NDTV Khabar

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन: तस्वीरों में देखें उनका सफर

भारत रत्न, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन हो गया है. देश की राजनीति के सबसे करिश्माई और लोकप्रिय चेहरों में से एक वाजपेयी ने 93 साल की उम्र में दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में अंतिम सांसें लीं.
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन: तस्वीरों में देखें उनका सफर
अटल बिहारी वाजपेयी का जन्म मध्य प्रदेश के ग्वालियर में 25 दिसम्बर 1924 को हुआ था. उनके पिता कृष्ण बिहारी बाजपेयी शिक्षक थे. उनकी माता कृष्णा थीं. उनके पिता मध्य प्रदेश में शिक्षक थे.
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन: तस्वीरों में देखें उनका सफर
अटल बिहार वाजपेयी ने अपनी प्रारम्भिक शिक्षा गोरखी विद्यालय से प्राप्त की और बाद में आगे की पढाई के लिए ग्वालियर के विक्टोरिया कॉलेज से हिन्दी, इंग्लिश और संस्कृत विषय से B.A की शिक्षा प्राप्त की. फिर कानपुर के दयानंद एंग्लो-वैदिक कॉलेज से पोलिटिकल साइंस से M.A. किया.
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन: तस्वीरों में देखें उनका सफर
अटल बिहारी वाजपेयी सन 1939 में एक स्वयंसेवक के रूप में राष्ट्रिय स्वयंसेवक संघ (RSS) में शामिल हो गये.
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन: तस्वीरों में देखें उनका सफर
अगस्त 1942 में अटल बिहारी वाजपेयी जेल भी गए.
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन: तस्वीरों में देखें उनका सफर
अटल बिहारी वाजपेयी 1951 में भारतीय जन संघ से जुड़े.
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन: तस्वीरों में देखें उनका सफर
अटल बिहारी वाजपेयी भारतीय जनसंघ के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी के करीबी सहयोगी बने. उन्होंने 1957 में संसद में अपना पहला चुनाव जीता.
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन: तस्वीरों में देखें उनका सफर
1977 में अटल बिहारी वाजपेयी ने मोरारजी देसाई की जनता पार्टी सरकार में विदेश मंत्री के रूप में कार्य किया. 1980 में जनता पार्टी टूट गई. इसके बाद बीजेपी अस्तित्व में आई. वाजपेयी इसके पहले अध्यक्ष बने.
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन: तस्वीरों में देखें उनका सफर
अटल बिहार वाजपेयी चार दशकों से अधिक के लिए संसद के सदस्य रहे. अटल बिहारी वाजपेयी लोकसभा में नौ बार चुने गए और राज्यसभा में दो बार चुने गए.
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन: तस्वीरों में देखें उनका सफर
अटल बिहारी वाजपेयी एकमात्र संसद सदस्य हैं जो चार अलग-अलग राज्यों - उत्तर प्रदेश, गुजरात, मध्य प्रदेश और दिल्ली से चुने गए.
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन: तस्वीरों में देखें उनका सफर
अटल बिहारी वाजपेयी पहली बार 1996 में प्रधानमंत्री बने. उन्होंने 13 दिनों के बाद इस्तीफा दे दिया.
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन: तस्वीरों में देखें उनका सफर
1998 में वाजपेयी दूसरी बार प्रधानमंत्री बने. हालांकि 13 महीने बाद एआईएडीएमके के समर्थन वापस लेने के बाद उन्हें फिर से इस्तीफा देना पड़ा.
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन: तस्वीरों में देखें उनका सफर
1999 में चुनाव फिर से हुए और इस बार एनडीए ने बड़े बहुमत के साथ जीत हासिल की. इस बार साल 2004 तक अटल बिहारी वाजपेयी प्रधानमंत्री रहे.
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन: तस्वीरों में देखें उनका सफर
वाजपेयी ने अपने कार्यकाल में राष्ट्रीय राजमार्ग विकास परियोजना सहित कई आर्थिक सुधारों और विकास परियोजनाओं की शुरुआत की.
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन: तस्वीरों में देखें उनका सफर
11 मई, 1998 को तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने पोखरण में सफल परीक्षण के बाद भारत को एक पूर्ण परमाणु राज्य घोषित करने के लिए प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई.
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन: तस्वीरों में देखें उनका सफर
प्रधानमंत्री के रूप में अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल में कारगिल संघर्ष, भारतीय एयरलाइंस उड़ान आईसी 814 का अपहरण और 2001 में संसद पर हमला जैसे मामले भी हुए.
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन: तस्वीरों में देखें उनका सफर
वाजपेयी एक अच्छे वक्ता थे. लाल किले से उन्होंने स्वतंत्रता दिवस पर कहा था, 'मेरे पास भारत के लिए एक दृष्टिकोण है: भारत भूख और भय से मुक्त है, भारत निरक्षरता से मुक्त है.'
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन: तस्वीरों में देखें उनका सफर
वाजपेयी को 1992 में पद्म विभूषण से नवाजा गया. उन्हें लोकमान्य तिलक पुरस्कार और सर्वश्रेष्ठ संसदीय पुरस्कार से 1994 में सम्मानित किया गया.
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन: तस्वीरों में देखें उनका सफर
भारत के राष्ट्रपति द्वारा अटल बिहारी वाजपेयी को भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया गया था.

Advertisement