NDTV Khabar

ओडिशा सरकार


'ओडिशा सरकार' - 169 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • केंद्र सरकार ने कहा, 19 राज्यों में कोरोना से ठीक होने की दर राष्ट्रीय औसत से बेहतर, जानें कौन-कौन से नाम हैं शामिल

    केंद्र सरकार ने कहा, 19 राज्यों में कोरोना से ठीक होने की दर राष्ट्रीय औसत से बेहतर, जानें कौन-कौन से नाम हैं शामिल

    जिन 30 राज्यों और केंद्र शासित क्षेत्रों में कोविड-19 के कारण मृत्यु दर राष्ट्रीय औसत 2.64 प्रतिशत से कम है उनमें लद्दाख, त्रिपुरा, असम, केरल, छत्तीसगढ़, ओडिशा, अरुणाचल प्रदेश, गोवा, मेघालय, झारखंड, बिहार, हिमाचल प्रदेश, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, पुडुचेरी, उत्तराखंड, तमिलनाडु, हरियाणा, चंडीगढ़, जम्मू-कश्मीर, कर्नाटक, राजस्थान, पंजाब और उत्तर प्रदेश शामिल हैं.

  • जगन्नाथ रथ यात्रा पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का अमित शाह ने किया स्‍वागत, कहा-पीएम मोदी ने न केवल...

    जगन्नाथ रथ यात्रा पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का अमित शाह ने किया स्‍वागत, कहा-पीएम मोदी ने न केवल...

    शीर्ष अदालत ने अपने आदेश में कहा है कि शर्तों के साथ केंद्र और राज्य सरकार इस रथयात्रा के लिए कोविड-19 के गाइडलाइंस के तहत इंतजाम करेंगी. इसके साथ ही कोर्ट ने कहा कि वह स्थिति को ओडिशा सरकार के ऊपर छोड़ रहा है. अगर यात्रा के चलते स्थिति हाथ से बाहर जाते हुए दिखती है, तो सरकार यात्रा पर रोक भी लगा सकती है.

  • पुरी में रथयात्रा को सुप्रीम कोर्ट की हरी झंडी, अदालत ने शर्तों के साथ इजाजत दी

    पुरी में रथयात्रा को सुप्रीम कोर्ट की हरी झंडी, अदालत ने शर्तों के साथ इजाजत दी

    23 जून से शुरू होने वाली ऐतिहासिक जगन्नाथपुरी रथयात्रा को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने हरी झंडी दिखा दी है. कोर्ट ने कुछ शर्तों के साथ यात्रा को इस साल भी निकालने की अनुमति दे दी है. आदेश में कहा गया है कि कुछ शर्तों के साथ केंद्र और राज्य सरकार इस रथयात्रा के लिए कोविड-19 के गाइडलाइंस के तहत इंतजाम करेंगी.

  • पुरी रथयात्रा मामला: अब CJI की अगुवाई में तीन जजों वाली बेंच करेगी आज सुनवाई

    पुरी रथयात्रा मामला:  अब CJI की अगुवाई में तीन जजों वाली बेंच करेगी आज सुनवाई

    सुप्रीम कोर्ट में ओडिशा की ऐतिहासिक सुप्रसिद्ध जगन्नाथ रथ यात्रा मामले की सुनवाई चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया एस ए बोबडे की तीन जजों की बेंच करेगी. केंद्र और ओडिशा सरकार की ओर से राज्य में कर्फ्यू लगाकर रथयात्रा निकालने का सुझाव दिया गया है.

  • 1 जून : 'वन नेशन, वन राशन कार्ड' से जुड़े 3 और राज्य, जानिए आज से क्या हुए और बदलाव

    1 जून : 'वन नेशन, वन राशन कार्ड' से जुड़े 3 और राज्य, जानिए आज से क्या हुए और बदलाव

    ओडिशा, मिजोरम और  सिक्किम 1 जून से 'वन नेशन, वन राशन कार्ड' व्यवस्था में शामिल हो गए हैं. इन 3 राज्यों के इस व्यवस्था के साथ जुड़ने से अब देश के कुल 20 राज्यों में ये नयी व्यवस्था बहाल हो चुकी है. इस व्यवस्था के तहत राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के राशन कार्ड होल्डर अब आज से देश के इन 20 राज्यों के किसी भी फेयर प्राइस शॉप से आपने कोटे का अनाज ले सकते हैं.   खाद्य मंत्रालय के मुताबिक १ अगस्त 2020 से उत्तराखडं, नागालैंड और मणिपुर भी 'वन नेशन, वन राशन कार्ड' व्यवस्था से जुड़ जायेंगे. इससे 'वन नेशन, वन राशन कार्ड' व्यवस्था से जुड़ने वाले राज्यों की संख्या कुल 23 हो जाएगी.   भारत सरकार ने मार्च 2021 तक देश के सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को इस व्यवस्था से जोड़ने का टारगेट फिक्स किया है.

  • साइक्लोन अम्फान: केंद्र सरकार ने पश्चिम बंगाल के राहत पैकेज के 1,000 करोड़ किए रिलीज

    साइक्लोन अम्फान: केंद्र सरकार ने पश्चिम बंगाल के राहत पैकेज के 1,000 करोड़ किए रिलीज

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले दिनों 1000 करोड़ के राहत पैकेज घोषणा की थी. चक्रवात से हुए नुकसान का आकलन करने के लिए केंद्र सरकार की एक टीम जल्द ही राज्य का दौरा करेगी.

  • Cyclone Amphan: आर्मी ने पश्चिम बंगाल की मदद के लिए बढ़ाए हाथ, राहत कार्य के लिए भेजी सेना की टुकड़ी

    Cyclone Amphan: आर्मी ने पश्चिम बंगाल की मदद के लिए बढ़ाए हाथ, राहत कार्य के लिए भेजी सेना की टुकड़ी

    चक्रवाती तूफान अम्फान से पश्चिम बंगाल के कुछ इलाकों में तबाह हुई बुनियादी सुविधाओं की बहाली के लिए ममता बनर्जी की सरकार की ओर से मदद मांगने के बाद भारतीय आर्मी यहां सेना के तीन कॉलम भेज रही है.

  • ओडिशा के तटों के करीब पहुंचा महाचक्रवात ‘अम्फान’, कुछ हिस्सों में हुई बारिश

    ओडिशा के तटों के करीब पहुंचा महाचक्रवात ‘अम्फान’, कुछ हिस्सों में हुई बारिश

    मौसम विज्ञान केंद्र, भुवनेश्वर के निदेशक एच आर विश्वास ने कहा कि सुबह ‘अम्फान’ का केंद्र पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर था, जो पारादीप (ओडिशा) से करीब 520 किलोमीटर दक्षिण, दीघा से 670 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिणपश्चिम और बांग्लादेश के खेपुपारा से 800 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिणपश्चिम में है.

  • चक्रवात तूफान अम्फान: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शाम चार बजे गृह मंत्रालय और NDMA के साथ करेंगे बैठक

    चक्रवात तूफान अम्फान: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शाम चार बजे गृह मंत्रालय और NDMA के साथ करेंगे बैठक

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज शाम 4 बजे गृह मंत्रालय और NDMA के साथ चक्रवात तूफान की तैयारियों पर चर्चा करेंगे. बता दें कि चक्रवाती तूफान ‘अम्फान’ ने सोमवार को बेहद विकराल रूप ले लिया और इसके चलते अब ओडिशा के तटीय इलाकों में तेज हवाएं चलने के साथ ही भारी बारिश हो सकती है। इस चेतावनी के बाद राज्य सरकार 11 लाख लोगों को इन इलाकों से निकालने की तैयारी में जुट गई है. 

  • Super Cyclone Amphan UPDATE: क्या दिल्ली-उत्तर प्रदेश, बिहार-झारखंड तक भी होगा असर?

    Super Cyclone Amphan UPDATE: क्या दिल्ली-उत्तर प्रदेश, बिहार-झारखंड तक भी होगा असर?

    Super Cyclone Amphan Latest Updates :  चक्रवाती तूफान अम्फान को लेकर एनडीआरएफ के महानिदेशक एसएन प्रधान ने बताया है कि यह एक भीषण चक्रवाती तूफान है. राहत और बचाव के लिए क्या तैयारियां की गई हैं, इस पर पीएम नरेंद्र मोदी ने एक उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक में हिस्सा लिया है. जिसमें उनको बताया गया है कि एनडीआरएफ की 25 टीमें तैनात कर दी गई हैं. जबकि 12 अन्य को तैयार रखा गया है. इस बैठक में गृहमंत्री अमित शाह, मुख्य सलाहकार पीके मिश्रा, कैबिनेट सचिव राजीव गौबा और सरकार के कई अन्य अधिकारी मौजूद थे. वहीं भारती मौसम विभाग के महानिदेशक डॉक्टर एम महापात्रा ने बताया कि इस ये तूफान 20 मई को भारत की तटीय सीमाओं को छूएगा और इस दौरान इसका भारी बारिश होगी. लेकिन जब उनसे पूछा गया कि क्या इसका असर उत्तर भारत पर भी पड़ेगा तो उन्होंने बताया कि यह ओडिशा, पश्चिम बंगाल को छूते हुए बांग्लादेश चला गया है. उन्होंने बताया कि अम्फान साइक्लोन की वजह से पश्चिम बंगाल और ओडिशा के तटीय इलाकों के साथ-साथ असम और मेघालय के कुछ इलाकों में भी तेज़ हवाएं और भारी बारिश का पूर्वानुमान है. लेकिन इसका असर बाकी भारत पर नहीं होगा. यानी बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ सहित बाकी भारत पर इसका कोई असर नहीं होगा. 

  • चक्रवात ‘अम्फान’: ओडिशा के 12 तटीय जिलों को सतर्क किया गया

    चक्रवात ‘अम्फान’: ओडिशा के 12 तटीय जिलों को सतर्क किया गया

    ओडिशा सरकार ने चक्रवात ‘अम्फान’ के मद्देनजर किसी भी खतरे से निपटने के लिए अपने 12 तटीय जिलों के प्रशासन को पूरी तरह से तैयार रहने को कहा है. एक वरिष्ठ अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी. मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के निर्देश पर गंजम, गजपति, पुरी, जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा, जाजपुर, भद्रक, बालासोर, मयूरभंज, कटक, खुर्दा और नयागढ़ के जिलाधिकारियों को सतर्क रहने को कहा गया है. 

  • क्या कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने में सक्षम हो पाएगी ओडिशा सरकार?

    क्या कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने में सक्षम हो पाएगी ओडिशा सरकार?

    एक समय कोरोना को नियंत्रित करने के मामले में ओडिशा सरकार की काफी तारीफ हुई थी. ऐसा लगा था कि कोरोना को पूरी तरह नियंत्रित करने में ओडिशा सरकार जल्दी कामयाब हो जाएगी. इसके पीछे कई वजह भी थीं. पहली वजह यह थी कि ओडिशा के 30 में से 22 जिले कोरोना फ्री थे और जिन आठ ज़िलों में केस थे उसमें से कुल केस के 80 प्रतिशत सिर्फ एक ज़िले यानी खोरदा में थे. ओडिशा में पहला केस 16 मार्च को खोरदा ज़िले में ही आया. 31 मार्च तक ओडिशा में चार केस थे और 15 अप्रेल तक ओडिशा में कुल केस 60 पहुंचे थे. इसमें से 40 लोग ठीक होकर घर जा चुके थे जबकि एक की मौत हुई थी. 15 अप्रैल तक कुल 60 केस में से 46 केस सिर्फ खोरदा ज़िले से थे, यानी कुल केस के 80 प्रतिशत के करीब खोरदा ज़िले से थे.

  • Rath Yatra 2020: केंद्र सरकार ने दी पुरी में रथ बनाने की इजाजत, कहा- "रथ यात्रा पर ओडिशा सरकार लेगी फैसला"

    Rath Yatra 2020: केंद्र सरकार ने दी पुरी में रथ बनाने की इजाजत, कहा-

    केंद्रीय गृह मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को स्पष्ट किया कि पुरी में रथ यात्रा (Rath Yatra) निकालने पर फैसला ओडिशा सरकार कोविड-19 के मौजूदा हालात को देखकर लेगी, हालांकि मंत्रालय ने यात्रा के लिए रथ निर्माण की मंजूरी दे दी.

  • फंसे स्टूडेंट्स-मजदूरों के लिए स्पेशल ट्रेनें, केरल से आज रवाना होंगी 5 रेलगाड़ियां, पढ़ें 10 अहम बातें 

    फंसे स्टूडेंट्स-मजदूरों के लिए स्पेशल ट्रेनें, केरल से आज रवाना होंगी 5 रेलगाड़ियां, पढ़ें 10 अहम बातें 

    कोरोनावायरस लॉकडाउन (Coronavirus Lockdown) की वजह से फंसे प्रवासी मजदूरों, छात्रों और अन्य को लेकर छह श्रमिक विशेष ट्रेनें शुक्रवार को केरल, तेलंगाना, महाराष्ट्र और राजस्थान से शुक्रवार को रवाना हुईं. यह ट्रेनें झारखंड, ओडिशा, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और बिहार के लिए हैं. संबंधित राज्यों के अनुरोध पर इन ट्रेनों की व्यवस्था की गई है. भारतीय रेलवे (Indian Railways) ने बयान में यह जानकारी दी. बयान में कहा गया है कि आने वाले दिनों में इस तरह की और ट्रेनें चलाई जाएंगी. सरकार ने उन फंसे लोगों को यात्रा की अनुमति दी है, जिनमें कोरोना के लक्षण नहीं है. सरकार ने पहले फंसे लोगों को उनके राज्यों तक भेजने के लिए सिर्फ बसों की अनुमति दी थी, लेकिन राज्य सरकारों के अनुरोध के बाद विशेष ट्रेनों की अनुमति दी गई. 

  • कुछ ऐतिहासिक निर्णय के साथ इस तरह कोरोना को नियंत्रण करने में लगी है ओडिशा सरकार

    कुछ ऐतिहासिक निर्णय के साथ इस तरह कोरोना को नियंत्रण करने में लगी है ओडिशा सरकार

    जब आपदा प्रबंधन की बात आती है तो ओडिशा सरकार हमेशा एक कदम आगे रहती है. साइक्लोन फोनी के दौरान ओडिशा सरकार की तारीफ हुई थी अब कोरोना नियंत्रण को लेकर ओडिशा सरकार की तारीफ हो रही है.

  • नहीं थम रहा कोरोना का कहर : मरीजों की संख्या बढ़कर हुई 9152, बीते 24 घंटे में 35 मौत और 796 नए मामले आए सामने

    नहीं थम रहा कोरोना का कहर : मरीजों की संख्या बढ़कर हुई 9152, बीते 24 घंटे में 35 मौत और 796 नए मामले आए सामने

    देश में अभी तक 308 लोगों की मौत हो चुकी है, हालांकि 857 मरीज इस बीमारी को हराने में कामयाब भी हुए हैं. देश के सभी राज्यों से इसके मरीज सामने आ रहे हैं. केंद्र सरकार ने इससे बचाव के चलते ही देश में 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की है. 14 अप्रैल को यह लॉकडाउन खत्म हो रहा है. ओडिशा, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र और पंजाब समेत कई राज्यों ने लॉकडाउन बढ़ाने की घोषणा कर दी है. दोनों राज्यों में अब 30 अप्रैल तक लॉकडाउन प्रभावी रहेगा. अन्य राज्य सरकारें भी इसे बढ़ाने पर विचार कर रही हैं.

  • इस राज्य में बढ़ा लॉकडाउन, 10 जून तक बंद रहेंगे स्कूल और कॉलेज

    इस राज्य में बढ़ा लॉकडाउन, 10 जून तक बंद रहेंगे स्कूल और कॉलेज

    कोरोनावायरस (Coronavirus) का संक्रमण देश में तेजी से फैल रहा है. कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए शनिवार को पश्चिम बंगाल सरकार ने राज्य में 30 अप्रैल तक लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला किया है. इसी के साथ सरकार ने ऐलान किया है कि 10 जून तक सभी स्कूल और कॉलेज बंद रहेंगे. बता दें कि पश्चिम बंगाल के अलावा ओडिशा, राजस्थान, पंजाब, तेलंगाना, महाराष्ट्र ने भी लॉकडाउन बढ़ा दिया है. 

  • Coronavirus West Bengal Update: पश्चिम बंगाल ने 30 अप्रैल तक बढ़ाई लॉकडाउन की अवधि, 10 जून तक बंद रहेंगे स्कूल-कॉलेज

    Coronavirus West Bengal Update: पश्चिम बंगाल ने 30 अप्रैल तक बढ़ाई लॉकडाउन की अवधि, 10 जून तक बंद रहेंगे स्कूल-कॉलेज

    साथ ही सरकार ने ऐलान किया है कि राज्य में सभी शिक्षण संस्थान 10 जून तक बंद रहेंगे. बता दें कि शनिवार को पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस संक्रमण के 6 नए मामले सामने आए, जिसके साथ पश्चिम बंगाल में संक्रमित मरीजों की संख्या 122 पर पहुंच गई. वहीं पश्चिम बंगाल के अलावा महाराष्ट्र, ओडिशा, राजस्थान, तेलंगाना और पंजाब ने भी लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला किया है. 

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com