NDTV Khabar

उद्योग जगत


'उद्योग जगत' - 145 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • पीएम मोदी ने उद्योग जगत से की अपील , कहा- 'मेड इन इंडिया, मेड फॉर द वर्ल्ड' पर दें जोर

    पीएम मोदी ने उद्योग जगत से की अपील , कहा- 'मेड इन इंडिया, मेड फॉर द वर्ल्ड' पर दें जोर

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दावा किया है कि कोरोना संकट के दौरान कमज़ोर पड़ी अर्थव्यवस्था को दोबारा विकास के रास्ते पर लाना संभव है. उद्योग संघ सीआईआई के एनुअल सेशन में पीएम ने कहा, 'उद्योग जगत को अर्थव्यवस्था को आत्म निर्भर बनाने के लिए पहल करनी होगी और फोकस "मेड इन इंडिया, मेड फॉर द वर्ल्ड" पर होना चाहिए.  "प्रधानमंत्री के तौर पर मैं आपको भरोसा दे रहा हूं कि मैं आपके साथ खड़ा हूं.  भारतीय उद्योग जगत के लिए ये 'राइज टू द ओकेजन' की तरह है.   मेरा भरोसा कीजिए, ग्रोथ वापिस हासिल की जा सकती है, इतना मुश्किल भी नहीं है.  और सबसे बड़ी बात कि अब आपके पास, भारतीय उद्योगों के पास एक साफ रास्ता है. आत्मनिर्भर भारत का रास्ता. आत्मनिर्भर भारत का मतलब है कि हम और ज्यादा मजबूत होकर दुनिया को स्वीकार करेंगे."

  • CII के इवेंट में बोले पीएम मोदी- वायरस से लड़ने के लिए उठाने होंगे सख्त कदम, अर्थव्यवस्था का भी रखना होगा ध्यान

    CII के इवेंट में बोले पीएम मोदी- वायरस से लड़ने के लिए उठाने होंगे सख्त कदम, अर्थव्यवस्था का भी रखना होगा ध्यान

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को उद्योग संगठन भारतीय उद्योग परिसंघ (CII) के वार्षिक सत्र को संबोधित किया. उन्होंने अपने संबोधन में भारतीय उद्योग जगत के साथ देश को आर्थिक वृद्धि की राह पर लाने का मंत्र साझा किया.

  • पीएम मोदी के आत्मनिर्भर भारत पैकेज पर उद्योग जगत ने कुछ इस तरह दी प्रतिकिया...

    पीएम मोदी के आत्मनिर्भर भारत पैकेज पर उद्योग जगत ने कुछ इस तरह दी प्रतिकिया...

    राष्ट्र के नाम संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज का ऐलान किया. पीएम ने कहा कि 20 लाख करोड़ रुपये का यह पैकेज 'आत्मनिर्भर भारत अभियान' को नई गति देगा. आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को पूरा करने के लिए इसमें सभी पर बल दिया गया है. प्रधानमंत्री ने कहा कि हाल में सरकार ने कोरोना संकट से जुड़ी जो आर्थिक घोषणाएं की थीं, जो रिजर्व बैंक के फैसले थे और आज जिस आर्थिक पैकेज का ऐलान हो रहा है, उसे जोड़ दें तो ये करीब-करीब 20 लाख करोड़ रुपए का है. ये पैकेज भारत की GDP का करीब-करीब 10 प्रतिशत है.

  • वित्तीय क्षेत्र की स्थिति का जायजा लेने के लिए बैंक प्रमुखों के साथ शनिवार को बैठक करेंगे RBI गवर्नर

    वित्तीय क्षेत्र की स्थिति का जायजा लेने के लिए बैंक प्रमुखों के साथ शनिवार को बैठक करेंगे RBI गवर्नर

    रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास वित्तीय क्षेत्र की स्थिति का जायजा लेने और कोरोना वायरस महामारी के कारण उत्पन्न संकट के बीच उद्योग जगत को बढ़ावा देने के लिये उठाये जाने वाले कदमों पर चर्चा करने के लिये बैंकों के प्रमुखों के साथ शनिवार को बैठक करेंगे.

  • Lockdown: अर्थव्यवस्था को संकट से उबरने में जुटी सरकार, उद्योग जगत ने नया रोडमैप पेश किया

    Lockdown: अर्थव्यवस्था को संकट से उबरने में जुटी सरकार, उद्योग जगत ने नया रोडमैप पेश किया

    Lockdown: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने लॉकडाउन से धीर-धीरे दी जा रही छूट के बाद अर्थव्यवस्था को संकट से उबरने के लिए नई रणनीति बनाना शुरू कर दिया है. पिछले 24 घंटों में पीएम ने चार अहम बैठकें की हैं. उधर आर्थिक संकट का साया अहम सेक्टरों पर गहराता जा रहा है. पहले से संकट झेल रहीं बड़ी ऑटो कंपनियों ने अप्रैल के लिए जीरो सेल्स रिकॉर्ड की हैं. अब उद्योग जगत ने सरकार के सामने एक नया रोडमैप पेश किया है.

  • Coronavirus Lockdown: लॉकडाउन के दौरान अर्थव्यवस्था को हर दिन 26 हजार करोड़ के नुकसान की आशंका- एसोचेम

    Coronavirus Lockdown: लॉकडाउन के दौरान अर्थव्यवस्था को हर दिन 26 हजार करोड़ के नुकसान की आशंका- एसोचेम

    Coronavirus Lockdown: उद्योग जगत ने 20 अप्रैल से उद्योग को चुने हुए कोरोना फ्री इलाकों में सीमित राहत का स्वागत किया है. लेकिन एसोचेम (ASSOCHAM) ने कहा है कि लॉकडाउन की वजह से अर्थव्यवस्था को प्रति दिन 26000 करोड़ का नुकसान होने का अंदेशा है. अब उद्योग जगत की मांग है कि सरकार बिज़नेस को हुए लाखों करोड़ के नुकसान के लिए एक रिलीफ और इकानोमिक स्टिमुलस पैकेज लेकर आए.

  • कोरोना वायरस ने इसे बड़े भारतीय उद्योग को गंभीर रूप से 'बीमार' कर दिया

    कोरोना वायरस ने इसे बड़े भारतीय उद्योग को गंभीर रूप से 'बीमार' कर दिया

    चीन में जारी कोरोना वायरस संकट अब भारतीय उद्योग को डरा रहा है. संकट 75 से ज्यादा देशों में फैल चुका है और अब इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफैक्चरिंग, विशेषकर मोबाइल और कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में कंपनियां सबसे ज्यादा तनाव में हैं. चीन से कच्चे माल नहीं मिलने से उद्योग जगत विकराल समस्या से घिर गया है. उत्पादन घट गया है और यह हालात जितने लंबे समय तक बने रहेंगे भारतीय इलेक्ट्रॉनिक्स उद्योग पर संकट के बादल उतने ही गहरे होते जाएंगे.

  • कोरोना वायरस संकट के बीच उद्योग जगत से मिलीं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

    कोरोना वायरस संकट के बीच उद्योग जगत से मिलीं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

    बैठक के बाद वित्त मंत्री ने कहा, 'बैठक में फार्मा सेक्टर, केमिकल्स और सोलर इक्विपमेन्ट सेक्टरों ने कच्चा माल की चीन से होने वाली सप्लाई के बाधित होने की संभावना जताई, लेकिन किसी भी उद्योग ने कोरोना वायरस संकट की वजह से भारतीय बाज़ार में कीमतों में बढ़ोत्तरी का सवाल नहीं उठाया.'

  • नई निर्माण और बिजली कंपनियों को कॉर्पोरेट टैक्स में छूट उद्योग जगत के लिए सबसे बड़ा ऐलान

    नई निर्माण और बिजली कंपनियों को कॉर्पोरेट टैक्स में छूट उद्योग जगत के लिए सबसे बड़ा ऐलान

    वित्त मंत्री के बजट में नई निर्माण और बिजली कंपनियों के लिए कॉर्पोरेट टैक्स में छूट का ऐलान शायद उद्योगों के लिए सबसे बड़ा ऐलान रहा. वित्त मंत्री का कहना है, कि उन्होंने अपना राजस्व घटाकर यह फैसला किया है. लेकिन उद्योगों को शायद इससे ज़्याद की उम्मीद थी. जानकार मानते हैं कि कई वजहों से ये बजट उन्हें रास नहीं आ रहा.

  • क्या 2019 में मिली शानदार जीत का तोहफा जनता को भी बजट में देगी मोदी सरकार?

    क्या 2019 में मिली शानदार जीत का तोहफा जनता को भी बजट में देगी मोदी सरकार?

    1 फरवरी को निर्मला सीतारमण बजट पेश करेंगी. लेकिन अर्थव्यवस्था के हालात बुरे हैं. उद्योग जगत गिरावट का सामना कर रहा है- खास कर ऑटो उद्योग. क्या बजट अर्थव्यवस्था को रफ्तार दे सकता है? जब बजट की तैयारी चल रही है, तब उसी वक़्त दिसंबर की तिमाही के मायूस करने वाले नतीजे आ रहे हैं. अब तक जिन 29 कंपनियों ने नतीजे घोषित किए हैं- उनमें 22 छोटी कंपनियां हैं- वहां आय बढ़ोतरी महज 7% रही है, बीते साल ये 8% थी. और शुद्ध मुनाफ़ा 1.3% घटा है. दिसंबर की तिमाही का हाल सितंबर की तिमाही जैसा ही लग रहा है जब कॉरपोरेट कमाई 14 तिमाहियों में पहली बार निगेटिव ग्रोथ दिखा रही थी. ये सब ऐसे समय हो रहा है जब उपभोक्ता महंगाई दर 5 साल में सबसे ज़्यादा है और विकास दर साढ़े छह साल में सबसे नीचे 4.5% है. सरकार निवेश बढ़ाने की बात कर रही है, लेकिन बजट अनुमानों तक पहुंचने के लिए टैक्स संग्रह बढ़ाना होगा. फिर सरकार के सामने दोहरी चुनौती है- बढ़ती महंगाई दर की और घटती विकास दर की.

  • सोने के भाव में उतार-चढ़ाव का दौर जारी, आभूषण उद्योग में पिछले छह माह में 30 प्रतिशत की गिरावट

    सोने के भाव में उतार-चढ़ाव का दौर जारी, आभूषण उद्योग में पिछले छह माह में 30 प्रतिशत की गिरावट

    उद्योग जगत के एक शीर्ष अधिकारी ने शुक्रवार को कहा था कि रत्न एवं आभूषण उद्योग की मांग पिछले छह महीनों में 30 प्रतिशत घटी है.  अखिल भारतीय रत्न एवं आभूषण घरेलू परिषद के अध्यक्ष अनंत पद्मनाभन ने कहा कि पिछले छह महीनों में कारोबार में 30 प्रतिशत की कमी आयी है.

  • राहुल बजाज ने सरकार की नीतियों के खिलाफ उठाई आवाज, कहा- 'उद्योग जगत के लोग अपनी बात कहने से डरते हैं'

    राहुल बजाज ने सरकार की नीतियों के खिलाफ उठाई आवाज, कहा- 'उद्योग जगत के लोग अपनी बात कहने से डरते हैं'

    सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में 4.5 प्रतिशत के छह साल के निचले स्तर पर आ गई है. विनिर्माण उत्पादन घटा है और उपभोक्ता मांग के साथ साथ निजी निवेश भी कमजोर हुआ है. इसके बावजूद कॉरपोरेट जगत के बहुत कम नेता ऐसे रहे जिन्होंने इस पर अपनी बात रखी.

  • उद्योग जगत में भय के माहौल को लेकर राहुल बजाज के बयान पर राजनीति...

    उद्योग जगत में भय के माहौल को लेकर राहुल बजाज के बयान पर राजनीति...

    राहुल बजाज ने अमित शाह के सामने बिज़नेस जगत में भय का सवाल उठाकर सबको चौंका दिया. अब 24 घंटे के अंदर ही उन्हें कई तरह के ताने झेलने पड़ रहे हैं. अपनी बात रखने के दो दिन बाद भी राहुल बजाज को सरकार की ओर से जवाब सुनना पड़ रहा है.

  • फिल्मी सितारों से मुलाकात के बाद PM मोदी ने शेयर किया VIDEO, प्रधानमंत्री के साथ सेल्फी लेते नजर आए शाहरुख और आमिर खान

    फिल्मी सितारों से मुलाकात के बाद PM मोदी ने शेयर किया VIDEO, प्रधानमंत्री के साथ सेल्फी लेते नजर आए शाहरुख और आमिर खान

    उद्योग को आमंत्रित करने का मकसद महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर गांधी और गांधीवाद पर फिल्म बनाने के लिए प्रेरित करना था. महात्मा गांधी के 150वीं जयंती वर्ष को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से शुक्रवार को सिनेमा जगत की दिग्गज हस्तियां मिलीं. इनमें प्रमुख रूप से शाहरुख खान, आमिर खान, कंगना रनौत, जैकलीन फर्नांडीज, इम्तियाज अली, एकता कपूर, अनुराग बसु, बोनी कपूर और सनी देओल शामिल थे. 

  • मंदी की मार : संयुक्त राष्ट्र की ताजा रिपोर्ट में भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए चेतावनी, यह होगा असर

    मंदी की मार : संयुक्त राष्ट्र की ताजा रिपोर्ट में भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए चेतावनी, यह होगा असर

    संयुक्त राष्ट्र ने अपनी ताज़ा रिपोर्ट 'UNCTAD ट्रेड एंड डेवलपमेंट रिपोर्ट 2019' में कहा है कि अंतरराष्ट्रीय अर्थव्यवस्था पर मंदी का साया गहराता जा रहा है और 2020 मंदी का साल होगा. यह खतरा बढ़ता जा रहा है. यह भारत के लिए बुरी खबर है. रिपोर्ट के मुताबिक भारत में आर्थिक विकास की रफ्तार में गिरावट का असर पूरे एशिया की अर्थव्यवस्था पर होगा. कार्पोरेट टैक्स में कटौती और उद्योग जगत को राहत के ऐलान के बाद कुछ दिन स्टाक मार्केट में रिकार्ड उछाल दिखा. लगा कि अर्थव्यवस्था में सुधार की संभावना बढ़ रही है, लेकिन अब यह गलत साबित होता दिख रहा है.

  • टैक्स में कटौती वित्त मंत्रालय नहीं, जीएसटी काउंसिल करेगी : निर्मला सीतारमण

    टैक्स में कटौती वित्त मंत्रालय नहीं, जीएसटी काउंसिल करेगी : निर्मला सीतारमण

    उद्योग जगत और ऑटो सेक्टर अर्थव्यवस्था को संकट से उबारने के लिए जिस टैक्स कटौती की मांग कर रहे हैं, वह वित्त मंत्रालय से संभव नहीं है. यह काम जीएसटी काउंसिल करेगी. ये बात आज वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कोलकाता में कही. निर्मला सीतारमण ने कहा कि जहां तक जीएसटी का सवाल है, इस पर जीएसटी को विचार करना है, जवाब देना है या फ़ैसला करना है. कोलकाता में टैक्स अधिकारियों के साथ बैठक के बाद वित्त मंत्री ने साफ़ कर दिया कि टैक्सों में कटौती पर फ़ैसला जीएसटी काउंसिल को करना है.

  • क्या मीडिया 5 प्रतिशत जीडीपी की सच्चाई छिपा रहा है?

    क्या मीडिया 5 प्रतिशत जीडीपी की सच्चाई छिपा रहा है?

    सड़क पर बेरोज़गारों की फौज पुकार रही है कि काम नहीं है, दुकानदारों की फौज कह रही है कि मांग रही है और उद्योग जगत की फौज पुकार रही है कि न पूंजी है, न मांग है और न काम है. नेशनल स्टैस्टिकल ऑफिस के आंकड़ों ने बता दिया कि स्थिति बेहद ख़राब है. छह साल में भारत की जीडीपी इतना नीचे नहीं आई थी. तिमाही के हिसाब से 25 तिमाही में यह सबसे ख़राब रिपोर्ट है.

  • प्राइम टाइम इंट्रो : उद्योग जगत को मिल गई इनकम टैक्स से मुक्ति!

    प्राइम टाइम इंट्रो : उद्योग जगत को मिल गई इनकम टैक्स से मुक्ति!

    2014 के बाद शायद यह पहला बड़ा मौक़ा है जब उद्योगपतियों की सुगबुगाहट, खुली नाराज़गी और अर्थव्यवस्था के संकट के दबाव में वित्त मंत्री निमर्ला सीतारमण ने प्रेस कांफ्रेस में कई बड़े एलान किए. ये वो एलान थे जिनके बारे में सरकार के पीछे हटने की उम्मीद कम नज़र आ रही थी

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com