NDTV Khabar

ईदगाह


'ईदगाह' - 20 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • लखनऊ में ईदगाह ने गरीबों के लिए निशुल्क रसोई खोली

    लखनऊ में ईदगाह ने गरीबों के लिए निशुल्क रसोई खोली

    उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ स्थित ऐशबाग ईदगाह ने गुरुद्वारों में लंगर की तर्ज पर सामुदायिक रसोई स्थापित की है. दारूल उलूम के इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया की इस पहल का नाम लंगर-ए-आदम या आदम की रसोई रखा गया है. ईदगाह के इमाम मौलाना खालिद राशिद फिरंगी महली ने कहा कि रसोई में प्रतिदिन शाम 7.30 बजे से 9.30 बजे तक लगभग 200 लोगों को शुद्ध शाकाहारी भोजन कराया जाएगा. आगंतुकों की संख्या बढ़ने पर उनकी योजना यह संख्या बढ़ाने की भी है.

  • Ayodhya Case: मुस्लिम पक्ष से रामलला विराजमान का सवाल, मुगलों ने क्या मस्जिद बनाने के लिए ईदगाह गिराई थी?

    Ayodhya Case: मुस्लिम पक्ष से रामलला विराजमान का सवाल, मुगलों ने क्या मस्जिद बनाने के लिए ईदगाह गिराई थी?

    अयोध्या केस (Ayodhya Case) में मंगलवार को 35 वें दिन की सुनवाई हुई. अयोध्या के राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद जमीन विवाद मामले में संविधान पीठ के समक्ष हिन्दू पक्ष की ओर से परासरण ने भगवद्गीता का श्लोक उद्धृत करते हुए कहा कि पापकर्म की बदनामी मृत्यु से भी निकृष्ट है. लोगों का अगर किसी भूमि स्थान पर अलौकिक शक्तिशाली और ऊर्जा होने का विश्वास और श्रद्धा है तो वह भी कानूनी व्यक्ति हो जाता है. यानी उसे संकट के समय अपने अस्तित्व की रक्षा के लिए अदालत जाने का हक है. इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि उन गुणों की घोषणा स्वयंभू है या किसी ने की है. हिन्दू सनातन दर्शन में तो पांच तत्व धरती, गगन, अग्नि, वायु और जल के साथ दसों दिशाओं की पूजा होती है. श्री देवी भू देवी भी पूजित हैं. परासरण की दलीलें पूरी होने के बाद रामलला की ओर से सी वैद्यनाथन ने दलीलें शुरू कीं. उन्होंने मुस्लिम पक्षकारों की दलील को खारिज किया कि विवादित स्थल पर कोई मंदिर नहीं था.

  • राम मंदिर पर मोहन भागवत ने दिया ऐसा बयान तो मौलानाओं का आया चौंकाने वाला रिएक्शन

    राम मंदिर पर मोहन भागवत ने दिया ऐसा बयान तो मौलानाओं का आया चौंकाने वाला रिएक्शन

    ईदगाह के इमाम और सुन्नी धर्मगुरु मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली ने कहा, "ऐसा बयान देना सही नहीं है जब मामला सर्वोच्च न्यायालय में हो. मध्यस्थता की प्रक्रिया भी अदालत की निगरानी में चल रही है."

  • लोकसभा चुनाव के बीच में पड़ रहा है रमजान, मौलानाओं ने जताया ऐतराज

    लोकसभा चुनाव के बीच में पड़ रहा है रमजान, मौलानाओं ने जताया ऐतराज

    लोकसभा चुनाव के बीच में रमजान पड़ने पर लखनऊ के मौलानाओं ने ऐतराज जताते हुए आयोग से तिथियों में फेरबदल करने की मांग की है. ईदगाह इमाम मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने नाराजगी जताई है. उन्होंने चुनाव आयोग से मुसलमानों की भावना का खयाल रखने और चुनाव तिथि रमजान माह से पहले या बाद में करने की मांग की है.

  • देश में पहली बार मदरसे के छात्रों के लिए ऑल इंडिया स्तर की खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन

    देश में पहली बार मदरसे के छात्रों के लिए ऑल इंडिया स्तर की खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन

    एमएसके इवेंट द्वारा किये गये इस कार्यक्रम मे मुख्य अतिथि के तौर पर लखनऊ ईदगाह के इमाम व शहरकाजी मौलाना खालिद रशीद तथा आल इंडिया रेलवे मेन्सफेडरेशन के महामंत्री शिव गोपाल मिश्रा मौजूद थे.

  • श्रीनगर में ईद की नमाज के बाद पत्थरबाजी, IS और पाकिस्तान के झंडे भी लहराए गए

    श्रीनगर में ईद की नमाज के बाद पत्थरबाजी, IS और पाकिस्तान के झंडे भी लहराए गए

    जम्मू-कश्मीर में पत्थरबाजों ने ईद के दिन को भी नहीं बख्शा. श्रीनगर में ईद की नमाज के बाद भीड़ ने सेना पर पथराव किया. जिसके जवाब में सेना ने आंसू गैस के गोले छोड़े. पत्थरबाज यहीं नहीं रूके, इस दौरान IS और पाकिस्तान के झंडे भी लहराए गए. बता दें कि श्रीनगर के ईदगाह इलाके में भी झड़प हुई, जहां बड़ी संख्या में लोग ईद की नमाज अदा करने के लिए जुटे थे.  

  • खुले में नमाज न पढ़ने की सलाह के बाद खट्टर का यूटर्न, अब अनिल विज ने दिया यह बयान 

    खुले में नमाज न पढ़ने की सलाह के बाद खट्टर का यूटर्न, अब अनिल विज ने दिया यह बयान 

    खुले स्थान की बजाय ईदगाह और मस्जिद में ही नमाज पढ़ने की सलाह देने के एक दिन बाद ही हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने यूटर्न लेते दिख रहे हैं. खट्टर ने अब अपने ताजा बयान में कहा है कि उन्होंने खुले में नमाज पढ़ने से रोक लगाने की बात नहीं कही थी. उन्होंने कहा, 'मैंने खुले में नमाज पढ़ने पर रोक लगाने की बात नहीं की थी. अगर किसी को खुले में नमाज पढ़ने में परेशानी आ रही है तो वो पुलिस प्रशासन से संपर्क करें.'

  • हरियाणा के सीएम खट्टर बोले - सार्वजनिक स्थानों की जगह मस्जिद या ईदगाह में ही पढ़ें नमाज

    हरियाणा के सीएम खट्टर बोले - सार्वजनिक स्थानों की जगह मस्जिद या ईदगाह में ही पढ़ें नमाज

    हरियाणा के गुरुग्राम में शुक्रवार को (4 मई) कुछ हिंदुवादी संगठनों द्वारा नमाज में बाधा पहुंचाए जाने की खबर के बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने पहली बार रविवार को मामले पर चुप्पी तोड़ी है. उन्होंने कहा कि सार्वजनिक स्थानों की जगह नजाम सिर्फ मस्जिद या ईदगाह के अंदर ही पढ़नी चाहिए.उन्होंने कहा कि नमाजियों को गुड़गांव में सड़क किनारे, उद्यानों और खाली सरकारी जमीनों पर नमाज अदा करने की इजाजत नहीं है.

  • उत्तर प्रदेश: होली के चलते मुस्लिम धर्मगुरू ने की नमाज का समय बदलने की अपील

    उत्तर प्रदेश: होली के चलते मुस्लिम धर्मगुरू ने की नमाज का समय बदलने की अपील

    ईदगाह के इमाम मौलाना खालिद रशीद फिरंगीमहली ने मस्जिदों से अपील की कि वे जुमे की नमाज का समय आधे घंटे से एक घंटा आगे बढा दें और सांप्रदायिक सद्भाव का संदेश जन जन तक पहुंचायें.

  • कश्मीर में शांति बहाली के लिए सेना को मिले पूरी छूट : मुलायम सिंह यादव

    कश्मीर में शांति बहाली के लिए सेना को मिले पूरी छूट : मुलायम सिंह यादव

    अखिलेश ने भी केंद्र को सलाह दी है कि वह कश्मीर के हालात को नियंत्रित करें. उन्होंने ईद के मौके पर ईदगाह में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की गैर मौजूदगी पर सवाल उठाए. ईद के मौके पर पूर्व में यहां मुख्यमंत्री आते रहे हैं. राज्यपाल राम नाईक और उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा भी ईदगाह पहुंचे और मुसलमानों को ईद की बधाई दी.

  • ईद के मौके पर कश्मीर में कई जगह हिंसा, सुरक्षाकर्मियों ने भीड़ पर काबू पाने के लिए छोड़े आंसू गैस के गोले

    ईद के मौके पर कश्मीर में कई जगह हिंसा, सुरक्षाकर्मियों ने भीड़ पर काबू पाने के लिए छोड़े आंसू गैस के गोले

    जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में ईद के मौके पर ईदगाह के बाहर प्रदर्शनकारियों और सुरक्षाबलों के बीच झड़प हो गई. सुरक्षाबलों को भीड़ पर काबू पाने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े.

  • श्रीनगर : सैयद अली शाह गिलानी, मीरवाइज फारूक को एहतियातन हिरासत में लिया गया

    श्रीनगर : सैयद अली शाह गिलानी, मीरवाइज फारूक को एहतियातन हिरासत में लिया गया

    पुलिस ने हुर्रियत कांफ्रेंस के नेताओं सैयद अली शाह गिलानी और मीरवाइज फारूक को एहतियातन हिरासत में लिया है क्योंकि वे नजरबंदी का उल्लंघन कर शेख अब्दुल अजीज की आठवीं बरसी पर उन्हें श्रद्धांजलि देने लिये ईदगाह जाने का प्रयास कर रहे थे.

  • ISIS इस्लाम और मानवीयता के खिलाफ, ये लोग मुस्लिम हो ही नहीं सकते : मौलाना महली

    ISIS इस्लाम और मानवीयता के खिलाफ, ये लोग मुस्लिम हो ही नहीं सकते : मौलाना महली

    लखनऊ के ईदगाह के इमाम मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने NDTV को बताया कि मौलानाओं ने ईद की नमाज़ के वक्त इकट्ठी हुई भीड़ को कहा है कि आईएसआईएस इस्लाम और मानवीयता के खिलाफ है... मौलानाओं ने कहा कि आईएसआईएस के लोग मुस्लिम नहीं हो सकते...

  • लखनऊ के एशबाग ईदगाह में पहली बार ईद पर महिलाएं अदा करेंगी नमाज

    लखनऊ के एशबाग ईदगाह में पहली बार ईद पर महिलाएं अदा करेंगी नमाज

    लखनऊ के एशबाग ईदगाह में पहली बार ईद पर महिलाएं भी नमाज अदा कर सकेंगी। शहर की इस मुख्य मस्जिद में महिलाओं के लिए समय निर्धारित किया गया है।

  • पाकिस्तान के भीड़भाड़ वाले बाजार में बम विस्फोट, 23 लोगों की मौत, 55 घायल

    पाकिस्तान के भीड़भाड़ वाले बाजार में बम विस्फोट, 23 लोगों की मौत, 55 घायल

    पाकिस्तान में अफगानिस्तान की सीमा से सटे अशांत दक्षिण-पश्चिम कबायली क्षेत्र में रविवार को एक भीड़भाड़ वाले कपड़ा बाजार में शक्तिशाली बम विस्फोट में कम से कम 23 लोगों की मौत हो गई, जबकि 55 अन्य घायल हो गए।

  • महाराष्ट्र : भिवंडी में जादू-टोने के चक्कर में दो युवकों की हत्या

    महाराष्ट्र : भिवंडी में जादू-टोने के चक्कर में दो युवकों की हत्या

    महाराष्ट्र में मुंबई से सटे भिवंडी में भोईवाडा पुलिस स्टेशन के अंतर्गत ईदगाह रोड अमानी शाह तकिया कब्रिस्तान में शनिवार को रात दो युवकों की निर्मम हत्या कर दी गई। भोईवाडा पुलिस के मुताबिक सुबह दोनों युवकों की लाश कब्रिस्तान में पड़ी मिली।

  • मुंशी प्रेमचंद की 135वीं जयंती पर विशेष

    मुंशी प्रेमचंद की 135वीं जयंती पर विशेष

    एक सदी पहले जब मुंशी प्रेमचंद का नन्हा किरदार हामिद ‘ईदगाह’ जा रहा था, तो उसके जीवन की सबसे बड़ी विडंबना गरीबी और यतीम होना थी, लेकिन उसके बालसुलभ हौसले के दीये को मुंशी जी ने गुरबत की आंधी में बुझने नहीं दिया।

  • दयाशंकर मिश्र का ब्लॉग : प्रेमचंद की याद में हामिद का टूटा हुआ चिमटा

    दयाशंकर मिश्र का ब्लॉग : प्रेमचंद की याद में हामिद का टूटा हुआ चिमटा

    आज हिंदी कहानी के युगपुरुष की 135वीं जयंती पर दयाशंकर मिश्र उनके मासूम पात्र को नए जमाने में रखकर जो फैंटेसी गढ़ रहे हैं, उसमें गरीबी से जीता हामिद सांप्रदायिकता से पस्तहाल नजर आता है...

Advertisement