NDTV Khabar

आंध्र प्रदेश विधानसभा चुनाव


'आंध्र प्रदेश विधानसभा चुनाव' - 32 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • पीएम मोदी से मिले आंध्र प्रदेश के नामित मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी, विशेष राज्य का दर्जा समेत कई मुद्दों पर हुई बात

    पीएम मोदी से मिले आंध्र प्रदेश के नामित मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी, विशेष राज्य का दर्जा समेत कई मुद्दों पर हुई बात

    बता दें कि जगन मोहन रेड्डी ने बीते दिनों राज्य में हुए विधानसभा चुनाव के दौरान आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने के मुद्दे को अपने चुनाव प्रचार के केंद्र में रखा था. याद हो कि उन्होंने चुनाव से पहले ही कहा था कि वह केंद्र में बनने वाली ऐसी किसी भी सरकार को अपना समर्थन देंगे जो आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देगी.

  • Assembly Election Results 2019: लालच ने ध्वस्त किया आंध्र प्रदेश में चंद्रबाबू नायडू का किला, वाईएसआर कांग्रेस ने इस वजह से पाई प्रचंड जीत

    Assembly Election Results 2019: लालच ने ध्वस्त किया आंध्र प्रदेश में चंद्रबाबू नायडू का किला, वाईएसआर कांग्रेस ने इस वजह से पाई प्रचंड जीत

    Assembly Election Results 2019: आंध्र प्रदेश में हुए विधानसभा चुनावों में सत्ता परिवर्तन हो गया है और वाईएसआर कांग्रेस ने बहुमत के साथ प्रचंड जीत हासिल की है. चुनाव आयोग के आंकड़ों के मुताबिक वाईएसआर कांग्रेस ने 175 विधानसभा सीटों में से 150 सीटों पर जीत हासिल की है और वह एक सीट पर आगे चल रही है.

  • Assembly Elections Results 2019: गैर बीजेपी-गैर कांग्रेस दलों को एकजुट करने वाले एन चंद्रबाबू नायडू की सीएम की कुर्सी भी गई...

    Assembly Elections Results 2019: गैर बीजेपी-गैर कांग्रेस दलों को एकजुट करने वाले एन चंद्रबाबू नायडू की सीएम की कुर्सी भी गई...

    आंध्र प्रदेश में हुए विधानसभा चुनाव की मतगणना का काम जारी है. अभी तक के प्राप्‍त रुझानों के अनुसार जगन मोहन रेड्डी की पार्टी वाईएसआर कांग्रेस ने राज्‍य की 175 सीटों में से 138 सीटों पर बढ़त बना ली है जबकि नायडू की पार्टी टीडीपी केवल 30 सीटों पर ही आगे चल रही है.

  • Andhra Pradesh Assembly Results 2019: चंद्रबाबू नायडु की सियासत पर सवालिया निशान, जगन रेड्डी होंगे अगले मुख्यमंत्री

    Andhra Pradesh Assembly Results 2019: चंद्रबाबू नायडु की सियासत पर सवालिया निशान, जगन रेड्डी होंगे अगले मुख्यमंत्री

    Loksabha Election 2019 आंध्र प्रदेश में संपन्न विधानसभा चुनाव की मतगणना में विपक्षी वाईएसआर कांग्रेस शानदार जीत की दिशा में बढ़ रही है. पार्टी को 80 सीटों पर जीत मिल चुकी है और वह 70 सीटों पर आगे चल रही है.

  • Assembly Elections Results 2019 Updates: आंध्र प्रदेश में चंद्रबाबू नायडू की पार्टी का पत्ता साफ, ओडिशा में पांचवीं बार सीएम बनेंगे नवीन पटनायक

    Assembly Elections Results 2019 Updates: आंध्र प्रदेश में चंद्रबाबू नायडू की पार्टी का पत्ता साफ, ओडिशा में पांचवीं बार सीएम बनेंगे नवीन पटनायक

    Assembly Elections Results 2019: 17वीं लोकसभा के गठन के लिये सात चरणों में 11 अप्रैल से 19 मई तक हुए आम चुनाव (Lok Sabha Elections Results 2019) के साथ ही आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, ओडिशा और सिक्किम में विधानसभा चुनाव भी संपन्‍न हुए.

  • EVM स्ट्रॉन्ग रूम पर खुद का ताला लगाना चाहते हैं BJP उम्मीदवार, जानें क्या है वजह

    EVM स्ट्रॉन्ग रूम पर खुद का ताला लगाना चाहते हैं BJP उम्मीदवार, जानें क्या है वजह

    तेलंगाना की 17 लोकसभा सीटों पर 11 अप्रैल को 62.69 प्रतिशत मतदान हुआ. इस चरण में पूर्व केन्द्रीय मंत्री रेणुका चौधरी और ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन औवेसी चुनाव लड़ रहे थे. खम्मम में 75.28 जबकि हैदराबाद में 44.75 प्रतिशत मतदान हुआ. औवेसी हैदराबाद से ही चुनाव लड़ रहे थे. निजामाबाद लोकसभा सीट पर 68.33 प्रतिशत मतदान हुआ. 170 किसानों समेत 185 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे थे. 2014 में अविभाजित आंध्र प्रदेश विधानसभा और लोकसभा चुनाव में 70.75 प्रतिशत मतदान हुआ था.

  • लोकसभा चुनाव : बंगाल में सबसे ज्यादा मतदान, बिहार में सबसे कम, पहले चरण के मतदान की 10 बड़ी बातें

    लोकसभा चुनाव : बंगाल में सबसे ज्यादा मतदान, बिहार में सबसे कम, पहले चरण के मतदान की 10 बड़ी बातें

    लोकसभा चुनाव के पहले चरण के लिये बृहस्पतिवार को 20 राज्यों की 91 सीटों के लिये मतदान लगभग शांति पूर्ण रहा. हालांकि, कुछ राज्यों से छिटपुट हिंसा की खबरें सामने आईं. शाम पांच बजे तक के आंकड़ों के अनुसार सबसे कम बिहार में 50 प्रतिशत और पश्चिम बंगाल में 81 प्रतिशत मतदान हुआ. वहीं उत्तर प्रदेश के चुनाव आयुक्त उमेश सिन्हा ने संवाददाता सम्मेलन में बताया कि पहले चरण के चुनाव में मतदान का स्तर सामान्य रहा. सिन्हा ने कहा कि अंतिम आंकड़े आने तक यह स्तर पिछले चुनाव की तुलना में लगभग बराबर ही होगा. उन्होंने कहा कि सभी 20 राज्यों की मतदान वाली सीटों पर सामान्य रूप से शांतिपूर्ण मतदान रहा. कुछ इलाकों में हिंसा और बाधा पहुंचाने की शिकायतें जरूर मिली जिन्हें तत्काल दूर कर दिया गया. उन्होंने बताया कि पहले चरण में 91 सीटों पर कुल 1239 उम्मीदवार चुनाव मैदान में है. आंध्र प्रदेश की 25 लोकसभा और 175 विधानसभा सीटों पर शाम छह बजे तक 74 प्रतिशत मतदान हुआ और तेलंगाना की 17 सीटों पर 60 प्रतिशत मतदान हुआ. जबकि संयुक्त आंध्र प्रदेश में 2014 के चुनाव में 76.64 प्रतिशत मतदान हुआ था.

  • VIDEO: वोट डालने पोलिंग बूथ पर पहुंचे उम्मीदवार ने गुस्से में तोड़ डाली EVM, पुलिस ने किया गिरफ्तार

    VIDEO: वोट डालने पोलिंग बूथ पर पहुंचे उम्मीदवार ने गुस्से में तोड़ डाली EVM, पुलिस ने किया गिरफ्तार

    पुलिस ने बताया कि मधुसूदन गुप्ता नाम के उम्मीदवार ने अनंतपुर जिले की गुंटाकल विधानसभा सीट के एक पोलिंग बूथ में ईवीएम को उठाकर जमीन पर फेंक दिया. न्यूज एजेंसी आईएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक गुप्ता गुट्टी में पोलिंग बूथ पर अपना वोट डालने आए थे, वहां पर वह चुनाव कर्मचारियों पर गुस्सा हो गए, क्योंकि उनका कहना था कि ईवीएम में संसदीय और विधानसभा सीट सही से नहीं दिख रही थीं.

  • 1st Phase Lok Sabha Elections 2019 : लोकसभा चुनाव के पहले चरण का मतदान और 10 बड़ी बातें

    1st Phase Lok Sabha Elections 2019 : लोकसभा चुनाव के पहले चरण का मतदान और 10 बड़ी बातें

    17वीं लोकसभा चुनाव के पहले चरण के लिए मतदान जारी है. 545 सीटों में से 91 सीटों के लिए आज वोट डाले जाएंगे. इनमें 18 राज्यों और 2 केंद्र शासित प्रदेश शामिल हैं. आंध्र और तेलंगाना समेत 8 राज्यों में आज ही वोटिंग पूरी हो जाएगी. पहले चरण में क़रीब 14 करोड़ मतदाता 1279 उम्मीदवारों की क़िस्मत का फ़ैसला करेंगे. इस चरण में 1190 पुरुष और 89 महिला उम्मीदवार मैदान में हैं. नितिन गडकरी, किरेन रिजीजू, हंसराज अहीर, सत्यपाल सिंह, महेश शर्मा, वीके सिंह, चिराग पासवान, अजय टम्टा समेत कई दिग्गज उम्मीदवारों की क़िस्मत आज ईवीएम में क़ैद हो जाएगी. आंध्र, ओडिशा, सिक्किम और अरुणाचल प्रदेश में आज ही विधानसभा चुनाव के लिए भी वोटिंग है.. शांतिपूर्ण मतदान के लिए कड़े सुरक्षा इंतज़ाम किए गए हैं. यह पहला मौक़ा है जब सभी पोलिंग बूथ पर VVPAT का इस्तेमाल हो रहा है.. सात चरणों के मतदान के बाद 23 मई को नतीजे आएंगे.

  • आंध्र प्रदेश के चुनावी मुकाबले में 'एक्स फैक्टर' हैं पवन कल्याण : प्रणय रॉय का विश्लेषण

    आंध्र प्रदेश के चुनावी मुकाबले में 'एक्स फैक्टर' हैं पवन कल्याण  : प्रणय रॉय का विश्लेषण

    तेलगाना से अलग हुए आंध्र प्रदेश में इस बार इसकी 175 विधानसभा सीटों और 25 लोकसभा सीटों के लिए कड़ा मुकाबला है. इस बार, मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू अपने कट्टर प्रतिद्वंद्वी वाईएस जगनमोहन रेड्डी का सामना कर रहे हैं, जबकि इस बार उनके साथ न को बीजेपी है, न ही अभिनेता और राजनीतिज्ञ पवन कल्याण का उन्हें समर्थन हासिल है. पवन कल्याण की पार्टी 'जन सेना' इस बार खुद अपने दम पर चुनाव लड़ रही है, यह पार्टी तीन सीटों पर चुनाव लड़ रही है.

  • लोकसभा चुनाव : क्या मायावती बन पाएंगी इस बार देश की पहली दलित प्रधानमंत्री?

    लोकसभा चुनाव : क्या मायावती बन पाएंगी इस बार देश की पहली दलित प्रधानमंत्री?

    बीएसपी सुप्रीमो मायावती खुद को पीएम पद का उम्मीदवार मानती हैं. उनका कहना है कि अगर केंद्र में सरकार चलाने का मौका मिला तो वह उत्तर प्रदेश की तर्ज पर देश का विकास करेंगी. यह बात उन्होंने विशाखापत्तनम में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कही है. लेकिन इन सब के बीच एक बात जानकर हैरानी होगी की अब पहले चरण का मतदान होने में सिर्फ 5 ही दिन बचे हैं और उत्तर प्रदेश की चार बार मुख्यमंत्री रहीं मायावती की एक भी रैली राज्य में नहीं हुई हैं. उन्होंने अब तक चार रैलियों को संबोधित किया है जिनमें ओडिशा, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र और तेलंगाना हैं.

  • नहीं हुआ विकास तो गुस्साए लोगों ने डिप्टी CM को गांव में घुसने नहीं दिया, बिना प्रचार के लौटना पड़ा

    नहीं हुआ विकास तो गुस्साए लोगों ने डिप्टी CM को गांव में घुसने नहीं दिया, बिना प्रचार के लौटना पड़ा

    2014 में पेद्दापुरम विधानसभा सीट से चुनाव जीतने वाले मंत्री को स्थानीय लोगों ने गांव में घुसने तक नहीं दिया. साथ में ही स्थानीय लोगों ने उनसे कोई बातचीत नहीं की. स्थानीय लोग गांव में विकास के कई काम नहीं होने की वजह से गुस्से में थे. आंध्र प्रदेश में 175 विधानसभा सीटों पर 11 अप्रैल को मतदान होगा, इसी दिन प्रदेश की 25 लोकसभा सीटों पर भी चुनाव होगा. मतगणना 23 मई को होगी.

  • Lok Sabha Election 2019: एक महीने से ज्यादा चलेगा चुनावी समर, पहली बार लागू होंगे ये नियम, 10 बड़ी बातें

    Lok Sabha Election 2019: एक महीने से ज्यादा चलेगा चुनावी समर, पहली बार लागू होंगे ये नियम, 10 बड़ी बातें

    चुनाव आयोग (Election Commision) द्वारा रविवार को बहुप्रतीक्षित 17वीं लोकसभा के चुनाव (Lok Sabha Election) कार्यक्रम की घोषणा के साथ ही देश में 11 अप्रैल से शुरु होने वाला चुनावी समर एक महीने से अधिक समय तक चलेगा. जिसमें एक ओर भाजपा फिर से सत्तारूढ़ होने का हरसंभव प्रयास करेगी, वहीं विपक्षी दल एकजुट होकर मोदी सरकार को सत्ता से बेदखल करने की भरसक कोशिश करेंगे. आयोग ने लोकसभा और चार राज्यों- आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, ओडिशा और सिक्किम में विधानसभा के चुनाव का कार्यक्रम घोषित दिया है. इसके तहत सात चरणों में 11 अप्रैल से 19 मई तक होने वाले मतदान के बाद 23 मई को मतगणना होगी. बता दें, साल 2014 में 16वीं लोकसभा का चुनाव नौ चरण में कराया गया था. 2019 के लोकसभा चुनाव में आपको कई नियम और प्रावधान पहली बार देखने को मिलेंगे. इस बार उम्मीदवारों को विज्ञापन देकर अपना आपराधिक रिकॉर्ड बताना होगा. इसके साथ ही उन्हें सोशल मीडिया अकांउट की जानकारी देना होगी.

  • लोकसभा के साथ होंगे आंध्र, अरुणाचल, ओडिशा और सिक्किम में विधानसभा चुनाव

    लोकसभा के साथ होंगे आंध्र, अरुणाचल, ओडिशा और सिक्किम में विधानसभा चुनाव

    चुनाव आयोग ने 17वीं लोकसभा के गठन के लिये सात चरणों में 11 अप्रैल से 19 मई तक होने वाले आम चुनाव (Lok Sabha Elections 2019) के साथ ही आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, ओडिशा और सिक्किम में विधानसभा चुनाव कराने का फैसला किया है.

  • चार राज्यों के विधानसभा चुनाव भी हो सकते हैं लोकसभा चुनाव के साथ, ऐलान संभव

    चार राज्यों के विधानसभा चुनाव भी हो सकते हैं लोकसभा चुनाव के साथ, ऐलान संभव

    चार राज्यों में इस साल होने वाले विधानसभा चुनावों की तारीखों का भी ऐलान कर सकता है. ये चार राज्य हैं सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश, ओडिशा और आंध्र प्रदेश. चारों राज्यों की सरकारों का कार्यकाल अप्रैल-मई के बीच खत्म हो रहा है. 

  • प्रियंका की एंट्री के बाद नए तेवर में कांग्रेस, आंध्र प्रदेश के बाद अब पश्चिम बंगाल में भी 'एकला चलो' रणनीति पर फोकस

    प्रियंका की एंट्री के बाद नए तेवर में कांग्रेस, आंध्र प्रदेश के बाद अब पश्चिम बंगाल में भी 'एकला चलो' रणनीति पर फोकस

    आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल उनमें से एक हैं. कांग्रेस ने बुधवार को आंध्र प्रदेश में इसकी घोषणा भी कर दी. अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के महासचिव और केरल के पूर्व मुख्यमंत्री ओमन चांडी ने इस संबंध में कहा था कि कांग्रेस आंध्र प्रदेश में सभी 175 विधानसभा सीटों और 25 लोकसभा सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी टीडीपी के साथ हमारा गठबंधन केवल राष्ट्रीय स्तर पर है, ऐसे में हम राज्य में टीडीपी के साथ गठबंधन  नहीं करेंगे.’’    

  • अब आंध्र प्रदेश के 'चुनावी रण' में अकेली उतरेगी कांग्रेस, विधानसभा और लोकसभा चुनाव अपने दम पर लड़ेगी

    अब आंध्र प्रदेश के 'चुनावी रण' में अकेली उतरेगी कांग्रेस, विधानसभा और लोकसभा चुनाव अपने दम पर लड़ेगी

    आंध्र प्रदेश में एक साथ होने वाले विधानसभा और लोकसभा चुनाव में कांग्रेस अकेली चुनाव लड़ेगी.

  • BJP को 2019 में रोकने के लिए विपक्षी दल आज होंगे एकजुट, 'महागठबंधन' सहित कई मुद्दों पर होगी चर्चा, 10 बातें...

    BJP को 2019 में रोकने के लिए विपक्षी दल आज होंगे एकजुट, 'महागठबंधन' सहित कई मुद्दों पर होगी चर्चा, 10 बातें...

    अगले साल लोकसभा चुनाव होने हैं. इससे पहले विपक्ष बीजेपी और मोदी सरकार के खिलाफ एकजुट होने का प्रयास कर रहा है. इसी के मद्देनजर सोमवार को विपक्षी नेताओं की बैठक होगी. बताया जा रहा है कि बैठक में बीजेपी का मुकाबला करने के लिए एक 'महागठबंधन' बनाने पर भी चर्चा होगी. यह बैठक इसलिए भी महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह बैठक मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान, तेलंगाना और मिजोरम विधानसभा चुनाव के परिणामों की घोषणा और संसद का शीतकालीन सत्र शुरू होने से ठीक एक दिन पहले हो रही है. तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) प्रमुख और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू बैठक का समन्वय कर रहे हैं. उन्होंने सभी गैर-भाजपा दलों के नेताओं को आमंत्रित किया है. उधर, बीजेपी ने बैठक पर तंज कसा है. बैठक का उपहास उड़ाते हुए बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार को हटाने के बारे में सोचने से पहले उन्हें प्रधानमंत्री पद का कोई उम्मीदवार घोषित करना चाहिए.