगों को मितली आना, सीने में जलन, पेट में दर्द होना या फिर पाचन संबंधी दिक्कतें आने लगती हैं.

वर्ल्ड हार्ट डे 2018: Free में होता है दिल की सभी बीमारियों का इलाज, ये है भारत का इकलौता अस्पताल​

3. हाथ में दर्द होना
कई बार दिल के रोगी को छाती और बाएं कंधे में दर्द की शिकायत होने लगती है. ये दर्द धीरे-धीरे हाथों की तरफ नीचे की ओर जाने लगता है.

4. कई दिनों तक कफ होना
यदि आपको काफी दिनों से खांसी-जुकाम हो रहा है और थूक सफेद या गुलाबी रंग का हो रहा है तो ये हार्ट फेल का एक लक्षण है.

वर्ल्ड हार्ट डे 2018: अपने खान-पान में थोड़ा बदलाव, दिल को रख सकता है हमेशा हेल्दी, पढ़िए ये EXPERT TIPS
 
5. सांस लेने में दिक्कतें होना
सांस लेने में दिक्कतें होना या फिर कम सांस आना हार्ट फेल होने का बड़ा लक्षण है. 

6. पसीना आना
सामान्य से अधिक पसीना आना खासतौर पर तब जब आप कोई शारीरिक क्रिया नहीं कर रहे तो ये आपके लिए एक चेतावनी हो सकती है.

7. पैरों में सूजन
पैरों, टखनों, तलवों और एंकल्स में सूजन आने का मतलब ये भी हो सकता है कि आपके दिल में रक्त का संचार ठीक से नहीं हो रहा है. 

8. चक्कर आना या सिर घूमना
कई बार चक्कर आने, सिर घूमने, बेहोश होने, बहुत थकान होने जैसे लक्षण भी एक चेतावनी हैं.

World Heart Day 2018: दिल को हमेशा Happy रखने के लिए अपनाएं ये 5 ट्रिक्स

इन 8 लक्षणों को जानने के बाद जानें दिल के रोग से बचाव के बारे में. 

इससे बचाव पर डॉ. अमर सिंघल ने कहा, "तनाव से बचें, एक्सरसाइज करके भी दिल का ख्याल रखा जा सकता है. इसके लिए आपको नियमित तौर पर एक्सरसाइज करनी होंगी. दिल से संबंधित किसी भी एक्सरसाइज के लिए डॉक्टर की सलाह भी जरूरी है."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उन्होंने कहा, "दिल की सलामती के लिए ऑक्सीजन की सप्लाई सही तरीके से हो इसके लिए वॉल्व्स का स्वस्थ और खुला होना बहुत जरूरी है. खड़े होकर की जाने वाली एक्सरसाइज करें, जिससे हृदयतंत्र को लाभ पहुंचे, गहरी सांस लेने से छाती में फैलाव होता है, जिससे दिल को भरपूर ऑक्सीजन मिलती है."

VIDEO: दिल की बीमारी, हार्ट ब्लॉक