NDTV Khabar

अरुण जेटली


'अरुण जेटली' - more than 1000 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • BJP प्रवक्ता ने PM मोदी से पूछा सवाल- अटल जी का सपना कब होगा साकार?

    BJP प्रवक्ता ने PM मोदी से पूछा सवाल- अटल जी का सपना कब होगा साकार?

    उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर एक ट्वीट किया, जिसमें कई मुद्दों का जिक्र किया है. इस ट्वीट में उन्होंने 17 साल पहले 31 मार्च 2002 को संविधान समीक्षा आयोग (वेंकटचलैया आयोग) द्वारा तत्कालीन कानून मंत्री अरुण जेटली को सौंपी रिपोर्ट के बारे में बात की है. उनका कहना है कि आयोग के सुझाव पर सूचना अधिकार, शिक्षा अधिकार, भोजन का अधिकार और मनरेगा कानून बना लेकिन जनसंख्या नियंत्रण पर मौन क्यों?

  • अरुण जेटली को मिला दूसरा सरकारी आवास, 22 अकबर रोड पर आवंटित हुआ 'टाइप 8' बंगला

    अरुण जेटली को मिला दूसरा सरकारी आवास, 22 अकबर रोड पर आवंटित हुआ 'टाइप 8' बंगला

    अरुण जेटली को 22 अकबर रोड पर बतौर सांसद बंगला आवंटित किया गया है. अरुण जेटली दो कृष्णा मेनन मार्ग पर स्थित अपना पुराना सरकारी घर छोड़ चुके हैं.

  • Budget 2019: मिडिल क्लास ने सोशल मीडिया पर जताई नाराजगी, लिखा- 'अच्छा सिला दिया मेरे प्यार का'

    Budget 2019: मिडिल क्लास ने सोशल मीडिया पर जताई नाराजगी, लिखा- 'अच्छा सिला दिया मेरे प्यार का'

    एक ट्विटर उपयोगकर्ता ने ट्वीट किया कि अमेरिकी डॉलर को मुद्रा का बेंचमॉर्क बनाने के बजाए भारतीय रुपये को मजबूत बनाने पर काम क्यों नहीं किया गया. बजट के संबंध में पूर्व वित्तमंत्री अरुण जेटली के ट्वीट के बाद एक ट्विटर उपयोगकर्ता ने लिखा कि यह आम ईमानदार करदाता और मध्य वर्ग के लिए सबसे खराब बजट में से एक है.

  • केंद्रीय मंत्री थावर चंद गहलोत बने राज्यसभा के नए नेता, लेंगे अरुण जेटली की जगह

    केंद्रीय मंत्री थावर चंद गहलोत बने राज्यसभा के नए नेता, लेंगे अरुण जेटली की जगह

    गहलोत राज्यसभा के सांसद हैं और वह मध्यप्रदेश का प्रतिनिधित्व करते हैं. राज्यसभा से पहले गहलोत शाजापुर लोकसभा सीट से 1996 से 2009 तक सांसद थे. 2009 में गहलोत, कांग्रेस नेता सज्जन सिंह वर्मा से चुनाव हार गए थे. सज्जन सिंह वर्मा वर्तमान में कमलनाथ सरकार में मंत्री हैं.

  • देश के सामने खड़ी इन 5 चुनौतियों से जूझना है मोदी सरकार को, हर हाल में निकालना होगा रास्ता

    देश के सामने खड़ी इन 5 चुनौतियों से जूझना है मोदी सरकार को, हर हाल में निकालना होगा रास्ता

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके साथ 57 मंत्रियों ने राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक भव्य समारोह में पद और गोपनीयता की शपथ ली. मंत्रिमंडल में बीस नए चेहरे हैं, जबकि एक दर्जन पुराने नाम गायब हो गए हैं. कुल 24 कैबिनेट मंत्री, 9 राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार और 24 राज्य मंत्रियों ने शपथ ली. पुराने चेहरों में सुषमा स्वराज, अरुण जेटली और मेनका गांधी इस बार मंत्रिमंडल में शामिल नहीं है. नरेंद्र मोदी के विश्वासपात्र गिरिराज सिंह, उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रमेशचंद्र पोखरियाल और झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा भाजपा के ऐसे नेताओं में शामिल हैं जिनका दर्जा नई सरकार में बढ़ा है और उन्हें कैबिनेट मंत्री बनाया गया है.

  • Hardeep Singh Puri: कौन हैं हरदीप सिंह पुरी, जिन्हें चुनाव हारने के बाद भी मोदी सरकार में मिली जगह...

    Hardeep Singh Puri: कौन हैं हरदीप सिंह पुरी, जिन्हें चुनाव हारने के बाद भी मोदी सरकार में मिली जगह...

    अमृतसर लोकसभा सीट से चुनाव हारने के बाद भी हरदीप पुरी को मोदी कैबिनेट में जगह मिली है. पिछली बार भी इस सीट से अरुण जेटली को शिकस्त मिली थी. भारतीय विदेश सेवा के पूर्व अधिकारी हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) को मोदी सरकार में दूसरी बार मंत्री बनाया गया है.

  • PM पद की शपथ लेने से पहले नरेंद्र मोदी ने महात्मा गांधी और अटल बिहारी वाजपेयी को दी श्रद्धांजलि, शहीदों को किया नमन

    PM पद की शपथ लेने से पहले नरेंद्र मोदी ने महात्मा गांधी और अटल बिहारी वाजपेयी को दी श्रद्धांजलि, शहीदों को किया नमन

    PM Oath taking ceremony: शपथ ग्रहण से एक दिन पहले वित्त मंत्री अरुण जेटली ने मोदी को पत्र लिखकर कहा कि वह खराब सेहत के चलते नयी सरकार में मंत्री पद के इच्छुक नहीं हैं. ऐसे संकेत हैं कि नये मंत्रिमंडल में पश्चिम बंगाल, ओडिशा और तेलंगाना जैसे राज्यों में भाजपा की बढ़ती ताकत प्रतिबिंबित हो सकती है. जहां तक सहयोगी दलों का सवाल है तो शिवसेना और जदयू को दो-दो मंत्री पद मिलने की उम्मीद है, (एक कैबिनेट और एक राज्यमंत्री) जबकि लोजपा और शिरोमणि अकाली दल को एक-एक मंत्री पद मिल सकते हैं. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को शाह से मुलाकात की और समझा जाता है कि दोनों नेताओं ने सरकार में जनता दल यू के प्रतिनिधित्व पर चर्चा की.

  • नीतीश कुमार से मुलाकात में क्या हुआ कि अमित शाह पीएम मोदी से मिलने जा पहुंचे!

    नीतीश कुमार से मुलाकात में क्या हुआ कि अमित शाह पीएम मोदी से मिलने जा पहुंचे!

    पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के नेतृत्व वाली नई एनडीए सरकार गुरुवार को अस्तित्व में आ जाएगी. इससे पहले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) में शामिल दलों में मंत्रिपरिषद (Modi Cabinet) में ज्यादा से ज्यादा स्थान पाने के लिए खींचतान जारी है. बुधवार को मोदी कैबिनेट को लेकर दिनभर घटनाक्रम चलता रहा. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने आज बीजेपी (BJP) अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) से मुलाकात की. इस मुलाकात के बाद शाह ने पीएम नरेंद्र मोदी से भी मुलाकात की. शाह और नीतीश की मुलाकात ऐसे समय में हुई है जब एक दिन बाद ही 30 मई को नरेंद्र मोदी दोबारा प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे.

  • मंत्री बनने से इनकार कर चुके अरुण जेटली को 'मनाने की कोशिश', PM मोदी ने की मुलाकात

    मंत्री बनने से इनकार कर चुके अरुण जेटली को 'मनाने की कोशिश', PM मोदी ने की मुलाकात

    अरुण जेटली (Arun Jaitley) के मंत्री बनने से इनकार करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) उनसे मुलाकात की. सूत्रों ने NDTV को बताया कि पीएम मोदी अरुण जेटली (Arun Jaitley) से मिलकर नई सरकार में शामिल होने की बात की. अरुण जेटली (Arun Jaitley News) ने सेहत का हवाला देते हुए नए मंत्रिमंडल में शामिल होने से इनकार कर दिया था.

  • मोदी सरकार : मंत्रिमंडल के लिए एनडीए के सहयोगी दल भी जुटे मोलभाव में

    मोदी सरकार : मंत्रिमंडल के लिए एनडीए के सहयोगी दल भी जुटे मोलभाव में

    प्रधानमंत्री (PM Narendra Modi) और नई सरकार (Modi Government) के शपथ ग्रहण के लिए सारी तैयारियां हो चुकी हैं. साथ ही यह बात भी तय हो चुकी है कि कौन-कौन मंत्री बनेगा. इसी बीच वित्त मंत्री अरुण जेटली (Arun Jaitley) ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर अपने गिरते स्वास्थ्य का हवाला देते हुए खुद को मंत्री पद से अलग किया है. अब यह लगभग तय लगता है कि पीयूष गोयल (Piyush Goyal) की झोली में ही वित्त मंत्रालय जाएगा क्योंकि पिछली बार अरुण जेटली के अनुपस्थिति में उन्होंने ही बजट पेश किया था. वे देश का बजट पेश करने वाले सबसे कम उम्र के वित्त मंत्री बने थे.

  • मोदी कैबिनेट में शामिल नहीं होंगे अरुण जेटली, PM मोदी को खत लिखकर बताया अपना फैसला

    मोदी कैबिनेट में शामिल नहीं होंगे अरुण जेटली, PM मोदी को खत लिखकर बताया अपना फैसला

    सरकार ने रविवार को कहा छा कि केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली का स्वास्थ्य बिगड़ने संबंधी खबरें पूरी तरह से गलत और आधारहीन हैं. मीडिया को इस तरह की अफवाहों से दूर रहना चाहिए। जेटली के स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारी रखने वाले सूत्रों ने बताया था कि जेटली के राजग सरकार के दूसरे कार्यकाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल का हिस्सा बनने की संभावना नहीं है. दरअसल, उनके कमजोर स्वास्थ्य की वजह से उन्हें उपचार के लिए अमेरिका या ब्रिटेन आना-जाना पड़ सकता है. सूत्रों ने कहा कि जेटली, 66 वर्ष, ‘बहुत कमजोर’ हो गए हैं. पिछले सप्ताह उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया जहां उनकी जांच हुई और इलाज हुआ.

  • कैसी होगी नरेंद्र मोदी की नई सरकार : इस बार पुराने मंत्रियों के ही ज्यादा दिखने के आसार

    कैसी होगी नरेंद्र मोदी की नई सरकार : इस बार पुराने मंत्रियों के ही ज्यादा दिखने के आसार

    भले ही प्रधानमंत्री (PM Narendra Modi) ने कहा हो कि सरकार में मंत्री कौन-कौन बनेगा, इस पर अटकलें न लगाई जाएं.. मगर जाहिर राजनीति को नजदीक से देखने वाले इससे बाज नहीं आएंगे, चाहे वे नेता हों या पत्रकार...बीजेपी (BJP) सूत्रों के हवाले से जो खबरें आ रही हैं उसके मुताबिक आपको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कैबिनेट में कई पुराने चेहरे देखने को मिलेंगे.

  • बीजेपी की जीत के बाद ऋषि कपूर ने जाहिर की चिंता, वायरल हुआ Tweet...

    बीजेपी की जीत के बाद ऋषि कपूर ने जाहिर की चिंता, वायरल हुआ Tweet...

    ऋषि कपूर (Rishi Kapoor) ने लोकसभा चुनावों (Election Result 2019) में भारतीय जनता पार्टी (BJP) की जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और केंद्रीय मंत्रियों- स्मृति ईरानी (Smriti Irani) और अरुण जेटली (Arun Jaitley) को किए कई ट्वीट्स में अपनी चिंता जाहिर की.

  • PM मोदी के मंत्रीपरिषद में JDU, अन्नाद्रमुक को मिल सकती है जगह, बंगाल और तेलंगाना के नेता भी होंगे शामिल

    PM मोदी के मंत्रीपरिषद में JDU, अन्नाद्रमुक को मिल सकती है जगह, बंगाल और तेलंगाना के नेता भी होंगे शामिल

    नई सरकार में शामिल किए जाने वाले संभावित चेहरों को लेकर आधिकारिक तौर पर कुछ नहीं कहा गया है, लेकिन कई नेताओं का मानना है कि पिछली सरकार के ज्यादातर अहम सदस्यों को मंत्रिपरिषद में बरकरार रखा जाएगा. ऐसी अटकलें हैं कि पिछली सरकार में वित्त मंत्री रहे अरुण जेटली स्वास्थ्य कारणों से मंत्रिपरिषद में शामिल नहीं होंगे. लेकिन जेटली के करीबी लोगों का कहना है कि इलाज के बाद उनकी तबीयत ठीक है. सरकार ने रविवार को दखल देकर इस बात पर जोर दिया कि उनकी सेहत से जुड़ी खबरें गलत और बेबुनियाद हैं. भारत सरकार के प्रधान प्रवक्ता सितांशु रंजन कार ने ट्वीट किया, ‘केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली की स्वास्थ्य की स्थिति के बारे में मीडिया के एक हिस्से में आई खबरें गलत और बेबुनियाद है.

  • जेटली पूरी तरह स्वस्थ, उनके अस्वस्थ होने की खबरे झूठी और निराधारः सरकार

    जेटली पूरी तरह स्वस्थ, उनके अस्वस्थ होने की खबरे झूठी और निराधारः सरकार

    शर्मा ने ट्वीट अपने ट्वीट में लिखा, 'हर कोई मेरे दोस्त अरुण जेटली के स्वास्थ्य को लेकर चर्चा कर रहा है, कुछ लोगों की चिंता वास्तविक है जबकि कुछ लोग अविवेकपूर्ण बातचीत कर रहे हैं. मैं आप लोगों से साझा करना चाहता हूं कि मैं कल (शनिवार) शाम जेटली से मिला था. वह ठीक हो रहे हैं और पर्दे के पीछे रहकर काम कर रहे हैं. संक्रमण से बचने के लिये दोस्तों और परिवार के सदस्यों ने उन्हें सार्वजनिक कार्यक्रमों से दूर रहने के लिए मना लिया है. मुझे खुशी है कि आखिर वह मान गए हैं.'

  • Results 2019: क्या PM मोदी के दूसरे कार्यकाल में वित्त मंत्री के पद पर नहीं रहेंगे अरुण जेटली? आई यह बड़ी खबर

    Results 2019: क्या PM मोदी के दूसरे कार्यकाल में वित्त मंत्री के पद पर नहीं रहेंगे अरुण जेटली? आई यह बड़ी खबर

    Results 2019: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के दूसरे कार्यकाल में खराब स्वास्थ्य की वजह से वित्त मंत्री के पद पर अरुण जेटली (Arun Jaitley) का बने रहना मुश्किल है.

  • Election 2019: राजद नेता शिवानंद तिवारी ने नीतीश कुमार पर कसा तंज, कहा- उनके लिए विशेष राज्य का दर्जा सिर्फ राजनीतिक नारेबाजी

    Election 2019: राजद नेता शिवानंद तिवारी ने नीतीश कुमार पर कसा तंज, कहा- उनके लिए विशेष राज्य का दर्जा सिर्फ राजनीतिक नारेबाजी

    Election 2019: उन्होंने कहा कि नीतीश जी के मित्र और देश के वित्त मंत्री अरुण जेटली साफ-साफ़ कह चुके हैं कि अब किसी भी राज्य को विशेष राज्य की श्रेणी में नहीं रखा जाएगा. यहां तक की 15 वें वित्त आयोग के अध्यक्ष और जद यू के भूत पूर्व सांसद श्री एन के. सिंह भी स्पष्ट कर चुके हैं कि विकास के लिए किसी राज्य को अब विशेष राज्य के दर्जा की ज़रूरत नहीं है.

  • Election 2019: नितिन गडकरी के बाद अब अरुण जेटली ने एग्जिट पोल को लेकर दिया बड़ा बयान, कहा- चुनाव परिणाम तो...

    Election 2019: नितिन गडकरी के बाद अब अरुण जेटली ने एग्जिट पोल को लेकर दिया बड़ा बयान, कहा- चुनाव परिणाम तो...

    Election 2019: बता दें कि लोकसभा चुनाव 2019 के लिए रविवार शाम को जारी ज्यादातर एक्जिट पोल के मुताबिक एक बार फिर भाजपा नीत राजग बहुमत से केन्द्र में सरकार बनाता दिख रहा है. लगभग सभी एक्जिट पोल में भाजपा नीत गठबंधन को 272 के जादुई आंकड़े को पार करता दिखाया गया है. अरुण जेटली (Arun Jaitley) ने अपने ब्लॉग ‘एक्जिट पोल का संदेश’ में कहा कि हम में से कई एक्जिट पोल की सत्यता और उसके सटीक होने को लेकर तकरार कर सकते हैं.

  • PM मोदी पर मायावती के बयान का जेटली ने किया पलटवार, 'सार्वजनिक जीवन के लायक भी नहीं BSP प्रमुख'

    PM मोदी पर मायावती के बयान का जेटली ने किया पलटवार, 'सार्वजनिक जीवन के लायक भी नहीं BSP प्रमुख'

    लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) के छह चरण पूरे हो चुके हैं. 7वें और अंतिम चरण से पहले सभी पार्टियां पूरे दमखम से प्रचार में जुटी हुई हैं. आखिरी चरण में कुल 59 सीटों पर मतदान होने हैं. नतीजे 23 मई को आएंगे. चुनावी सरगर्मियों के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी लगातार जारी है. सत्ताधारी पार्टी विपक्ष पर तो विपक्षी पार्टी सत्ताधारी पर हमलावर है. इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के खिलाफ व्यक्तिगत टिप्पणी को लेकर केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली (Arun Jaitley) ने बसपा प्रमुख मायावती (Mayawati) पर जमकर हमला बोला. BJP के वरिष्ठ नेता ने कहा कि मायावती 'सार्वजनिक जीवन के लायक नहीं हैं.' 

  • राजीव गांधी सरकार की ईमानदारी पर सवाल उठाने से राहुल इतने परेशान क्यों : जेटली

    राजीव गांधी सरकार की ईमानदारी पर सवाल उठाने से राहुल इतने परेशान क्यों : जेटली

    अरुण जेटली (Arun Jaitley) ने कहा कि जब राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के दिवंगत पिता राजीव गांधी के नेतृत्व वाली सरकार की ईमानदारी के मुद्दे उठाए जाते हैं और बोफोर्स तोप सौदे में 'क्यू कनेक्शन के बारे में सवाल किए जाते हैं, तब कांग्रेस अध्यक्ष (राहुल) परेशान क्यों हो जाते हैं.