NDTV Khabar

एनडीए


'एनडीए' - more than 1000 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • सच्चाई है कि ऊँचाई ही काफ़ी नहीं... अटल बिहारी वाजपेयी की वे कविताएं जो 'काल के कपाट' पर अमिट हैं

    सच्चाई है कि ऊँचाई ही काफ़ी नहीं... अटल बिहारी वाजपेयी की वे कविताएं जो 'काल के कपाट' पर अमिट हैं

    पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी  की आज पहली पुण्यतिथि है. बीते साल 16 अगस्त को दिल्ली स्थित एम्स में उनका 93 साल की उम्र में निधन हो गया था. साल 2004 में  हुए लोकसभा में एनडीए की हार के बाद उन्होंने राजनीति से संन्यास ले लिया था. उसके बाद उनकी सेहत लगातार बिगड़ती चली गई.

  • अनुच्छेद 370 पर सवाल को नीतीश कुमार ने टाला, राज्यसभा में जेडीयू के नेता ने कहा- ....अब बीजेपी का ही एजेंडा चलेगा

    अनुच्छेद 370 पर सवाल को नीतीश कुमार ने टाला, राज्यसभा में जेडीयू के नेता ने कहा- ....अब बीजेपी का ही एजेंडा चलेगा

    जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के मुद्दे पर आधिकारिक रूप से भले ही लोकसभा और राज्यसभा में जनता दल यूनाइटेड ने विरोध किया हो लेकिन यह अब पार्टी के लिए गले की हड्डी बनता जा रहा है.  हालांकि इस मुद्दे पर जनसमर्थन और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के स्टैंड के कारण नाराज़गी के बाद राज्यसभा में पार्टी के संसदीय दल के नेता रामचंद्र प्रसाद सिंह ने सफ़ाई दी थी कि चूंकि इस संबंध में बिल पारित हो गया है और नया क़ानून बन गया हैं इसलिए अब पार्टी पूरी तरह केंद्र सरकार के पीछे है.

  • कश्मीर पर आखिर सुशील मोदी ने नीतीश कुमार को सलाह दे डाली

    कश्मीर पर आखिर सुशील मोदी ने नीतीश कुमार को सलाह दे डाली

    पिछले दो दिनों से बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार को आर्टिकल 370 के मुद्दे पर विरोधियों से ज़्यादा अपने सहयोगियों और समर्थकों से सलाह और नसीहत मिल रही हैं. हर मुद्दे पर राजद को कोसने वाले नीतीश कुमार मंत्रिमंडल के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने भी इस मुद्दे पर नीतीश कुमार को कुछ सलाह दी है.

  • आर्टिकल 370 हटाने के मुद्दे पर अब नीतीश की पार्टी पड़ी नरम, रुख बदलने का यह है कारण

    आर्टिकल 370 हटाने के मुद्दे पर अब नीतीश की पार्टी पड़ी नरम, रुख बदलने का यह है कारण

    जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में आर्टिकल 370 (Article 370) के अधिकांश प्रावधानों को हटाए जाने के मुद्दे पर विरोध दर्ज करा चुका जनता दल यूनाइटेड (JDU)अब इस मुद्दे पर जनभावना के आगे नतमस्तक होता नजर आ रहा है. बुधवार को जेडीयू ने संसद में इस मुद्दे पर अपने विरोध के पक्ष में सफाई दी कि यदि आर्टिकल 370 को हटाने का समर्थन किया जाता तो जॉर्ज फर्नांडिस (George Fernandes) की आत्मा को दुख पहुंचता. उन्होंने इस मुद्दे पर सन 1996 में ही अपना रुख तय कर दिया था. जेडीयू ने कहा है कि अब जब एक बार कानून बन गया तो वह देश का कानून हो गया और हम सब साथ हैं.

  • UPSC NDA, NA II Notification: यूपीएससी एनडीए और एन नोटिफिकेशन जारी, आज से शुरू होंगे आवेदन

    UPSC NDA, NA II Notification: यूपीएससी एनडीए और एन नोटिफिकेशन जारी, आज से शुरू होंगे आवेदन

    UPSC NDA, NA II Notification: संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ने एनडीए और एन 2 परीक्षा का नोटिफिकेशन जारी कर दिया है. आज से परीक्षा के लिए आवेदन की प्रक्रिया (UPSC NDA, NA II Registration) शुरू हो जाएगी. आवेदन करने की आखिरी तारीख 3 सितंबर है. इच्छुक लोग 3 सितंबर को शाम 6 बते तक आवेदन कर सकेंगे. एनडीए और एन 2 परीक्षा 17 नवंबर को आयोजित की जाएगी.

  • धारा 370 हटाने के पक्ष में नहीं जेडीयू, कहा- सरकार ने नीतीश कुमार से सलाह नहीं ली

    धारा 370 हटाने के पक्ष में नहीं जेडीयू, कहा- सरकार ने नीतीश कुमार से सलाह नहीं ली

    हंगामे और लंबी बहस के बाद आखिरकार सरकार ने धारा 370 और जम्मू-कश्मीर के पुनर्गठन का प्रस्ताव राज्यसभा में पारित करा लिया. लेकिन एनडीए के सहयोगी दल जेडीयू की शिकायत है कि उनसे सलाह नहीं ली गई. धारा 370 और जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल पर जेडीयू ने खुद को सरकार के रुख से अलग कर लिया है. जेडीयू के प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने एनडीटीवी से कहा कि इस मसले पर नीतीश से कोई राय-मशविरा मोदी सरकार ने नहीं किया. यह एनडीए का एजेंडा नहीं है.

  • जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म, बीएसपी का समर्थन, JDU विरोध में, 10 बड़ी बातें

    जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म, बीएसपी का समर्थन, JDU विरोध में, 10 बड़ी बातें

    गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को राज्यसभा में एक संकल्प पेश किया जिसमें कहा गया है कि संविधान के अनुच्छेद 370 के सभी खंड जम्मू कश्मीर में लागू नहीं होंगे. गृह मंत्री ने कहा, ‘‘ राष्ट्रपति के अनुमोदन के बाद अनुच्छेद 370 के सभी खंड लागू नहीं होंगे. ’’इससे पहले सोमवार सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल की एक घंटे लंबी बैठक चली. समझा जाता है कि इस बैठक में शीर्ष नेतृत्व ने जम्मू-कश्मीर से संबंधित मुद्दों पर चर्चा की. वहीं राज्यसभा में बीएसपी नेता सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा है कि उनकी पार्टी जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के फैसले पर केंद्र सरकार का समर्थन करेगी. दूसरी ओर एनडीए की सहयोगी जेडीयू इस फैसले पर सरकार के साथ नहीं खड़ी है.

  • Triple Talaq Bill 2019: पढ़िए, तीन तलाक बिल में क्या हैं प्रावधान

    Triple Talaq Bill 2019: पढ़िए, तीन तलाक बिल में क्या हैं प्रावधान

    मंगलवार को राज्यसभा में तीन तलाक बिल (Triple Talaq Bill) पेश किया गया. इस बिल को पास कराने के लिए बीजेपी ने अपने सभी सांसदों को व्हिप जारी किया है. बता दें कि तीन तलाक बिल को राज्यसभा में संशोधित कार्यसूची में डाला गया है. राज्यसभा में एनडीए (NDA) को बहुमत नहीं  है. जनता दल यूनाईटेड (JDU) बिल के के खिलाफ है. सरकार को बीजेडी (BJD) के समर्थन की उम्मीद है. तीन तलाक बिल 25 जुलाई को लोकसभा में विपक्ष के भारी विरोध के बीच पारित हो चुका है. कांग्रेस (Congress) ने तीन तलाक को निषेध करने वाले विधेयक को स्थायी समिति को भेजने की मांग करते हुए कहा है कि तीन तलाक को फौजदारी का मामला बनाना उचित नहीं है. अब मोदी सरकार के सामने तीन तलाक बिल को राज्यसभा में पारित कराने की चुनौती है. लोकसभा में पारित तीन तलाक बिल को राज्यसभा में पारित कराना आसान नहीं है. राज्यसभा में एनडीए को बहुमत हासिल नहीं है और इसके अलावा उसका सहयोगी दल जेडीयू भी इस बिल पर उसके साथ नहीं है. आइये पढ़ते हैं इसके प्रावधान और बिल से जुड़ी 10 बातें...

  • आज राज्यसभा में आ सकता है तीन तलाक बिल, बीजेपी ने व्हिप जारी किया

    आज राज्यसभा में आ सकता है तीन तलाक बिल, बीजेपी ने व्हिप जारी किया

    राज्यसभा में मंगलवार को तीन तलाक बिल (Triple Talaq Bill) आने की संभावना है. बीजेपी ने अपने सांसदों के लिए व्हिप जारी कर दिया है. तीन तलाक बिल को राज्यसभा में संशोधित कार्यसूची में डाला गया है. राज्यसभा में एनडीए (NDA) को बहुमत नहीं है. इसके अलावा जनता दल यूनाईटेड (JDU) बिल के खिलाफ है. सरकार को बीजेडी (BJD) के समर्थन की उम्मीद है. तीन तलाक बिल 25 जुलाई को लोकसभा में विपक्ष के भारी विरोध के बीच पारित हो चुका है. कांग्रेस (Congress) ने तीन तलाक को निषेध करने वाले विधेयक को स्थायी समिति को भेजने की मांग करते हुए कहा है कि तीन तलाक को फौजदारी का मामला बनाना उचित नहीं है. अब मोदी सरकार के सामने तीन तलाक बिल को राज्यसभा में पारित कराने की चुनौती है.

  • दो साल पहले पीएम मोदी के लिए चुनौती बने रहे नीतीश कुमार अब उन्हीं की कृपा पर निर्भर

    दो साल पहले पीएम मोदी के लिए चुनौती बने रहे नीतीश कुमार अब उन्हीं की कृपा पर निर्भर

    बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का वर्तमान कार्यकाल इसलिए देश के राजनीतिक इतिहास में महत्वपूर्ण माना जाएगा कि उन्होंने जिस दल के साथ मिलकर विरोधी दल को पराजित किया उसी दल के साथ डेढ़ साल में फिर सरकार भी बनाई. दूसरी तरफ चुनाव में सहयोगी रहे दल को विपक्ष में बैठने पर मजबूर किया. शनिवार को बीजेपी के साथ नीतीश कुमार का दो वर्षों का कार्यकाल पूरा हो जाएगा. इन दो वर्षों में राजनीतिक रूप से नीतीश को हुए हानि-लाभ का यदि हिसाब करें तो वे नुकसान में जाते दिखाई देते हैं. दो साल पहले नीतीश कुमार को गैर एनडीए दलों में बहुत मजबूत नेता माना जाता था. यहां तक कि उन्हें प्रधानमंत्री पद के लिए भी प्रबल दावेदार माना जाता था. पीएम नरेंद्र मोदी के लिए चुनौती बने रहने वाले नीतीश कुमार आज उन्हीं के रहमोकरम पर बिहार की सत्ता की नैया खेते नजर आ रहे हैं.

  • मोदी सरकार ने 50 दिन में जल से लेकर चांद तक सबको साथ लेकर चलने का प्रयास किया : जेपी नड्डा

    मोदी सरकार ने 50 दिन में जल से लेकर चांद तक सबको साथ लेकर चलने का प्रयास किया : जेपी नड्डा

    भारतीय जनता पार्टी (BJP) के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने (JP Nadda) आज मोदी सरकार (Modi Government) के 50 दिन पूरे होने पर कहा कि पिछले 50 दिन में जो फैसले हुए हैं वे पिछले 50 वर्षों में हुए फैसलों से ज्यादा बेहतर हैं. यह फैसले देश के विकास में मील का पत्थर साबित होंगे. नड्डा ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह बात कही. उन्होंने कहा कि '50 दिन में हमने जल से लेकर चांद तक, किसान मजदूर सबको साथ लेकर चलने का प्रयास किया है.'

  • जेडीयू ने तीन तलाक विधेयक का किया विरोध, कहा- जन जागरूकता की है जरूरत

    जेडीयू ने तीन तलाक विधेयक का किया विरोध, कहा- जन जागरूकता की है जरूरत

    इस दौरान पार्टी ने कहा कि इस मुद्दे पर मुस्लिम समुदाय के नेताओं की सहायता से जन जागरूकता पैदा करने की जरूरत है.

  • एनडीए का सहयोगी दल होने के बावजूद लोकसभा में तीन तलाक का विरोध क्यों कर रही जेडीयू?

    एनडीए का सहयोगी दल होने के बावजूद लोकसभा में तीन तलाक का विरोध क्यों कर रही जेडीयू?

    लोकसभा में गुरुवार को तीन तलाक बिल पेश किया गया लेकिन एनडीए में सहयोगी दल जेडीयू इसका विरोध कर रही है. जेडीयू पहले भी इस मुद्दे पर विरोध करती रही है. जेडीयू का मानना है कि इस बिल पर चर्चा नहीं हुई है और ना ही एनडीए में अन्य दलों के साथ इस मुद्दे पर आम सहमति बनाने के लिए चर्चा की गई.

  • सुशील मोदी के बयान का अब बिहार की राजनीति में एक ही सच ‘एक बार फिर नीतीश कुमार'

    सुशील मोदी के बयान का अब बिहार की राजनीति में एक ही सच ‘एक बार फिर नीतीश कुमार'

    बिहार के उप मुख्यमंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी ने सोमवार को यह कहकर कि अगले विधानसभा चुनाव में भी NDA मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में ही चुनाव मैदान में जाएगी एक साथ कई राजनीतिक अटकलों पर विराम लगा दिया है. सुशील मोदी के इस बयान के तुरंत दो अर्थ तत्काल निकाले जा रहे हैं. एक भारतीय जनता पार्टी फ़िलहाल विधानसभा चुनाव में नीतीश कुमार को डंप कर अकेले चुनाव में किसी पिछड़ा ख़ासकर केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय को मुख्यमंत्री पद का चेहरा बनाकर चुनाव में नहीं जाना चाहती है.

  • बिहार : एनडीए नीतीश कुमार के नेतृत्व में ही अगला विधानसभा चुनाव लड़ेगा

    बिहार : एनडीए नीतीश कुमार के नेतृत्व में ही अगला विधानसभा चुनाव लड़ेगा

    एनडीए बिहार में अगला विधानसभा चुनाव मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में ही लड़ेगा. यह घोषणा बिहार बीजेपी के वरिष्ठ नेता और उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने बिहार विधानसभा में की.

  • संसद का बजट सत्र बढ़ने की संभावना, सोमवार को होगा अंतिम निर्णय

    संसद का बजट सत्र बढ़ने की संभावना, सोमवार को होगा अंतिम निर्णय

    संसद का बजट सत्र बढ़ाया जाएगा. बजट सत्र तीन से पांच दिन तक बढ़ाया जा सकता है. इस बारे में अंतिम निर्णय सोमवार को लिया जाएगा.

  • नीरज शेखर का इस्तीफा, राजनीति में एक नए ट्रेंड की शुरुआत

    नीरज शेखर का इस्तीफा, राजनीति में एक नए ट्रेंड की शुरुआत

    संसद के गलियारे में इस बात को लेकर काफी चर्चा हो रही थी कि आखिर समाजवादी पार्टी के सांसद नीरज शेखर ने अपना इस्तीफा क्यों दिया और इसके पीछे कारण क्या हो सकते हैं..संसद के संसदीय कक्ष में इस बात पर सांसद गहन चर्चा में दिखे. कुछ ने कहा कि यह कैसे संभव हो सकता है, पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर के सांसद बेटे के आगे ऐसी क्या मजबूरी थी कि उन्होंने एक धुरी की राजनीति करते हुए एकदम से दूसरी धुरी की राजनीति का दामन थाम लिया. खुद नीरज शेखर भी अपने पुराने दोस्तों के सामने थोड़े झेंपे से नजर आ रहे थे..कई लोगों ने उनको कहते सुना कि मैं आपको अलग से बताऊंगा कि मैंने यह फैसला क्यों लिया.

  • दो और सांसद समाजवादी पार्टी छोड़कर बीजेपी में हो सकते हैं शामिल

    दो और सांसद समाजवादी पार्टी छोड़कर बीजेपी में हो सकते हैं शामिल

    संसद के गलियारों में जो चर्चा चल रही है उसके मुताबिक समाजवादी पार्टी के दो और सांसद बीजेपी के संपर्क में हैं और आने वाले दिनों में उनके इस्तीफे भी हो सकते हैं. यह खबर इसलिए भी जोरों पर है क्योंकि समाजवादी पार्टी के सांसद नीरज शेखर ने राज्यसभा से इस्तीफा देकर बीजेपी का दामन थाम लिया है. नीरज पूर्व प्रधानमंत्री चेद्रशेखर के बेटे हैं और समाजवादी पार्टी के सांसद के तौर पर बलिया लोकसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं.