NDTV Khabar
होम |   विषय 

गुप्तेश्वर पांडेय


'गुप्तेश्वर पांडेय' - 23 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • बिहार चुनाव : बक्सर में पूर्व हवलदार, सिपाही के बेटे और एक बाहुबली का दिलचस्प मुकाबला

    बिहार चुनाव : बक्सर में पूर्व हवलदार, सिपाही के बेटे और एक बाहुबली का दिलचस्प मुकाबला

    Bihar Election 2020: बक्सर में पूर्व डीजीपी, पूर्व हवलदार, सिपाही के बेटे और एक बाहुबली की सियासत की चर्चा हर तरफ चल रही है. कांग्रेस के बाहुबली मुन्ना तिवारी और मार्क्सवादी पार्टी की एंट्री ने बक्सर के चुनाव को दिलचस्प बना दिया है. BJP-JDU गठबंधन ने बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय की जगह पुलिस के पूर्व हवलदार परशुराम चतुर्वेदी को बक्सर विधानसभा के चुनावी मैदान में उतारा है. पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय के आशीर्वाद और VIP पार्टी के नेताओं के साथ परशुराम चतुर्वेदी मल्लाहों की बस्ती में चुनाव प्रचार कर रहे हैं.

  • पूर्व DGP पर भारी पड़े पूर्व कॉन्स्टेबल, BJP ने परशुराम चतुर्वेदी को बनाया बक्सर से उम्मीदवार

    पूर्व DGP पर भारी पड़े पूर्व कॉन्स्टेबल, BJP ने परशुराम चतुर्वेदी को बनाया बक्सर से उम्मीदवार

    परशुराम चतुर्वेदी बिहार पुलिस के पूर्व जवान हैं, जिन्होंने सीआईडी समेत कई विभागों में अपनी सेवा दी है. वो वर्षों से बक्सर क्षेत्र में पार्टी के लिए काम कर रहे थे.

  • क्या गुप्तेश्वर पांडेय को टिकट नीतीश के इन सिपहसालारों के कारण नहीं मिला?

    क्या गुप्तेश्वर पांडेय को टिकट नीतीश के इन सिपहसालारों के कारण नहीं मिला?

    बिहार के पूर्व पुलिस महानिदेशक (EX DGP) गुप्तेश्वर पांडेय को विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election 2020) लड़ने के लिए जेडीयू, भाजपा या किसी अन्य सहयोगी पार्टी से टिकट नहीं मिला. अटकलें हैं कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कुछ सिपहसालारों के कारण पूर्व डीजीपी की चुनाव लड़ने की ख्वाहिश अधूरी रह गई.

  • बिहार चुनाव: पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय को न तो जेडीयू ने, न ही बीजेपी ने टिकट दिया

    बिहार चुनाव: पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय को न तो जेडीयू ने, न ही बीजेपी ने टिकट दिया

    Bihar Election 2020: बिहार के पुलिस महानिदेशक (DGP) के पद से वायलेंटरी रिटायरमेंट लेकर राजनीति में आए पूर्व आईपीएस गुप्तेश्वर पांडेय (Gupteshwar Pandey)  को फिलहाल निराशा ही हाथ लग रही है. गुप्तेश्वर पांडेय को बीजेपी से टिकट नहीं मिला है. इससे पहले जनता दल यूनाइटेड के उम्मीदवारों की सूची में भी उनका कहीं नाम नहीं था. वे बक्सर से बीजेपी का टिकट चाहते थे. गुप्तेश्वर पांडेय ने पिछले माह स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति (VRS) ले ली थी. उन्होंने वीआरएस के लिए आवेदन दिया था जिसको तुरंत ही स्वीकृति मिल गई. बताया जाता है कि यह कदम उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के निर्देश पर अपनी राजनीतिक पारी शुरू करने के लिए उठाया. केंद्र ने तुरंत ही उनके वीआरएस को स्वीकार कर लिया. इसके बाद उनके विधानसभा चुनाव लड़ने की पूरी संभावनाएं जताई जा रही थीं. 

  • गुप्तेश्वर पांडे के बहाने फडणवीस पर सेना का निशाना- 'महाराष्ट्र का अपमान करने वाले का चुनाव प्रचार करेंगे?'

    गुप्तेश्वर पांडे के बहाने फडणवीस पर सेना का निशाना- 'महाराष्ट्र का अपमान करने वाले का चुनाव प्रचार करेंगे?'

    देशमुख ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, 'गुप्तेश्वर पांडे बिहार में चुनाव लड़ने जा रहे हैं. मैं देवेंद्र फडणवीस से पूछना चाहता हूं कि क्या वो महाराष्ट्र का अपमान करने वाले पांडे के लिए चुनाव प्रचार करेंगे?'

  • बिहार चुनाव : CM नीतीश कुमार से मिले पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडेय, JDU में जल्द शामिल होने के आसार

    बिहार चुनाव : CM नीतीश कुमार से मिले पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडेय, JDU में जल्द शामिल होने के आसार

    Bihar Election 2020: पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय शनिवार को जनता दल यूनाइटेड के दफ्तर गए. उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात भी की, लेकिन अभी पार्टी में शामिल नहीं हुए हैं. हालांकि, कहा जा रहा है कि पांडेय जल्द ही नीतीश की पार्टी में शामिल होंगे.

  • Robinhood Bihar Ke गाने को लेकर इस संगठन ने जताई आपत्ती, बॉलीवुड डायरेक्टर बोले- शर्मनाक

    Robinhood Bihar Ke गाने को लेकर इस संगठन ने जताई आपत्ती, बॉलीवुड डायरेक्टर बोले- शर्मनाक

    ओनिर (Onir) ने अपने ट्वीट में गुप्तेश्वर पांडेय (Gupteshwar Pandey) पर बने गाने 'रॉबिनहुड बिहार के' (Robinhood Bihar Ke) को शर्मनाक बताया. उन्होंने लिखा, "शर्मनाक चीज..."

  • बिहार के पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडे ने पूछा- अगर राजनीति में आऊं तो क्या नुकसान?

    बिहार के पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडे ने पूछा- अगर राजनीति में आऊं तो क्या नुकसान?

    बिहार के पूर्व पुलिस महानिदेशक (Bihar Ex DGP) गुप्तेश्वर पांडे (Gupteshwar Pandey) ने बुधवार को घोषणा की कि अगर मौका मिला तो वह चुनाव लड़ेंगे क्योंकि वह राजनीति को लोगों की सेवा करने का सबसे बड़ा मंच मानते हैं. पांडे ने मंगलवार को स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति (VRS) ले लिया था. पांडे ने फरवरी 2021 में अपनी सेवानिवृत्ति से पांच महीने पहले मंगलवार को पुलिस सेवा से VRS ले लिया. मंगलवार की देर शाम राज्य के गृह विभाग द्वारा जारी एक अधिसूचना के अनुसार VRS के लिए उनके अनुरोध को राज्यपाल फागू चौहान ने मंजूरी दे दी थी.

  • बिहार चुनाव: दो और पूर्व डीजी लड़ सकते हैं इलेक्शन, एक ने पिछले महीने ही थामा जेडीयू का दामन

    बिहार चुनाव: दो और पूर्व डीजी लड़ सकते हैं इलेक्शन, एक ने पिछले महीने ही थामा जेडीयू का दामन

    31 जुलाई को डीजी (पुलिस भवन निर्माण) पद से रिटायर हुए 1987 बैच के आईपीएस अफसर सुनील कुमार ने भी राजनीति की राह पकड़ ली है.

  • 'बिहार के रॉबिनहु़ड' DGP गुप्तेश्वर पांडेय का आया म्यूज़िक वीडियो, बिहार चुनाव में दिखेगा कुछ अलग अंदाज?

    'बिहार के रॉबिनहु़ड' DGP गुप्तेश्वर पांडेय का आया म्यूज़िक वीडियो, बिहार चुनाव में दिखेगा कुछ अलग अंदाज?

    गुप्तेश्वर पांडेय अपने रिटायरमेंट और एक म्यूज़िक वीडियो को लेकर चर्चा में आ गए हैं. उन्होंने मंगलवार को वीआरएस यानी स्वैच्छिक रिटायरमेंट ले लिया. उनके वीआरएस को केंद्र से मंजूरी भी मिल गई है. दिलचस्प है कि इसी दिन उनके नाम से एक म्यूज़िक वीडियो भी रिलीज हुआ है.

  • Robinhood Bihar Ke Song: बिग बॉस एक्स कंटेस्टेंट ने बिहार के पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडे पर बनाया गाना, वायरल हुआ Video

    Robinhood Bihar Ke Song: बिग बॉस एक्स कंटेस्टेंट ने बिहार के पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडे पर बनाया गाना, वायरल हुआ Video

    Robinhood Bihar Ke Release: बिहार के पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय (Gupteshwar Pandey) ने मंगलवार को स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ले ली है. उन्होंने वीआरएस के लिए आवेदिन दिया, जिसको तुरंत ही स्वीकृति भी मिल गई है.

  • रिया चक्रवर्ती की 'औकात' वाला बयान देने वाले बिहार के DGP ने छोड़ी पुलिस की नौकरी, अब बनेंगे नेता

    रिया चक्रवर्ती की 'औकात' वाला बयान देने वाले बिहार के DGP ने छोड़ी पुलिस की नौकरी, अब बनेंगे नेता

    बिहार (Bihar) के पुलिस महानिदेशक (DGP) गुप्तेश्वर पांडेय (Gupteshwar Pandey) ने मंगलवार को स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति (VRS) ले लिया. उन्होंने वीआरएस के लिए आवेदन दिया था जिसको तुरंत ही स्वीकृति मिल गई. यह कदम उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के निर्देश पर अपनी राजनीतिक पारी शुरू करने के लिए उठाया है. केंद्र ने उनके वीआरएस को स्वीकार कर लिया. अब वे जल्द ही विधिवत रूप से राजनीतिक पारी शुरू करने की घोषणा कर सकते हैं. वे विधानसभा चुनाव लड़ेंगे. पांडेय को वीआरएस दे दिया गया है और उनकी जगह एसके सिंघल (SK Singhal) बिहार के नए डीजीपी बनाए गए हैं.

  • रिया चक्रवर्ती की गिरफ्तारी पर बोले बिहार के DGP गुप्तेश्वर पांडेय- लोग जितने मासूम दिखते हैं, उतने होते नहीं हैं

    रिया चक्रवर्ती की गिरफ्तारी पर बोले बिहार के DGP गुप्तेश्वर पांडेय- लोग जितने मासूम दिखते हैं, उतने होते नहीं हैं

    सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में ड्रग्स कनेक्शन को लेकर गिरफ्तार हुईं रिया चक्रवर्ती को लेकर बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि मामले में धीरे-धीरे लोग एक्सपोज़ हो रहे हैं और सच धीरे-धीरे सामने आ रहा है. बता दें कि गुप्तेश्वर पांडेय तब चर्चा में आ गए थे, जब उन्होंने रिया चक्रवर्ती को लेकर 'औकात' वाला बयान दिया था.

  • बिहार : पूर्व सैनिक की हत्या के बाद उसका परिवार अपराधियों की दहशत में गांव छोड़ने को मजबूर

    बिहार : पूर्व सैनिक की हत्या के बाद उसका परिवार अपराधियों की दहशत में गांव छोड़ने को मजबूर

    बिहार (Bihar) के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय प्रदेश से बाहर हुई घटनाओं में खूब बयान दे रहे हैं. अपराधी को जमीन के नीचे से भी बाहर निकाल लेने की बात बोल रहे हैं लेकिन खुद उनके राज्य में न तो अपराध पर नियंत्रण है और न ही अपराधी पुलिस की पकड़ में आ रहे हैं. इससे पीड़ित परिवार के गांव छोड़ने की नौबत आ रही है. मधेपुरा (Madhepura) में एक रिटायर्ड सैनिक की गोली मारकर हत्या हो जाने के बाद पुलिस कुछ नहीं कर पाई, जिससे दहशत में जी रहे पूरे परिवार को गांव छोड़ना पड़ रहा है. मेजर पिता की हत्या के बाद परिवार की सुरक्षा के लिए उनके फौजी पुत्र ने भी नौकरी छोड़ने का निर्णय ले लिया है.

  • सुशांत सिंह मौत मामला: CBI जांच की सिफारिश करके नीतीश कुमार ने एक तीर से साधे कई निशाने..

    सुशांत सिंह मौत मामला: CBI जांच की सिफारिश करके नीतीश कुमार ने एक तीर से साधे कई निशाने..

    नीतीश को जैसे ही अंदाज़ा हुआ कि यह मुद्दा तूल पकड़ता जा रहा है और बिहार के युवा वर्ग ख़ासकर राजपूत जाति के लोगों में इस बात को लेकर काफ़ी आक्रोश है. तब नीतीश ने बिना समय गंवाए इस बारे में निर्णय ले लिया. जैसे ही परिवार वालों ने प्राथमिकी दर्ज कराने की इच्छा ज़ाहिर की तो न केवल नीतीश ने एफ़आइआर दर्ज कराने के लिए खुद से पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय को बोला बल्कि तुरंत पटना पुलिस की एक टीम मुंबई भेजने का निर्देश भी दिया.

  • सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच 'पटना पुलिस VS मुंबई पुलिस' में उलझ रही है?

    सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच 'पटना पुलिस VS मुंबई पुलिस' में उलझ रही है?

    सुशांत सिंह राजपूत के मामले में पटना और मुंबई आमने-सामने है. ताजा मामले में पटना पुलिस के एसपी बिनय तिवारी को क्ववरंटाइन कर लिया गया है. उनको इस मामले की जांच के लिए बिहार सरकार ने नियुक्त किया है. लेकिन एयरपोर्ट से बाहर आने के बाद कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए बनाए प्रोटोकॉल के तहत गोरेगांव स्थित एक गेस्ट हाउस में रखा गया है. हालांकि इससे पहले भी एक टीम बिहार से मुंबई घरेलू फ्लाइट से आई थी लेकिन उसके साथ इस तरह का बर्ताव नहीं किया गया था. इसलिए इस ताजा घटनाक्रम पर सवाल उठ रहे हैं. वहीं बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने भी बयान दिया है कि जो हुआ ठीक नहीं हुआ है और इस पर डीजीपी वहां (मुंबई) के अधिकारियों से बात करेंगें. लेकिन बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय भी इस पूरे प्रकरण से खासे नाराज हैं. उनका कहना है कि बिहार के पुलिस के एसपी को जबरदस्ती क्वरंटाइन किया गया है. 

  • सुशांत सिंह राजपूत मामले में जांच कर रहे सीनियर पुलिस अफसर को मुंबई में "जबरदस्ती क्वॉरंटीन" किया गया

    सुशांत सिंह राजपूत मामले में जांच कर रहे सीनियर पुलिस अफसर को मुंबई में

    बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने रविवार को आरोप लगाया कि बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच के लिए पटना से मुंबई गए आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी को "जबरन क्वॉरंटीन" किया गया है. तिवारी बिहार पुलिस की एक टीम का नेतृत्व कर रहे हैं. पटना में सुशांत के पिता द्वारा दायर शिकायत के आधार पर ये टीम मुंबई में मामले की जांच करने के लिए पहुंची है.

  • Coronavirus: लॉकडाउन के बीच जहानाबाद SDPO को दोस्तों के साथ मछली पार्टी करना पड़ा महंगा, दर्ज हुई FIR

    Coronavirus: लॉकडाउन के बीच जहानाबाद SDPO को दोस्तों के साथ मछली पार्टी करना पड़ा महंगा, दर्ज हुई FIR

    शिक्षा मंत्री के स्टाफ पिंटू यादव को हिरासत में लेकर जहानाबाद के एसपी मनीष पूछताछ भी कर रहे है. बताते चलें कि बिहार के शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा के स्टाफ पिंटू यादव के लॉक डाउन और सोशल डिस्टेंस की धज्जियां उड़ाकर मछली पार्टी का आयोजन किया था. अपने नए घर में हुई मछली पार्टी में एसडीपीओ के साथ-साथ जहानाबाद के कई चेहरे और ग्रामीणों समेत करीब सौ लोग शामिल थे.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com