NDTV Khabar

आनंदीबेन पटेल


'आनंदीबेन पटेल' - 117 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • गंगा नदी की लहरों पर होगा लेजर शो, 15 लाख दीयों से सजेंगे काशी के घाट

    गंगा नदी की लहरों पर होगा लेजर शो, 15 लाख दीयों से सजेंगे काशी के घाट

    अयोध्या में दिवाली के भव्य व सफल आयोजन के बाद काशी की विश्व प्रसिद्ध देव दीपावली को योगी सरकार भव्य बनाने जा रही है. देव दीपावली पर पिछले साल काशी के घाटों को दस लाख दीयों की रोशनी से रोशन किया गया था, जबकि इस बार देव दीपावली को भव्‍य बनाने के लिए 15 लाख से अधिक दीयों को जलाया जाएगा. 30 नवम्बर कार्तिक पूर्णिमा के दिन बनारस के 84 घाट 15 लाख दीयों की रोशनी से झिलमिलाएंगे. कार्यक्रम में  उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के शिरकत करने की संभावना है.

  • भव्य दीपोत्सव का आयोजन : अयोध्या ने गिनीज बुक में दर्ज कराया रिकॉर्ड

    भव्य दीपोत्सव का आयोजन : अयोध्या ने गिनीज बुक में दर्ज कराया रिकॉर्ड

    अयोध्या में सरयू के तट पर शुक्रवार को भव्य दीपोत्सव का आयोजन किया गया. इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अलावा राज्यपाल आनंदीबेन पटेल तथा राज्य सरकार के अनेक मंत्रियों ने सरयू नदी की आरती की. कोविड-19 प्रोटोकॉल की वजह से नया घाट पर विभिन्न आरती स्थल बनाए गए.

  • 'भय बिनु होई न प्रीति'.....PM मोदी के 5 बड़े बयान जिन पर हो रही है चर्चा

    'भय बिनु होई न प्रीति'.....PM मोदी के 5 बड़े बयान जिन पर हो रही है चर्चा

    अयोध्या में राम मंदिर के लिए भूमि पूजन के बाद पीएम मोदी ने वहां लोगों को भी संबोधित किया. उन्होंने अपने भाषण की शुरुआत 'जय सिया राम' से की है. उन्होंने कहा कि आज यह पूरे दुनिया में गूंज रहा है और कहा कि आज पूरा देश राममय हो गया है. आज उनके भाषण की खास बात ये रही है कि उन्होंने जय श्री राम की जगह, जय सिया राम का नारा लगाया है. इससे पहले मंदिर आंदोलन से जुड़े नेता जय श्री राम का नारा लगाते थे. प्रधानमंत्री मोदी ने आज परंपरागत धोती-कुर्ता पहन रखा था. उनके साथ राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, संघ प्रमुख मोहन भागवत और सीएम योगी आदित्यनाथ मौजूद थे.

  • 29 साल बाद अयोध्या पहुंचे पीएम मोदी ने रामलला को किया साष्टांग प्रणाम, बने पहले प्रधानमंत्री, देखें Video

    29 साल बाद अयोध्या पहुंचे पीएम मोदी ने रामलला को किया साष्टांग प्रणाम, बने पहले प्रधानमंत्री, देखें Video

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या में हनुमानगढ़ी के दर्शन करने के बाद जब सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ भूमि पूजन स्थल पर पहुंचे तो वहां विराजमान रामलला की मूर्तियों के सामने साष्टांग लेटकर प्रणाम किया है. आपको बता दें कि रामलला के दर्शन करने वाले पहले प्रधानमंत्री बन गए हैं. इसके साथ ही वह हनुमान गढ़ी के दर्शन करने वाले पहले भारतीय प्रधानमंत्री बन गए हैं. आपको बता दें कि पीएम मोदी 29 साल बाद अयोध्या पहुंचे हैं. इससे पहले वह राम मंदिर आंदोलन के समय यहां आए थे. भूमि पूजन के दौरान पीएम मोदी के साथ यूपी की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और सीएम योगी आदित्यनाथ मौजूद थे. इससे पहले हनुमानगढ़ी के दर्शन के दौरान भी पीएम मोदी के साथ सिर्फ सीएम योगी मौजूद थे. 

  • आज संविधान की इस मूल भावना को आप सभी से शेयर करने का मन हुआ : रविशंकर प्रसाद

    आज संविधान की इस मूल भावना को आप सभी से शेयर करने का मन हुआ : रविशंकर प्रसाद

    अयोध्या में आज राम मंदिर निर्माण को लेकर होने जा रहे भूमि पूजन के लिए भव्य तैयारियां हैं. पीएम मोदी 11:30 बजे अयोध्या पहुंच जाएंगे. इसके अलावा मुख्य अतिथि के तौर पर आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मौजूद रहेंगे. इसके अलावा 200 दूसरे विशिष्ट अतिथियों को आमंत्रित किया गया है जिसमें कई साधु-संत शामिल हैं. इस कार्यक्रम को लेकर सभी राजनीतिक दलों की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं.

  • मंदिर आंदोलन से जुड़े वे लोग जिन्हें आखिरी सांस तक था पूरा विश्वास - मंदिर वहीं बनेगा

    मंदिर आंदोलन से जुड़े वे लोग जिन्हें आखिरी सांस तक था पूरा विश्वास - मंदिर वहीं बनेगा

    अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन को लेकर भव्य तैयारियां चल रही हैं. 5 अगस्त यानी बुधवार को पीएम मोदी, आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और सीएम योगी आदित्यनाथ इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर हिस्सा लेंगे. अयोध्या में इस कार्यक्रम को लेकर भव्य तैयारियां हो रही हैं. लोगों का कहना है कि सदियों बाद अयोध्या को इस तरह सजाया गया है. लंबे विवाद और सालों तक कानूनी लड़ाई लड़ने के बाद मंदिर के पक्षकारों को आज यह दिन देखने को मिल रहा है. लेकिन मंदिर आंदोलन के कई प्रमुख नेता जिन्होंने इस दिन को देखने के लिए पूरा जीवन खपा दिया वे आज इस दुनिया में नही हैं. इनमें प्रमुख अशोक सिंघल, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी,  श्रीराम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष रहे रामचंद्र परमहंस और गोरखनाथ मन्दिर के भूतपूर्व पीठाधीश्वर महंत अवैद्यनाथ हैं. इन सबने मंदिर आंदोलन को लेकर एक लंबी लड़ाई लड़ी है और साथ में कई आरोप भी झेले हैं.  

  • राम जन्म भूमि पूजन के कार्ड में पीएम मोदी के अलावा तीन और लोगों का नाम शामिल

    राम जन्म भूमि पूजन के कार्ड में पीएम मोदी के अलावा तीन और लोगों का नाम शामिल

    Ram Mandir Bhumi Pujan:  इस निमंत्रण पत्र में पीएम मोदी के अलावा केवल तीन लोगों का नाम है, जोकि मेहमानों की सूची में की गई छंटनी का संकेत है. कार्ड में पीएम मोदी अलावा आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ का नाम दिखाई दे रहा है. कोविड संकट के चलते इस कार्यक्रम में सिमित संख्या में ही लोग बुलाए जा रहे हैं.  

  • मध्यप्रदेश के शिवराज सिंह चौहान मंत्रिमंडल के विस्तार पर पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती नाखुश

    मध्यप्रदेश के शिवराज सिंह चौहान मंत्रिमंडल के विस्तार पर पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती नाखुश

    मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह चौहान सरकार के मंत्रिमंडल का गुरुवार को विस्‍तार किया गया. प्रदेश की कार्यकारी राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल ने 28 विधायकों को मंत्री के रूप में पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. इसमें 20 कैबिनेट स्‍तर के और आठ राज्‍य मंत्री हैं. बीजेपी की वरिष्ठ नेत्री और मध्यप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती शिवराज मंत्रिमंडल के विस्तार को लेकर नाराज हैं. उन्होंने कहा है कि उनके सहयोगियों को मंत्रिमंडल में जगह नहीं दी गई है. इसको लोकरे उन्होंने बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष को पत्र भी लिखा है.

  • आनंदीबेन पटेल बुधवार को लेंगी मध्यप्रदेश के राज्यपाल पद की शपथ

    आनंदीबेन पटेल बुधवार को लेंगी मध्यप्रदेश के राज्यपाल पद की शपथ

    उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल बुधवार को मध्य प्रदेश के राज्यपाल पद की भी शपथ लेंगी.आनंदीबेन पटेल को 28 जून को मध्यप्रदेश के राज्यपाल का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है. आधिकारिक जानकारी के अनुसार आनंदीबेन पटेल बुधवार को भोपाल आएंगी और मध्य प्रदेश के उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश अजय कुमार मित्तल उन्हें राजभवन में आयोजित एक सादे समारोह में शाम साढ़े चार बजे राज्यपाल के पद की शपथ दिलाएंगे.

  • उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को मध्यप्रदेश का अतिरिक्त प्रभार

    उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को मध्यप्रदेश का अतिरिक्त प्रभार

    उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पेटल (Anandiben Patel) को मध्यप्रेदश का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है. राष्ट्रपति भवन ने रविवार को जारी बयान में यह जानकारी दी.

  • योगी कैबिनेट का पहला विस्तार: 6 कैबिनेट समेत 23 नए मंत्रियों ने ली शपथ, देखें लिस्ट

    योगी कैबिनेट का पहला विस्तार: 6 कैबिनेट समेत 23 नए मंत्रियों ने ली शपथ, देखें लिस्ट

    राजभवन में आयोजित समारोह में राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने छह कैबिनेट मंत्रियों, छह राज्य मंत्रियों (स्वतंत्र प्रभार) और 11 राज्य मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलायी.

  • CM योगी आदित्यनाथ ने विधानभवन में किया ध्वजारोहण, फिर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से बंधवाई राखी

    CM योगी आदित्यनाथ ने विधानभवन में किया ध्वजारोहण, फिर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से बंधवाई राखी

    मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्वतंत्रता दिवस और रक्षाबंधन पर दिये गये अपने संदेश में कहा कि ''मैं सभी माताओं बहनों और बेटियों के स्वस्थ, सुरक्षित और सुखद जीवन की मंगल कामना करता हूं.'' 

  • आनंदी बेन पटेल होंगी यूपी की नई गवर्नर, एमपी और बिहार समेत कई राज्यों में बड़ा फेरबदल

    आनंदी बेन पटेल होंगी यूपी की नई गवर्नर, एमपी और बिहार समेत कई राज्यों में बड़ा फेरबदल

    देश में कई राज्यों में गवर्नर पद पर बड़ा फेरबदल किया गया है. गवर्नरों की अदला-बदली की गई है. अब तक मध्य प्रदेश की गवर्नर रहीं आनंदी बेन पटेल को यूपी का गवर्नर बनाया गया है. बिहार के गवर्नर लालजी टंडन अब मध्य प्रदेश के गवर्नर पद की जिम्मेदारी संभालेंगे. फगु चौहान को बिहार का गवर्नर बनाया गया है.

  • मध्य प्रदेश में 15 साल बाद बना कोई मुस्लिम मंत्री, कमलनाथ कैबिनेट में मिली जगह

    मध्य प्रदेश में 15 साल बाद बना कोई मुस्लिम मंत्री, कमलनाथ कैबिनेट में मिली जगह

    मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मंगलवार को अपने कैबिनेट का विस्तार किया और करीब 28 मंत्रियों को सरकार में शामिल किया. राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने 28 विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलाई. मंत्रियों में दो महिलाएं, एक मुस्लिम एवं एक निर्दलीय शामिल हैं. मध्य प्रदेश में पिछले 15 साल बाद किसी मुस्लिम चेहरे को मंत्रिमंडल में जगह मिली है. 15 साल बाद मुस्लिम समुदाय को आरिफ अकील के रूप में मंत्रिमंडल में जगह मिली है. जिन दो महिला विधायकों को मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है, वे विजयलक्ष्मी साधौ (महेश्वर विधानसभा सीट) एवं इमरती देवी (डबरा विधानसभा सीट) हैं, वहीं, कमलनाथ ने वारासिवनी के निर्दलीय विधायक प्रदीप जायसवाल को भी अपने मंत्रिमंडल में जगह दी है. 

  • मध्यप्रदेश: CM कमलनाथ ने किया कैबिनेट विस्तार, 28 मंत्रियों ने ली शपथ, जातिगत और श्रेत्रीय संतुलन का रखा गया ख्याल

    मध्यप्रदेश: CM कमलनाथ ने किया कैबिनेट विस्तार, 28 मंत्रियों ने ली शपथ, जातिगत और श्रेत्रीय संतुलन का रखा गया ख्याल

    मध्यप्रदेश में कमलनाथ (Kamal Nath) सरकार का आज विस्तार किया गया (Kamal Nath Cabinet Expands). आज 28 मंत्रियों को शपथ दिलाई गई. 17 दिसंबर को अकेले मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शपथ ली थी. कांग्रेस हाईकमान से चर्चा के बाद मंत्रियों की लिस्ट फ़ाइनल हुई और आज राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने उन्हें शपथ दिलाई. मंत्रिमंडल में क्षेत्रीय और जातिगत संतुलन का पूरा ख्याल रखा गया है. साथ ही तीनों बड़े नेता कमलनाथ, दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक विधायकों को मंत्रिमंडल में जगह दी गई है. मध्य प्रदेश मंत्रिमंडल में मुख्यमंत्री कमल नाथ के 11, दिग्विजय सिंह के 9, ज्योतिरादित्य सिंधिया के 7 और अरुण यादव के एक मंत्री शामिल किए गए हैं. मंत्रिमंडल में क्षेत्रीय संतुलन बनाने की कोशिश भी कई गई है. 

  • छत्तीसगढ़: बघेल की टीम में बगावत के सुर! विधायक बोले- मंत्रियों की लिस्ट में नहीं है मेरा नाम, उम्मीद है न्याय मिलेगा

    छत्तीसगढ़: बघेल की टीम में बगावत के सुर! विधायक बोले- मंत्रियों की लिस्ट में नहीं है मेरा नाम, उम्मीद है न्याय मिलेगा

    मंगलवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने मंत्रिमंडल का विस्तार किया. राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने मंगलवार को नौ विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलाई. राजधानी रायपुर के पुलिस परेड मैदान में मंगलवार को विधायक रविन्द्र चौबे, मोहम्मद अकबर, कवासी लखमा, जय सिंह अग्रवाल, शिव डहरिया, महिला विधायक अनिला भेड़िया, रुद्र गुरु, प्रेमसाय सिंह टेकाम और उमेश पटेल ने मंत्री पद की शपथ ली.

  • कमलनाथ के शपथग्रहण समारोह में दिखा दिलचस्प नजारा, देखें VIDEO

    कमलनाथ के शपथग्रहण समारोह में दिखा दिलचस्प नजारा, देखें VIDEO

    कमलनाथ (Kamal Nath) मध्यप्रदेश के 18वें मुख्यमंत्री बन गए हैं. राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कमलनाथ को पद और गोपनियता की शपथ (Kamal Nath Oath Ceremony) दिलाई. कमलनाथ के शपथग्रहण समारोह के दौरान एक दिलचस्प तस्वीर भी देखने को मिली.

  • मुख्यमंत्री पद की शपथ लेते ही कमलनाथ ने वादे के मुताबिक सबसे पहले किया यह काम...

    मुख्यमंत्री पद की शपथ लेते ही कमलनाथ ने वादे के मुताबिक सबसे पहले किया यह काम...

    कमलनाथ (Kamal Nath) मध्यप्रदेश के 18वें मुख्यमंत्री बन गए हैं. राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कमलनाथ को पद और गोपनियता की शपथ (Kamal Nath Oath Ceremony) दिलाई. शपथ लेने के तुरंत बाद ही अपने वादे के मुताबिक मध्यप्रदेश के नवनियुक्त मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राजधानी भोपाल में किसानों के कर्ज़ माफ (Loan Waiver) करने वाली फाइल पर दस्तखत कर दिए. बता दें कि मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शपथ लेने से पहले ही कहा कि था कि वे 10 दिनों से पहले ही किसानों का कर्ज माफ करेंगे.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com