Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

एम करुणानिधि: दुनिया को अलविदा कह गया राजनीति का एक और दिग्‍गज

डीएमके नेता एम करुणानिधि का निधन हो गया. 94 साल के करुणानिधि 28 जुलाई से अस्पताल में भर्ती थे.
एम करुणानिधि: दुनिया को अलविदा कह गया राजनीति का एक और दिग्‍गज
तमिलनाडु में जयललिता और करुणानिधि का लंबा दौर चला है. 5 दिसंबर 2016 को जयललिता के निधन के बाद तमिलनाडु की राजनीति अनिश्चतता से गुज़र रही थी. 5 बार मुख्यमंत्री रहे एम करुणानिधि के निधन ने राज्य की राजनीति का मैदान खुला छोड़ दिया है.
एम करुणानिधि: दुनिया को अलविदा कह गया राजनीति का एक और दिग्‍गज
10 फरवरी 1969 को करुणानिधि पहली बार मुख्यमंत्री बने थे.
एम करुणानिधि: दुनिया को अलविदा कह गया राजनीति का एक और दिग्‍गज
1977 के बाद से तमिलनाडु में शह-मात का सिलसिला चलता रहा. अपने 60 साल से ज्यादा के राजनीतिक करियर में करुणानिधि पांच बार तमिलनाडु के सीएम बने.
एम करुणानिधि: दुनिया को अलविदा कह गया राजनीति का एक और दिग्‍गज
एमजी रामचंद्रन और जय जयललिता की तरह, करुणानिधि ने खुद को राजनीति में समर्पित करने के लिए फिल्मों में अपना शानदार करियर छोड़ दिया.
एम करुणानिधि: दुनिया को अलविदा कह गया राजनीति का एक और दिग्‍गज
करुणानिधि (M Karunanidhi) पांच बार तमिलनाडु के मुख्यमंत्री रह चुके हैं. उनका कार्यकाल 1969–71, 1971–76, 1989–91, 1996–2001 और 2006–2011 के बीच था.
एम करुणानिधि: दुनिया को अलविदा कह गया राजनीति का एक और दिग्‍गज
एमआरआर की मौत के बाद 1989 में एम करुणानिधि सत्ता लौटे.
एम करुणानिधि: दुनिया को अलविदा कह गया राजनीति का एक और दिग्‍गज
करुणानिधि ने 20 वर्ष की उम्र में तमिल फिल्म उद्योग की कंपनी 'ज्यूपिटर पिक्चर्स' में पटकथा लेखक के रूप में अपना करियर शुरू किया था.
एम करुणानिधि: दुनिया को अलविदा कह गया राजनीति का एक और दिग्‍गज
करुणानिधि की राजनीति में रूचि बचपन से ही थी. राजनीति में प्रवेश की प्रेरणा उन्हें जस्टिस पार्टी के अलगिरिस्वामी के एक भाषण से मिली थी.

Advertisement