NDTV Khabar

उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव 2017


'उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव 2017' - 14 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • बसपा-सपा साथ-साथ! मायावती ने फिर उठाया ईवीएम में गड़बड़ी का मुद्दा, रामगोपाल ने किया स्वागत

    बसपा-सपा साथ-साथ! मायावती ने फिर उठाया ईवीएम में गड़बड़ी का मुद्दा, रामगोपाल ने किया स्वागत

    उत्तर प्रदेश चुनावों में हार के बाद मायावती ने फिर से ईवीएम की विश्ववसनीयता पर सवाल खड़े कर दिए हैं. सोमवार को मायावती ने संसद परिसर में साफ कहा कि उन्होंने अब इस मसले को लेकर कोर्ट जाने का फैसला किया है. समाजवादी पार्टी के रामगोपाल यादव ने मायावती के कदम का स्वागत किया है. इस तरह आपस में दो घोर विरोधी दल इस मुद्दे पर एक साथ खड़े दिखाई दे रहे हैं.

  • दीप नारायण सिंह: क्‍या इस बार लगा पाएंगे हैट्रिक

    दीप नारायण सिंह: क्‍या इस बार लगा पाएंगे हैट्रिक

    दो बार से एमएलए चुने जा रहे समाजवादी पार्टी के दीप नारायण सिंह एक बार फिर गरौठा क्षेत्र से चुनाव मैदान में हैं. उनके सामने सीट बचाने की चुनौती है. दीप नारायण सिंह यूपी विधानसभा में समाजवादी पार्टी से विधायक हैं. 2012 के उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव में इन्होंने उत्तर प्रदेश की गरौठा विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव जीता था. इन्‍हें 700030 वोट मिले थे.

  • अरविन्‍द कुमार सिंह ‘गोप’: क्‍या सपा की चुनौती पर खरे उतर पाएंगे ये

    अरविन्‍द कुमार सिंह ‘गोप’: क्‍या सपा की चुनौती पर खरे उतर पाएंगे ये

    अरविन्‍द कुमार सिंह ‘गोप’ भारत के उत्तर प्रदेश की 15वीं विधानसभा सभा में विधायक रहे चुके हैं. 2007 उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव में इन्होंने उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले के हैदरगढ़ विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र से बतौर समाजवादी पार्टी की ओर से चुनाव लड़ा था.

  • केशव प्रसाद मौर्य : पॉलिटिक्‍स में आने से पहले संघ में बिताया लंबा समय...

    केशव प्रसाद मौर्य : पॉलिटिक्‍स में आने से पहले संघ में बिताया लंबा समय...

    भारतीय जनता पार्टी ने पिछले साल सबसे बड़ा चुनावी दांव खेलते हुए ओबीसी चेहरे केशव प्रसाद मौर्य को यूपी बीजेपी का अध्‍यक्ष बनाया. लंबे समय से विश्व हिंदू परिषद से जुड़े केशव प्रसाद मौर्य ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत की और बीजेपी के टिकट पर पहली बार इलाहाबाद शहर पश्चिमी विधानसभा सीट से चुनाव लड़ा, लेकिन हार का सामना करना पड़ा.

  • आजम खान : कॉलेज से शुरू किया था राजनीतिक सफर...

    आजम खान : कॉलेज से शुरू किया था राजनीतिक सफर...

    उत्‍तर प्रदेश सरकार में मंत्री और विधायक आजम खान को समाजवादी पार्टी ने एक बार रामपुर से टिकट दिया है. आजम खान का जन्‍म उत्तरप्रदेश के रामपुर में 14 अगस्‍त 1948 को हुआ था.

  • नरेश उत्‍तम पटेल : चाचा शिवपाल की जगह अखिलेश यादव ने इस नेता को दी तरजीह...

    नरेश उत्‍तम पटेल : चाचा शिवपाल की जगह अखिलेश यादव ने इस नेता को दी तरजीह...

    उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव ने समाजवादी पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष का पद संभालने के बाद अपने चाचा शिवपाल यादव की जगह नरेश उत्‍तम पटेल को समाजवादी पार्टी का प्रदेश अध्‍यक्ष बनाया था.

  • ब्रजेश पाठक: बसपा का साथ छोड़ बीजेपी से जुड़ना कितना होगा फायदेमंद..

    ब्रजेश पाठक: बसपा का साथ छोड़ बीजेपी से जुड़ना कितना होगा फायदेमंद..

    दबंग छवि वाले ब्रजेश पाठक को बीजेपी ने लखनऊ सेंट्रल सीट से उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव में मैदान में उतारा है. हरदोई के रहने वाले बृजेश पाठक ने लखनऊ यूनिवर्सिटी में छात्र राजनीति के जरिए अपने सियासी जीवन की शुरुआत की थी. बाद में वह छात्रसंघ अध्यक्ष भी चुने गए.

  • उत्तर प्रदेश चुनाव 2017: जानें विधानसभा क्षेत्र देवबंद को

    उत्तर प्रदेश चुनाव 2017:  जानें विधानसभा क्षेत्र देवबंद को

    देवबंद सीट सहारनपुर जिले में आती है. पिछले चुनावों में सपा के राजेंद्र सिंह राणा ने बसपा के मनोज चौधरी को 3050 मतों से हराकर यह सीट कब्जाई थी, लेकिन 2015 में उनकी मौत के बाद हुए चुनाव में यह सीट कांग्रेस के माविया अली की झोली में आ गई. राणा से पहले मनोज चौधरी यहां के विधायक थे. 14वीं विधान सभा यानी 2002 में राजेंद्र सिंह राणा हाथी पर सवार होकर चुनाव जीते थे.

  • उत्तर प्रदेश चुनाव 2017: जानें विधानसभा क्षेत्र हापुड़ को

    उत्तर प्रदेश चुनाव 2017:  जानें विधानसभा क्षेत्र हापुड़ को

    आरक्षित सीट हापुड़ विधान सभा कुछ समय तक भाजपा का सुरक्षित और आसान गढ़ रहा है. लेकिन अब भाजपा की यहां पकड़ कमजोर हो रही है. इस बार यहां त्रिकोणीय मुकाबला है. काफी समय पहले यह सीट कांग्रेस के गजराज सिंह के लिए पक्की थी. वे तीन बार लगातार विधायक बने. राम मंदिर लहर में यह सीट कांग्रेस से छूटकर भाजपा के हाथ में आ गई. उसके बाद दो बार बसपा के धर्मपाल यहां से विधायक बने. 2012 में फिर से गजराज सिंह की वापसी हुई.

  • उत्तर प्रदेश चुनाव 2017: जानें विधानसभा क्षेत्र सिकंदराबाद को

    उत्तर प्रदेश चुनाव 2017:  जानें विधानसभा क्षेत्र सिकंदराबाद को

    सिंकदराबाद विधान सभा सीट बुलंदशहर जिले में आती है. दिल्ली के नजदीक होने के कारण इस पर दिल्ली की राजनीति की छाप भी पड़ती है. वर्तमान में यहां भाजपा की विमला सोलंकी विधायक हैं. उनसे पहले यह सीट बसपा के कब्जे में थी. हालांकि यह सीट भी मुस्लिम बाहुल्य सीट है.

  • वरुण गांधी की अनदेखी से हो सकती है बीजेपी में बड़ी बगावत

    वरुण गांधी की अनदेखी से हो सकती है बीजेपी में बड़ी बगावत

    एक सप्ताह पहले पांच सांसद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से मिले और उनसे स्टार प्रचारकों की सूची में वरुण गांधी का नाम जोड़ने को कहा क्योंकि उनका नाम न होने से आम जनता में गलत संदेश जा रहा था. पांच सांसदों के दल में शामिल रहे हाथरस से बीजेपी सांसद राजेश दिवाकर का कहना है, "मुझे 2009 में टिकट भैयाजी ने ही दिलवाया था. उन्होंने 2009 में मेरी दावेदारी का समर्थन किया था. वह मेरे नेता हैं और मेरे उनसे पारिवारिक संबंध हैं. भैयाजी के अपमान से मेरे क्षेत्र के लोगों में गलत संदेश जा रहा था.

  • मुलायम सिंह ने फोन पर रोकर गठबंधन में शामिल होने की गुहार लगाई : जयंत चौधरी

    मुलायम सिंह ने फोन पर रोकर गठबंधन में शामिल होने की गुहार लगाई : जयंत चौधरी

    उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव में समाजवादी पार्टी और कांग्रेस गठबंधन में शामिल नहीं किए जाने की टीस को उजागर करते हुए राष्ट्रीय लोकदल के महासचिव एवं मथुरा के पूर्व सांसद जयंत चौधरी ने कहा कि वे पहले गठबंधन में शामिल होना चाहते थे क्योंकि सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने फोन पर इसके लिए रोते हुए गुहार लगाई थी.

  • अखबारों की सुर्खियां : छत्‍तीसगढ़ में प्रशासनिक लापरवाही, खाट से बांधकर ले जाना पड़ा शव...

    अखबारों की सुर्खियां : छत्‍तीसगढ़ में प्रशासनिक लापरवाही, खाट से बांधकर ले जाना पड़ा शव...

    दैनिक समाचार पत्रों के शनिवार के संस्करणों में डोनाल्ड ट्रंप के अमेरिका के 45 वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ लेने की खबर प्रमुखता से प्रकाशित की गई है. इसके अलावा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के दलितों को आरक्षण खत्म करने का बयान और उस पर आ रही प्रतिक्रियाओं की खबरें भी प्रमुखता से प्रकाशित की गई हैं.

  • ...तो बुंदेलखंड में बबेरू से चुनाव लड़ेंगे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव?

    ...तो बुंदेलखंड में बबेरू से चुनाव लड़ेंगे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव?

    उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आठ बार के मंत्रिमंडल विस्तार में भले ही बुंदेलखंड के अपने किसी विधायक पर भरोसा न जताया हो, पर उनके एक विधायक ने अपनी बबेरू सीट से उन्हें चुनाव लड़ने का न्योता दिया है. 15 दिसंबर को प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के हमीरपुर दौरे के दौरान उन्हें सपा नेताओं ने बुंदेलखंड से चुनाव लड़ने का प्रस्ताव दिया था. लखनऊ पहुंच कर खुद मुख्यमंत्री ने भी यहां से चुनाव लड़ने की मंशा जाहिर की थी.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com