Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

अभिनव बिंद्रा


'अभिनव बिंद्रा' - 81 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • Independence Day 2018: ‘ये हैं’ आजादी के बाद से भारत की 10 बड़ी खेल उपलब्धियां

    Independence Day 2018: ‘ये हैं’ आजादी के बाद से भारत की 10 बड़ी खेल उपलब्धियां

    वास्तव में आजादी के बाद भारतीय खेल इतिहास की उपलब्धियां इतनी ज्यादा रही हैं, जिन पर करोड़ों हिंदुस्तानियों का सीना फख्र से चौड़ा हो सकता है, लेकिन बावजूद इसके अभी भी बहुत कुछ है, जो अधूरा है. कुछ ऐसा है, जो सालता है. मसलन पीवी सिंधु को दो बार विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचकर हार जाना...लेकिन भरोसा है कि जब यहां तक आए हैं, तो भविष्य में और भी आगे जाएंगे.

  • Independence Day 2018: खेल के मैदान पर देश की इन 11 खास उपलब्धियों ने दिया इतराने का मौका....

    Independence Day 2018: खेल के मैदान पर देश की इन 11 खास उपलब्धियों ने दिया इतराने का मौका....

    जनसंख्‍या के लिहाज से दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा देश ओलिंपिक जैसे बड़े आयोजन में लंबे समय तक पदकों के लिए तरसता नजर आता रहा. खेलों के लिए पर्याप्‍त अधोसंरचना का अभाव, गरीबी और कुषोषण, पेशेवर अंदाज में तैयारी का अभाव और हुक्‍मरानों के खेलों को लेकर अनदेखी इसका बड़ा कारण रहा. बहरहाल, पिछले 10-15 वर्षों में इस स्थिति में सकारात्‍मक बदलाव हुआ है. हौले-हौले ही सही लेकिन भारतीय खिलाड़ि‍यों ने अब खेल के मैदान में अपनी मजबूती का अहसास कराया है. आजादी के बाद से खेलों/खिलाड़ि‍यों ने देश को गौरव के ऐसे क्षण उपलब्‍ध कराए हैं जिस पर हर कोई गर्व कर सकता है.

  • ओलिंपिक खेलों के लिए भारत की मेजबानी के बारे में शूटर अभिनव बिंद्रा ने जताई यह राय

    ओलिंपिक खेलों के लिए भारत की मेजबानी के बारे में शूटर अभिनव बिंद्रा ने जताई यह राय

    निशानेबाज अभिनव बिंद्रा ने कहा है कि भारत को तब तक ओलिंपिक खेलों की मेजबानी नहीं करनी चाहिए जब तक उसके पास 40 स्वर्ण पदक जीतने का मौका नहीं हो. गौरतलब है कि अभिनव ओलिंपिक खेलों के व्‍यक्तिगत मुकाबले में भारत की ओर से स्‍वर्ण जीतने वाले एकमात्र खिलाड़ी हैं. उन्‍होंने बीजिंग ओलिंपिक में देश के लिए स्‍वर्णिम सफलता हासिल की थी. रियो डि जेनेरो में वर्ष 2016 में हुए ओलिंपिक में वे मेडल जीतने से वंचित रह गए थे.

  • अनिल कपूर ने अभिनव बिंद्रा के पिता के साथ छलकाया जाम से जाम

    अनिल कपूर ने अभिनव बिंद्रा के पिता के साथ छलकाया जाम से जाम

    पर्दे पर निशानेबाज अभिनव बिंद्रा की भूमिका निभाने को तैयार अभिनेता हर्षवर्धन कपूर का कहना है कि उनके पिता अनिल कपूर ने पहले ही अपजीत बिंद्रा की भूमिका निभाने के लिए तैयारी शुरू कर दी है.

  • भारतीय खिलाड़ि‍यों की इन उपलब्धियों के बारे में आप कितना जानते हैं..

    भारतीय खिलाड़ि‍यों की इन उपलब्धियों के बारे में आप कितना जानते हैं..

    खेलों की दुनिया में धीरे-धीरे ही सही, भारतीय खिलाड़ि‍यों ने विश्‍व स्‍तर पर अपनी मजबूत उपस्थिति दर्ज करानी शुरू कर दी है. पुलेला गोपीचंद, विश्‍वनाथन आनंद, अभिनव बिंद्रा, पीवी सिंधु और पंकज अडवाणी जैसे प्‍लेयर्स ने दुनिया में भारत का झंडा बुलंद किया है. खेलों के महाकुंभ ओलिंपिक खेलों में भी भारत के प्रदर्शन में सुधार आ रहा है. पहले भारतीय खिलाड़ियों के लिए ओलिंपिक खेलों का मतलब इसमें भाग लेने तक ही सीमित होता था, लेकिन अब भारतीय प्‍लेयर्स इन खेलों में न केवल अच्‍छा प्रदर्शन कर रहे हैं बल्कि पदक भी हासिल कर रहे हैं.

  • अनिल कपूर और हर्षवर्धन कपूर इस बायोपिक में भी बनेंगे बाप-बेटे

    अनिल कपूर और हर्षवर्धन कपूर इस बायोपिक में भी बनेंगे बाप-बेटे

    बॉलीवुड में बायोपिक्‍स का फॉमुर्ला हमेशा सक्‍सेसफुल रहा है और अगर बायोपिक किसी खिलाड़ी की हो तो कहना ही क्‍या. बॉक्‍सिंग स्‍टार मैरी कॉम से लेकर फ्लाइंग जट के नाम से प्रसिद्ध मिल्‍खा सिंह तक कई खिलाड़‍ियों की बायोपिक दर्शकों ने खासी पसंद की है और अब जल्‍द ही भारत को ओलंपिक में शूटिंग प्रतियोगिता में गोल्‍ड जिताने वाले अभिनव बिंद्रा पर बायोपिक बनने जा रही है

  • ओलिंपिक में भारत ने इन उपलब्धियों के जरिये दिखाई ताकत

    ओलिंपिक में भारत ने इन उपलब्धियों के जरिये दिखाई ताकत

    खेलों के महाकुंभ ओलिंपिक खेलों में भारत का अब तक का प्रदर्शन बहुत अच्‍छा नहीं रहा है. हॉकी की टीम स्‍पर्धा को छोड़ दें तो भारत के पास व्‍यक्तिगत स्‍पर्धा का केवल एक स्‍वर्ण है. यह स्‍वर्ण अभिनव बिंद्रा ने 2008 के बीजिंग ओलिंपिक निशानेबाजी इवेंट में जीता था. कई वर्षों तक भारतीय दल के ओलिंपिक खेलों में जाने और बिना पदक या एकाध पदक के साथ आने का सिलसिला चलता रहा.

  • उसेन बोल्ट ही नहीं ये दिग्गज खिलाड़ी भी करियर के आख़िरी मैच में नहीं कर पाए यादगर प्रदर्शन

    उसेन बोल्ट ही नहीं ये दिग्गज खिलाड़ी भी करियर के आख़िरी मैच में नहीं कर पाए यादगर प्रदर्शन

    खेलों में कई दिग्गज रहे जो अपने करियर के आख़िरी मैच में कुछ भी नहीं कर सके..लेकिन वो मैच शायद ही किसी फ़ैन को याद होंगे. ज़िंदगी की तरह खेल में भी आप कैसे जिए और जब जीते तो कैसे जीते मायने रखता है.

  • आज विश्व भर में मनाया जा रहा है ओलिंपिक दिवस, खेल जगत के महाकुंभ में ऐसा रहा है भारत का सफर

    आज विश्व भर में मनाया जा रहा है ओलिंपिक दिवस, खेल जगत के महाकुंभ में ऐसा रहा है भारत का सफर

    आज की तारीख, यानी 23 जून, को हर साल विश्व भर में अंतरराष्ट्रीय ओलिंपिक दिवस मनाया जाता है. हर साल हज़ारों की संख्या में विभिन्न देशों के लोग तरह तरह के इवेंट्स जैसे दौड़, प्रदर्शनी मुकाबले में हिस्सा लेकर ओलिंपिक दिवस मनाते हैं. अंतरराष्ट्रीय ओलिंपिक दिवस की शुरुआत 1948 में हुई थी.

  • विराट कोहली ने कोच को लेकर अभिनव बिंद्रा की यह सलाह मान ली, तो संवर जाएगा करियर!

    विराट कोहली ने कोच को लेकर अभिनव बिंद्रा की यह सलाह मान ली, तो संवर जाएगा करियर!

    विराट कोहली से अनबन के चलते आखिरकार टीम इंडिया के सफलतम कोच अनिल कुंबले को अपना पद छोड़ना ही पड़ा. कई खिलाड़ियों का मानना है कि कोच का सख्त होना जरूरी होता है, क्योंकि यदि वह हां में हां मिलाएगा, तो सुधार संभव नहीं होगा.

  • एयरपोर्ट पर भारतीय शूटरों को रोका गया तो अभिनव बिंद्रा को आया गुस्‍सा, कहा-क्‍या ऐसा क्रिकेट टीम के साथ हो सकता है

    एयरपोर्ट पर भारतीय शूटरों को रोका गया तो अभिनव बिंद्रा को आया गुस्‍सा, कहा-क्‍या ऐसा क्रिकेट टीम के साथ हो सकता है

    अभिनव बिंद्रा ने इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे पर सीमा शुल्क विभाग द्वारा भारतीय निशानेबाजों को 13 घंटे तक रोके रखने पर भारतीय राष्ट्रीय राइफल संघ की जमकर आलोचना की है.सीमा शुल्क विभाग के अधिकारियों ने भारतीय खिलाड़ियों को उनके हथियारों के कारण रोके रखा.

  • ओलिंपिक मेडलिस्ट अभिनव बिंद्रा का खुलासा, 2014 में न्यूरोलाजी से जुड़ी समस्या का शिकार हुआ था

    ओलिंपिक मेडलिस्ट अभिनव बिंद्रा का खुलासा, 2014 में न्यूरोलाजी से जुड़ी समस्या का शिकार हुआ था

    भारत के इकलौते ओलिंपिक व्यक्तिगत स्वर्ण पदक विजेता अभिनव बिंद्रा ने आज खुलासा किया कि वह 2014 में न्यूरोलाजी से जुड़ी गंभीर समस्या का शिकार हो गए थे जिससे उनके हाथों में कंपन पैदा हो गई. बिंद्रा ने कहा, ‘‘2014 में चेकअप के बाद पता चला कि मुझे न्यूरोलाजी से जुड़ी गंभीर समस्या है जिससे मेरे हाथ में कंपन शुरू हो गई. मेरा हाथ कंपकंपाता रहता था और मैं ऐसे खेल से जुड़ा था जिसमें हाथ स्थिर रहना जरूरी है. उस समय मेरी स्थिति काफी विकट थी.’’

  • आईएसएसएफ शूटिंग वर्ल्‍ड कप : अंकुर मित्तल ने मिश्रित टीम के शानदार प्रदर्शन के बाद रजत पदक जीता

    आईएसएसएफ शूटिंग वर्ल्‍ड कप : अंकुर मित्तल ने मिश्रित टीम के शानदार प्रदर्शन के बाद रजत पदक जीता

    भारत के लिये दो निराशाजनक दिन के बाद खुशी का मौका आया जब अंकुर मित्तल ने आज यहां आईएसएसएफ विश्व कप में मैराथन डबल ट्रैप फाइनल में रजत पदक अपने नाम किया और उनसे पहले जीतू राय और हीना सिद्धू ने 10 मीटर मिश्रित टीम एयर पिस्टल स्पर्धा में जीत दर्ज की. चौबीस वर्षीय मित्तल पोडियम में दूसरे स्थान पर रहे, वह स्वर्ण पदक विजेता ऑस्ट्रेलियाई जेम्स विलेट से एक अंक पीछे 74 अंक पर रहे.

  • ओलिंपिक इवेंट्स में बदलाव की शूटर अभिनव बिंद्रा की सिफारिश से सहमत नहीं गगन नारंग

    ओलिंपिक इवेंट्स में बदलाव की शूटर अभिनव बिंद्रा की सिफारिश से सहमत नहीं गगन नारंग

    ओलिंपिक के ब्रॉन्‍ज मेडलिस्‍ट गगन नारंग ने कहा कि अगर भविष्य में ओलिंपिक के लिए आईएसएसएफ एथलीट आयोग की मिश्रित टीम की सिफारिश को विश्‍व संस्था ने मंजूरी दे दी तो इससे निशानेबाजी के माहौल को करारा झटका लगेगा. इस फैसले को मिश्रित प्रतिक्रिया मिली है, भारत के एकमात्र व्यक्तिगत ओलिंपिक गोल्‍ड मेडलिस्‍ट अभिनव बिंद्रा की अध्यक्षता वाली आईएसएसएफ एथलीट समिति ने ओलंपिक खेलों के लिये मिश्रित टीम स्पर्धा की सिफारिश की है.

  • खेल मंत्रालय का आईओए को निलंबित करने का फैसला अच्छा कदम : अभिनव बिंद्रा

    खेल मंत्रालय का आईओए को निलंबित करने का फैसला अच्छा कदम : अभिनव बिंद्रा

    पूर्व ओलिंपियन अभिनव बिंद्रा ने भारतीय ओलिंपिक संघ (आईओए) को निलंबित करने के खेल मंत्रालय के फैसले का आज समर्थन किया और इसे ‘अच्छा कदम’ बताया.

  • मोहाली में अभिनव बिंद्रा ने शुरू किया हाई परफॉर्मेंस ट्रेनिंग सेंटर

    मोहाली में अभिनव बिंद्रा ने शुरू किया हाई परफॉर्मेंस ट्रेनिंग सेंटर

    ओलंपिक चैम्पियन अभिनव बिंद्रा ने एलीट खिलाड़ियों के लिए भारत में अपनी तरह का पहला हाई परफॉर्मेंस केंद्र स्थापित किया है जिसमें अत्याधुनिक उपकरण मौजूद हैं.

  • वर्ल्ड के टॉप शूटर्स को पछाड़कर जीतू राय ने जीता सिल्वर मेडल

    वर्ल्ड के टॉप शूटर्स को पछाड़कर जीतू राय ने जीता सिल्वर मेडल

    भारतीय पिस्टल शूटर जीतू राय ने बोलोग्ना (इटली) में हुए वर्ल्ड कप फ़ाइनल में 50 मीटर पिस्टल प्रतियोगिता में रजत पदक अपने नाम कर लिया. उन्हें शाबाशी देने वालों में ओलिंपिक के स्वर्ण पदक विजेता अभिनव बिंद्रा सबसे आगे रहे.

  • रियो में शूटर्स के लचर प्रदर्शन पर समीक्षा रिपोर्ट, गगन नारंग, हीना सिद्धू, आयोनिका पॉल की खिंचाई

    रियो में शूटर्स के लचर प्रदर्शन पर समीक्षा रिपोर्ट, गगन नारंग, हीना सिद्धू, आयोनिका पॉल की खिंचाई

    अभिनव बिंद्रा की अगुआई वाली भारतीय राष्ट्रीय राइफल संघ (एनआरएआई) की समीक्षा समिति ने कमतर प्रदर्शन करने वाले निशानेबाजों को निशाना बनाया है.

Advertisement