NDTV Khabar

अवसाद


'अवसाद' - 143 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • Ways To Improve Mental Health: चिंता, अवसाद को दूर कर मैमोरी पावर बढ़ाने के लिए अपनाएं ये प्रभावी तरीके

    Ways To Improve Mental Health: चिंता, अवसाद को दूर कर मैमोरी पावर बढ़ाने के लिए अपनाएं ये प्रभावी तरीके

    Mental Health: महामारी के दौरान चिंता और अवसाद की समस्या बढ़ जाती है. प्राथमिक देखभाल, विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्रों में, रोगी की बढ़ती जरूरतों का सामना कर रहे हैं. इसका पता करने का एक तरीका स्वास्थ्य देखभाल प्रदाताओं की आम मानसिक स्वास्थ्य विकारों के रोगियों के निदान और उपचार की क्षमता को बढ़ाना है.

  • मानसिक तनाव, अवसाद से बचाने के लिए केंद्र की नई हेल्पलाइन 'किरण' शुरू

    मानसिक तनाव, अवसाद से बचाने के लिए केंद्र की नई हेल्पलाइन 'किरण' शुरू

    कोरोनावायरस और उससे फैली महामारी के दौर में मानसिक रोगियों की तादाद लगातार बढ़ती जा रही है. ऐसे कई मामले देखने में आए हैं, जब लॉकडाउन में अकेलेपन, आर्थिक असुरक्षा, नौकरियों के जाने की वजह से लोग डिप्रेशन में चले गए. पिछले कुछ महीनों में आत्महत्याओं के मामलों में भी इज़ाफ़ा देखा गया. ऐसे ही निराश लोगों की मदद के लिए सरकार ने एक पहल की है, और सोमवार को केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत ने मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास हेल्पलाइन 'किरण' (1800-599-0019) का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिये उद्घाटन किया.

  • कांग्रेस से निष्कासित नेताओं ने सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखी : कहा- परिवार के मोह से ऊपर उठकर संगठन चलाएं

    कांग्रेस से निष्कासित नेताओं ने सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखी : कहा- परिवार के मोह से ऊपर उठकर संगठन चलाएं

    कांग्रेस (Congress) में नेतृत्व को लेकर सवालों का सिलसिला थम नहीं रहा है. कुछ ही दिनों पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के पार्टी नेतृत्व पर सवाल उठाने के बाद अब एक और पत्र पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) को लिखा गया है. यह पत्र पिछले साल कांग्रेस से निकाले गए नेताओं ने लिखा है. अनुशासनहीनता के आरोप में निष्कासित नेताओं के एक गुट ने सोनिया गांधी को पत्र लिखकर उनसे ''परिवार के मोह'' से ऊपर उठकर पार्टी में संवैधानिक और लोकतांत्रिक मूल्यों को बहाल करते हुए इसे चलाने का आग्रह किया है. निष्कासित नेताओं में से पूर्व सांसद संतोष सिंह और पूर्व मंत्री सत्यदेव त्रिपाठी समेत नौ नेताओं ने दो सितम्बर को पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को लिखे पत्र में कहा कि पंडित जवाहर लाल नेहरू, इंदिरा गांधी और राजीव गांधी ने लोकतांत्रिक मूल्यों और विचारधारा के साथ कांग्रेस और देश को बनाया है, लेकिन विडम्बना यह है कि पिछले कुछ समय से पार्टी जिस तरह से चल रही है उससे पार्टी कार्यकर्ताओं में असमंजस और अवसाद की स्थिति बन गई है. 

  • सुशांत सिंह के पिता का बयान - हो सकता है उसने उदासी के चलते खुदकुशी की हो

    सुशांत सिंह के पिता का बयान - हो सकता है उसने उदासी के चलते खुदकुशी की हो

    सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के पिता  केके सिंह ने बयान में कहा है कि ''मुझे लगता है कि सुशांत ने उदासी के चलते खुदकुशी की हो सकती है.'' सुशांत सिंह राजपूत की बहन ने भी पुलिस को दिए गए बयान में स्वीकार किया है कि सुशांत ने बताया था कि वह अवसाद में है और 2013 में उसने साइकेट्रिस्ट से सलाह भी ली थी. अभिनेता सुशांत की बहनें नीतू सिंह, प्रियंका सिंह और मीतू सिंह के बयानों ने रिया चक्रवर्ती की टीम के आरोपों को लेकर एक नया मोड़ दे दिया है कि परिवार ने सुशांत सिंह राजपूत की मानसिक स्थिति से अनजान होने के बारे में झूठ बोला था.

  • सुशांत सिंह की बहन ने मुंबई पुलिस से कहा, परिवार उसके डिप्रेशन में होने के बारे में 2013 से जानता था

    सुशांत सिंह की बहन ने मुंबई पुलिस से कहा, परिवार उसके डिप्रेशन में होने के बारे में 2013 से जानता था

    सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की बहन ने पुलिस को दिए गए बयान में स्वीकार किया है कि सुशांत ने बताया था कि वह अवसाद में है और 2013 में उसने साइकेट्रिस्ट से सलाह भी ली थी. अभिनेता सुशांत की बहनें नीतू सिंह, प्रियंका सिंह और मीतू सिंह के बयानों ने रिया चक्रवर्ती की टीम के आरोपों को लेकर एक नया मोड़ दे दिया है कि परिवार ने सुशांत सिंह राजपूत की मानसिक स्थिति से अनजान होने के बारे में झूठ बोला था.

  • कोविड-19 महामारी के चलते आधे युवा अवसाद और चिंता का शिकार, ILO के सर्वे में आया सामने

    कोविड-19 महामारी के चलते आधे युवा अवसाद और चिंता का शिकार, ILO के सर्वे में आया सामने

    रिपोर्ट के मुताबिक, ''कोविड-19 महामारी ने हमारे जीवन के हर पहलू को बाधित कर दिया है. संकट की शुरुआत से पहले भी, युवाओं के सामाजिक और आर्थिक एकीकरण को लेकर लगातार चुनौती थी और यदि अब तत्काल कार्रवाई नहीं की गई, तो युवाओं के महामारी से गंभीर रूप से पीड़ित होने की आशंका है, जिसका असर लंबे समय तक रहेगा.''

  • COVID-19 मरीजों के मानसिक स्वास्थ्य पर डाल सकता है असर, डिप्रेशन और एंजाइटी का खतरा - स्टडी

    COVID-19 मरीजों के मानसिक स्वास्थ्य पर डाल सकता है असर, डिप्रेशन और एंजाइटी का खतरा - स्टडी

    Coronavirus And Mental Health: कोविड-19 रोगियों में अवसाद या चिंता संभवतः एक संकेत हो सकता है कि वायरस केंद्रीय तंत्रिका तंत्र को प्रभावित करता है. सिनसिनाटी कॉलेज ऑफ मेडिसिन शोधकर्ता के एक विश्वविद्यालय के नेतृत्व में एक अंतरराष्ट्रीय अध्ययन के अनुसार यह बात कही गई.

  • दक्षिण एशियाई देशों को WHO की सलाह, कहा- मानसिक स्वास्थ्य और आत्महत्या की प्रवर्ति पर दें ध्यान

    दक्षिण एशियाई देशों को WHO की सलाह, कहा- मानसिक स्वास्थ्य और आत्महत्या की प्रवर्ति पर दें ध्यान

    डॉ. पूनम खेत्रपाल सिंह ने कहा कि कोविड-19 संक्रमण (COVID-19) से संबंधित कलंक की धारणा से अकेलेपन और अवसाद (Depression) की भावना पैदा हो सकती है.

  • कोविड-19 महामारी के बीच मां बनी महिलाओं में बढ़ा डिप्रेशन और चिंता: अध्ययन

    कोविड-19 महामारी के बीच मां बनी महिलाओं में बढ़ा डिप्रेशन और चिंता: अध्ययन

    कोविड-19 महामारी (Covid Pandemic) ने हाल के समय में मां बनी महिलाओं के अवसाद (Depression) में जाने और उनमें चिंता और भय की भावना को बढ़ा दिया है.

  • डिप्रेशन की समस्या से जूझ रहे हैं अरहान खान, साइकेट्रिस्ट की मदद ले रहे हैं बिग बॉस कंटेस्टेंट

    डिप्रेशन की समस्या से जूझ रहे हैं अरहान खान, साइकेट्रिस्ट की मदद ले रहे हैं बिग बॉस कंटेस्टेंट

    अवसाद आज के समय में काफी बड़ी समस्या हो चुकी है, जिससे हर चौथा व्यक्ति जूझ रहा है. इससे इतर हाल ही में खबर आई है कि बिग बॉस 13 (Bigg Boss 13) के कंटेस्टेंट अरहान खान (Arhaan Khan) भी डिप्रेशन की समस्या से जूझ रहे हैं.

  • 'लाचार था, किसी ने नहीं समझा'.... अपनी मानसिक बीमारी पर बोले कांग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा

    'लाचार था, किसी ने नहीं समझा'.... अपनी मानसिक बीमारी पर बोले कांग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा

    पूर्व मंत्री और कांग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा ने बताया है कि वह भी जीवन में दो बार मानसिक बीमारी से गुजर चुके हैं. एनडीटीवी से बातचीत में उन्होंने कहा कि वह इस समस्या को डिप्रेशन (अवसाद) कहने की बजाए इसकी मानसिक बीमारी मानते हैं. उन्होंने कहा, 16-17 साल की उम्र में मैं भी आत्महत्या जैसे विचारों का सामना कर चुका हूं.

  • Depression Symptoms: कैसे पहचानें किसी करीबी में डिप्रेशन के लक्षण, यूं कर सकते हैं मदद

    Depression Symptoms: कैसे पहचानें किसी करीबी में डिप्रेशन के लक्षण, यूं कर सकते हैं मदद

    Symptoms of Depression: अवसाद या डिप्रेशन क्या है (What is Depression) , असल में यह एक ऐसा रोग है जो शारीर‍िक रूप से स्वस्थ होने पर भी जानलेवा साब‍ित हो सकता है. अवसाद या ड‍िप्रेशन को झेल रहे किसी व्यक्ति‍ द्वारा खुदकुशी या आत्महत्या (Suicide) जैसी खबरें अक्सर देखने और सुनने को मिलती हैं. ऐसा क्यों होता है. कोई हंसता खेलता शख्स अवसाद के कारण जान (Suicidal Thoughts) दे देता है.

  • Depression: क्यों होता है डिप्रेशन, क्या हैं अवसाद के लक्षण और कारण, जानें कैसे करें डिप्रेशन का इलाज!

    Depression: क्यों होता है डिप्रेशन, क्या हैं अवसाद के लक्षण और कारण, जानें कैसे करें डिप्रेशन का इलाज!

    How Does Depression Occur: हमारी लाइफ में कई ऐसी घटनाएं होती हैं जिनका हमारे मानसिक स्वास्थ्य (Mental Health) पर गहरा असर होता है. कुछ बातें होती हैं जो अंदर ही अंदर खाए जाती हैं. डिप्रेशन के लक्षणों (Symptoms Of Depression) को उदासी, नुकसान या ऐसे गुस्से के रूप में समझा जा सकता है, जिससे किसी इंसान की रोजमर्रा की गतिविधियों पर असर पड़ता है.

  • सुशांत सिंह राजपूत अपने घर में मृत पाए गए, 6 बड़ी बातें

    सुशांत सिंह राजपूत अपने घर में मृत पाए गए, 6 बड़ी बातें

    एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) अपने घर में मृत पाए गए हैं. उनकी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में हैंगिंग से ही मौत की वजह सामने आई है. बताया जा रहा है कि वह काफी समय से अवसाद (डिप्रेशन) से जूझ रहे थे. उनके कुछ इंस्टाग्राम पोस्ट भी कुछ इसी ओर इशारा करते दिखाई दे रहे हैं. लेकिन सुशांत के डिप्रेशन से ग्रसित होने की बातें गले नहीं उतर रही हैं. क्योंकि सुशांत सिंह राजपूत को हमेशा हंसते-मुस्कराते और एनर्जी से भरा पाया गया है. हाल ही में उन्होंने फिल्म छिछोरे में भी शानदार अभिनय किया था. पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की बायोपिक में सुशांत सिंह राजपूत का ने लीड रोल निभाया था. इस फिल्म में उन्होंने शानदार एक्टिंग किया था.

  • लॉकडाउन और कोरोना के डर ने लोगों के मानसिक स्वास्थ्य पर असर डालना शुरू कर दिया

    लॉकडाउन और कोरोना के डर ने लोगों के मानसिक स्वास्थ्य पर असर डालना शुरू कर दिया

    Jharkhnad Coronavirus: कोरोना संकट और लॉकडाउन के दौर में बहुत कुछ बदल गया है. बदली हुई परिस्थिति में लोग अपने भविष्य को लेकर आशंकित हैं. लोगों में अवसाद, घबराहट और तनाव की शिकायतें लगातार बढ़ रही हैं. इसे देखते हुए रांची के सीआईपी में समस्या समाधान के लिए लगातार फोन आ रहे हैं. सीआईपी प्रबंधन ने सातों दिन 24 घंटे मेंटल हेल्पलाइन शुरू की है. कुल 19 नंबर जारी किए गए हैं. साथ ही टोल फ्री नंबर अलग से जारी किए गए हैं. 

  • कोरोनावायरस के इस दौर में Yoga से होगा फायदा, अनुसंधानकर्ताओं ने किया दावा

    कोरोनावायरस के इस दौर में Yoga से होगा फायदा, अनुसंधानकर्ताओं ने किया दावा

    यूनिवर्सिटी ऑफ साउथ ऑस्ट्रेलिया और यूनिवर्सिटी ऑफ न्यू साउथ वेल्स की एक मेडिकल अनुसंधानकर्ताओं की टीम ने अपने अध्ययन में पाया कि योग करने से ऐसे लोगों का मानसिक स्वास्थ्य बेहतर होता है जो अवसाद ग्रस्त हैं, किसी घटना के कारण तनाव से गुजर रहे हैं, जिन्हें सिजोफ्रेनिया, बेचैनी, शराब की लत और बाइपोलर दिक्कतें हैं.

  • मामूली बात पर दो महिलाओं सहित तीन लोगों ने पीटा, पेशाब पिलाई, अवसाद से घिरे युवक ने खुदकुशी की

    मामूली बात पर दो महिलाओं सहित तीन लोगों ने पीटा, पेशाब पिलाई, अवसाद से घिरे युवक ने खुदकुशी की

    मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले में एक 19 साल के युवक ने कथित रूप से आत्महत्या कर ली. उसे एक व्यक्ति और दो महिलाओं ने पीटा और जबरन पेशाब पिलाई. उसने इस घटना के कुछ घंटे बाद खुदकुशी कर ली. शिवपुरी जिले के साजोर गांव में बुधवार को विकास शर्मा नाम का युवक अपने घर के अंदर फांसी से झूलता हुआ मिला. उसके पास से मिले सुसाइड नोट और उसके मोबाइल में मिले उसके वीडियो से इस घटना का खुलासा हुआ.

  • इंदौर में COVID-19 के संदेह में भर्ती 78 वर्षीय बुजुर्ग ने अस्पताल से छलांग लगाकर दी जान

    इंदौर में COVID-19 के संदेह में भर्ती 78 वर्षीय बुजुर्ग ने अस्पताल से छलांग लगाकर दी जान

    कोरोनावायरस संक्रमण के संदेह में यहां एक सरकारी अस्पताल में भर्ती कराए गए 78 वर्षीय बुजुर्ग ने बुधवार सुबह इस चिकित्सा संस्थान की चौथी मंजिल से कथित तौर पर छलांग लगाकर आत्महत्या कर ली. हालांकि, अस्पताल प्रशासन का कहना है कि दोनों फेफड़ों के गंभीर निमोनिया से जूझ रहा यह उम्रदराज मरीज जांच में कोविड-19 संक्रमित नहीं मिला था और संभवत: उसने अचानक अवसाद में आकर कथित तौर पर खुदकुशी का कदम उठाया. यह रोगी पिछले 19 दिन से अस्पताल में भर्ती था.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com