NDTV Khabar

 global rankings


' global rankings' - 13 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • UGC ने कहा- वैश्विक विश्वविद्यालय रैकिंग में गायब है भारतीय दृष्टिकोण

    UGC ने कहा- वैश्विक विश्वविद्यालय रैकिंग में गायब है भारतीय दृष्टिकोण

    विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) के अध्यक्ष ने सोमवार को कहा कि केंद्र वैश्विक एजेंसियों के मापदंड में संशोधन के लिए उनके साथ बातचीत कर रहा है ताकि जब वे शैक्षणिक संस्थानों की वार्षिक रैकिंग तैयार करें तो, हाशिये पर रहने वाले वर्गों को शिक्षा प्रदान करने में भारतीय विश्वविद्यालयों के प्रयासों की अनदेखी न हो. यूजीसी अध्यक्ष डी पी सिंह ने कहा कि वैश्विक रैकिंग एजेंसियां मोटे तौर पर वैश्विक सहभागिता मापदंड पर भरोसा करती हैं, उनमें से कुछ ऐसे हैं जो भारतीय विश्वविद्यालयों में नहीं हैं.

  • World University Rankings 2020: वर्ल्ड रैंकिंग की टॉप 300 लिस्ट में भारत की एक भी यूनिवर्सिटी नहीं, ऑक्सफोर्ड फिर से टॉप पर

    World University Rankings 2020: वर्ल्ड रैंकिंग की टॉप 300 लिस्ट में भारत की एक भी यूनिवर्सिटी नहीं, ऑक्सफोर्ड फिर से टॉप पर

    ग्‍लोबल रैंकिंग 2020 (Global University Rankings 2020) की टॉप 300 की लिस्ट में भारत की एक भी यून‍िवर्सि‍टी शाम‍िल नहीं है. 2012 के बाद ऐसा पहली बार हुआ है जब भारत की कोई भी यून‍िवर्सि‍टी इस लिस्ट में जगह नहीं बना पाई है. हालांकि ओवरऑल रैंकिंग (World University Rankings 2020) में पिछले साल के मुकाबले भारतीय यूनिवर्सिटी की संख्‍या इस बार ज्‍यादा है.

  • World Talent Ranking 2018 में भारत दो पायदान नीचे खिसका, स्विट्जरलैंड टॉप पर कायम

    World Talent Ranking 2018 में भारत दो पायदान नीचे खिसका, स्विट्जरलैंड टॉप पर कायम

    प्रतिभाओं को आकर्षित, विकसित और उन्हें अपने यहां बनाए रखने के मामले में भारत की वैश्विक रैंकिंग में इस बार गिरावट देखने को मिली है. बिजनेस स्कूल ऑफ स्विट्जरलैंड की वार्षिक वैश्विक प्रतिभा रैंकिंग में भारत दो पायदान फिसलकर 53वें स्थान पर आ गया है. हालांकि, इस मामले में स्विट्जरलैंड अब भी पहले स्थान पर बना हुआ है. स्विट्जरलैंड के प्रमुख बिजनेस स्कूल आईएमडी ने यह सूची जारी की है. एशिया में सिंगापुर सूची में सबसे ऊपर है. वैश्विक सूची में वह 13वें स्थान पर है. इस सूची में प्रतिभाओं के विकास, उन्हें आकर्षित करने और अपने साथ जोड़े रखने के आधार पर 63 देशों को रैंकिंग दी गई है.

  • QS ASIA University Rankings 2019 में शामिल हुई जिंदल यूनिवर्सिटी

    QS ASIA University Rankings 2019 में शामिल हुई जिंदल यूनिवर्सिटी

    जिंदल ग्लोबल यूनीवर्सिटी (OP Jindal Global University) ने क्यूएस एशिया यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2019 (QS ASIA University Rankings 2019) में जगह बनाई है. क्यूएस एशिया यूनिवर्सिटी रैंकिंग एशिया महाद्वीप के प्रमुख विश्वविद्यालयों की वार्षिक रैंकिंग बताता है. विश्वविद्यालय की तरफ से जारी बयान के अनुसार, जेजीयू सिर्फ नौ साल के छोटे समय में विश्व स्तरीय शिक्षण संस्थानों में शामिल हो गया है.

  • QS BRICS Rankings 2019: ओपी जिंदल यूनिवर्सिटी बनी देश की सबसे युवा यूनिवर्सिटी

    QS BRICS Rankings 2019: ओपी जिंदल यूनिवर्सिटी बनी देश की सबसे युवा यूनिवर्सिटी

    हरियाणा के सोनीपत स्थित ओ.पी. जिंदल यूनिवर्सिटी (OP Jindal Global University) ने 'क्यूएस ब्रिक्स यूनिवर्सिटी रैकिंग 2019' (QS BRICS Rankings 2019) में 75 शीर्ष भारतीय यूनिवर्सिटी में से सबसे युवा भारतीय यूनिवर्सिटी के रूप में जगह बनाई है. एक बयान में यह जानकारी दी गई है. BRICS में ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका आते हैं. रैंकिंग के अनुसार, ब्रिक्स के शीर्ष तीन फीसदी यूनिवर्सिटी में JGU ने जगह बनाई है.

  • ग्लोबल हंगर इंडेक्स: भुखमरी दूर करने में मनमोहन सरकार से पीछे मोदी सरकार, 5 साल में रैंकिंग 55 से गिरकर 103 पहुंची

    ग्लोबल हंगर इंडेक्स: भुखमरी दूर करने में मनमोहन सरकार से पीछे मोदी सरकार, 5 साल में रैंकिंग 55 से गिरकर 103 पहुंची

    भुखमरी (Hunger) दूर करने की भारत की कोशिशों को तगड़ा झटका लगा है. साल 2018 के ग्लोबल हंगर इंडेक्स (Global Hunger Index) में भारत की रैंकिंग और गिरी है. गौर करने वाली बात यह है कि साल 2014 में केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार बनने के बाद से ग्लोबल हंगर इंडेक्स में भारत की रैंकिंग में लगातार गिरावट आई है. साल 2014 में भारत GHI में जहां 55वें पायदान पर था. तो वहीं 2015 में 80वें, 2016 में 97वें और पिछले साल 100वें पायदान पर आ गया. इस बार रैंकिंग 3 पायदान और गिर गई. 

  • RTI DAY: मनमोहन सरकार में दूसरे नंबर पर था भारत, अब मोदी सरकार में पहुंचा छठे स्थान पर

    RTI DAY: मनमोहन सरकार में दूसरे नंबर पर था भारत, अब मोदी सरकार में पहुंचा छठे स्थान पर

    सूचना अधिकार अधिनियम(RTI Act) के पालन को लेकर जारी वैश्विक रैकिंग में भारत को झटका लगा है. देश की रैकिंग दो पायदान नीचे गिरकर अब छह नंबर पर पहुंच गई है. सेंटर फॉर लॉ एंड डेमोक्रेसी(कनाडा) और स्पेन की संस्था एक्सेस इन्फो यूरोप ने इंटरनेशनल राइट टू नो(जानने का अधिकार) डेके दिन इन सभी देशों की रैकिंग जारी की है.

  • IIM Bangalore और IIM Calcutta की विश्व रैंकिंग मे हुआ सुधार, IIM Ahmedabad में गिरावट

    IIM Bangalore और IIM Calcutta की विश्व रैंकिंग मे हुआ सुधार, IIM Ahmedabad में गिरावट

    इंडियन स्कूल ऑफ बिजनस पिछले साल 27 वें स्थान पर था जो इस साल एक पायदान नीचे 28वें पर पहुंच गया है. जबकि आईआईएम अहमदाबाद को भी रैंकिंग में दो पायदान का नुकसान हुआ है.

  • स्टूडेंट्स के लिए दुनिया की 100 सबसे बेस्ट सिटी: भारत की रैंकिंग 80 से नीचे

    स्टूडेंट्स के लिए दुनिया की 100 सबसे बेस्ट सिटी: भारत की रैंकिंग 80 से नीचे

    हाल ही में दुनिया के ऐसे शहरों की लिस्ट सामने आई है जो यहां पढ़ने वाले छात्रों के लिए सबसे बेस्ट हैं. इन शहरों को दुनियाभर के छात्रों ने ही नंबर देकर इनकी रैंकिंग तैयार की है. इन शहरों को यहां मिलने वाली सुविधाओं और स्टूडेंट फ्रेंडली माहौल को देखते हुए स्थान मिले हैं. इन टॉप 100 शहरों की लिस्ट तैयार करने के लिए छात्रों को शहर और वहां की यूनिवर्सिटी से जुड़े कुछ सवाल दिए गए थे.

  • प्राइम टाइम इंट्रो : कैसे सुधरेगी भारत की कारोबारी रैंकिंग?

    प्राइम टाइम इंट्रो : कैसे सुधरेगी भारत की कारोबारी रैंकिंग?

    विश्व बैंक 2004 से ईज़ ऑफ डूइंग बिजनेस के आधार पर रैकिंग कर रहा है, लेकिन भारतीय राजनीति में इसे प्रचलित किया है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने. पहले गुजरात को ईज ऑफ डूइंग बिजनेस का मुखड़ा बनाया, फिर इसे अपने गर्वनेंस की विचारधारा.

  • वृद्धों के लिए रहन-सहन की रैंकिंग में भारत पहुंचा निचले पायदान पर

    वृद्धों के लिए रहन-सहन की रैंकिंग में भारत पहुंचा निचले पायदान पर

    वृद्धों के लिए दुनिया की सबसे बेहतरीन और दुनिया की सबसे खराब जगहों की वैश्विक रैंकिंग में स्विटजरलैंड का नाम सबसे अच्छी जगह और भारत का नाम सबसे खराब जगह में शुमार किया गया है।

  • उपभोक्ता विश्वास सर्वेक्षण में भारत दुनिया में टॉप पर : नील्सन सर्वेक्षण

    उपभोक्ता विश्वास सर्वेक्षण में भारत दुनिया में टॉप पर : नील्सन सर्वेक्षण

    उपभोक्ता विश्वास से संबंधित 60 देशों के लिए कराए गए एक सर्वेक्षण में भारत की रैंकिंग 130 अंक के साथ सबसे ऊपर रही। अमेरिकी एजेंसी नील्सन द्वारा कराए गए इस ऑनलाइन सर्वेक्षण की रिपोर्ट बुधवार को जारी हुई।

  • विश्व खुशी सूचकांक में भारत लुढ़का : रिपोर्ट

    विश्व खुशी सूचकांक में भारत लुढ़का : रिपोर्ट

    संयुक्त राष्ट्र की 'खुशी रपट 2015' की माने तो खुशी के मोर्चे पर भारतीय तेजी से पिछड़ते जा रहे हैं। संयुक्त राष्ट्र द्वारा 158 देशों पर किए गए सर्वेक्षण में पिछले दो सालों की तुलना में भारत छह बिंदु नीचे फिसल गया है।

Advertisement