NDTV Khabar

करुणानिधि


'करुणानिधि' - 188 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • डीएमके प्रमुख एमके स्टालिन ने पीएम पद के लिए राहुल गांधी का नाम किया आगे, बोले- सभी को साथ देना चाहिए

    डीएमके प्रमुख एमके स्टालिन ने पीएम पद के लिए राहुल गांधी का नाम किया आगे, बोले- सभी को साथ देना चाहिए

    डीएमके प्रमुख एमके स्टालिन ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का नाम 2019 के चुनावों में प्रधानमंत्री पद के लिए प्रस्तावित किया है. चेन्नई में विपक्ष के कार्यक्रम में स्टालिन ने कहा, ''राहुल के अंदर फासीवादी मोदी सरकार को हराने की क्षमता है. हम सभी को राहुल गांधी का साथ देना चाहिए और देश को बचाने में उनकी मदद करनी चाहिए''.

  • DMK अध्यक्ष बनने के तुरंत बाद ही स्टालिन ने मोदी सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा, दिया यह बयान...

    DMK अध्यक्ष बनने के तुरंत बाद ही स्टालिन ने मोदी सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा, दिया यह बयान...

    भाजपा की तरफ द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (DMK) के झुकाव की अटकलों पर विराम लगाते हुए नवनिर्वाचित अध्यक्ष एमके स्टालिन (MK Stalin) ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला. स्टालिन ने कहा कि मोदी सरकार भारत का भगवाकरण करने की कोशिश कर रही है. स्टालिन ने पार्टी अध्यक्ष पद की शपथ लेने के बाद अपने पहले संबोधन में कहा, 'आइए भगवाकरण की कोशिश कर रही मोदी सरकार को सबक सिखाएं.' यहां महापरिषद की बैठक में सैकड़ों पार्टी प्रतिनिधियों के बीच स्टालिन ने कहा, 'हम उस किसी भी पार्टी का विरोध करेंगे, जो एक भाषा का प्रभुत्व चाहती है.' स्टालिन ने कहा कि राज्य सरकारों के अधिकारों को रौंदा जा रहा है और मोदी सरकार को सबक सिखाने की जरूरत है.

  • करुणानिधि की मृत्यु के 3 हफ्ते बाद DMK की कमान अब स्‍टालिन के पास

    करुणानिधि की मृत्यु के 3 हफ्ते बाद DMK की कमान अब स्‍टालिन के पास

    करुणानिधि निधन के पहले ही उन्हें अपना वारिस घोषित कर चुके थे. पार्टी की आम सभा की बैठक में डीएमके के महासचिव के. अंबाजगन ने कहा कि स्टालिन को निर्विरोध चुन लिया गया है.

  • इस वजह से एम. के. स्टालिन का सीधे DMK का राजा बनना तय

    इस वजह से एम. के. स्टालिन का सीधे DMK का राजा बनना तय

    दिवंगत द्रमुक नेता एम. करुणानिधि के पुत्र और उनके वास्तविक राजनीतिक वारिस एम. के. स्टालिन का मंगलवार को द्रमुक पद चयन होना लगभग तय है.

  • करुणानिधि की मौत के बाद डीएमके में छिड़ी वर्चस्व की लड़ाई, आज होने वाली मीटिंग पर सबकी निगाहें

    करुणानिधि की मौत के बाद डीएमके में छिड़ी वर्चस्व की लड़ाई, आज होने वाली मीटिंग पर सबकी निगाहें

    तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री और डीएमके के कद्दावर नेता एम करुणानिधि की मौत के बाद आज पार्टी की एक्ज़ीक्यूटिव कमेटी की बैठक होगी. बैठक सुबह 10 बजे से शुरू होगी. करुणानिधि की मौत के बाद डीएमके में एक तरीके से वर्चस्व की लड़ाई छिड़ गई है.

  • करुणानिधि के अंतिम संस्कार में मुख्यमंत्री व उनकी पूरी कैबिनेट को होना चाहिए था शामिल: रजनीकांत 

    करुणानिधि के अंतिम संस्कार में मुख्यमंत्री व उनकी पूरी कैबिनेट को होना चाहिए था शामिल: रजनीकांत 

    उन्होंने एक कार्यक्रम में कहा कि करुणानिधि को दफनाये जाते समय राज्यपाल, कई मुख्यमंत्री और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी आये थे. मुख्यमंत्री को नहीं आना चाहिए था? क्या पूरी कैबिनेट को नहीं आना चाहिए था? जनता क्या सोचेगी? क्या आप एमजीआर या जयललिता हैं.

  • अलागिरी का दावा, पिता और DMK के 'सच्चे वफादार' मेरे साथ

    अलागिरी का दावा, पिता और DMK के 'सच्चे वफादार' मेरे साथ

    अलागिरी ने यहां मरीना बीच पर अपने पिता के स्मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित की और पत्रकारों से कहा कि उन्होंने पिता को पार्टी के बारे में अपनी व्यथा से अवगत कराया था. 

  • कलाईनार के बाद कौन? तमिलनाडु की राजनीति में बदलाव का दौर

    कलाईनार के बाद कौन? तमिलनाडु की राजनीति में बदलाव का दौर

    डीएमके संस्थापक करूणानिधि के निधन से तमिलनाडु की राजनीति में एक बड़ा स्थान रिक्त हो गया है जिसे भरना आसान नहीं होगा. सबसे ज़्यादा असर डीएमके पर पड़ेगा, जहां उनके बेटे और उत्तराधिकारी स्टालिन को लीडर केतौर पर सबसे पहले खुद को साबित करना होगा.

  • वो 5 नेता जिन्होंने तमिलनाडु की सियासत को बदल दिया, पढ़ें उनके बारे में विस्तार से

    वो 5 नेता जिन्होंने तमिलनाडु की सियासत को बदल दिया, पढ़ें उनके बारे में विस्तार से

    डीएमके की मानें तो तमिलनाडु के करीब सात करोड़ लोगों में से करीब एक करोड़ उसके फॉलोवर हैं. यह सब करुणानिधि की वजह से ही संभव हो पाया. करुणानिधि से पहले तमिलनाडु में ऐसे कम ही नेता हुए जिन्होंने इस मुकाम को पाया. आइये आपको ऐसे ही पांच नेताओं से मिलवाते हैं. 

  • मरीना बीच पर ही होगा करुणानिधि का अंतिम संस्‍कार, जानें HC में किसने दी क्‍या दलील

    मरीना बीच पर ही होगा करुणानिधि का अंतिम संस्‍कार, जानें HC में किसने दी क्‍या दलील

    डीएमके चाहती थी कि उन्हें मरीना बीच में करुणानिधि (கருணாநிதி) के मेंटर और डीएमके के संस्थापक सीएन अन्नादुरै की समाधि के पास दफ़नाया जाए, लेकिन राज्य सरकार ने इसकी इजाज़त नहीं दी थी.

  • स्टालिन ने पिता करुणानिधि को लिखा भावुक पत्र, कहा- क्या आपको आखिरी बार 'अप्पा' पुकार सकता हूं

    स्टालिन ने पिता करुणानिधि को लिखा भावुक पत्र, कहा- क्या आपको आखिरी बार 'अप्पा' पुकार सकता हूं

    एम. के. स्टालिन ने अपने दिवंगत पिता और पार्टी नेता एम. करुणानिधि (M Karunanidhi) की याद में बुधवार को एक भावुक पत्र लिखा. पांच बार तमिलनाडु के मुख्यमंत्री रहे 94 वर्षीय करुणानिधि का यहां मंगलवार को एक निजी अस्पताल में निधन हो गया. पत्र में स्टालिन ने कहा, "आपको अप्पा, अप्पा कहकर बुलाने की बजाए मैंने कई बार आपको थलाइवरय, थलाइवरय (मेरे नेता) कहकर बुलाया है.

  • Karunanidhi Death: करुणानिधि को PM मोदी से लेकर रजनीकांत तक ने दी श्रद्धांजलि, देखें PHOTOS

    Karunanidhi Death: करुणानिधि को PM मोदी से लेकर रजनीकांत तक ने दी श्रद्धांजलि, देखें PHOTOS

    एम करुणानिधि (கருணாநிதி) के निधन के बाद देश भर में एक दिन और तमिलनाडु में सात दिन के शोक का एलान किया गया है

  • Karunanidhi Death: करुणानिधि के निधन से देश भर में शोक की लहर, जानें शोक संदेश में किसने क्या कहा

    Karunanidhi Death: करुणानिधि के निधन से देश भर में शोक की लहर, जानें शोक संदेश में किसने क्या कहा

    डीएमके यानी द्रमुक प्रमुख और तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम. करुणानिधि (M Karunanidhi) का मंगलवार की शाम निधन हो गया. उनके निधन की सूचना मिलते ही समर्थकों में शोक की लहर दौड़ पड़ी. करुणानिधि के निधन पर राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री सहित तमाम नेताओं ने शोक जताते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी है. इसके अलावा उनके निधन पर शोक जताने और श्रद्धांजलि देने वालों की भीड़ है. करुणानिधि को दफनाने को लेकर विवाद हो गया है. इसे लेकर मद्रास हाईकोर्ट में फिर सुनवाई होगी.

  • Karunanidhi Death: करुणानिधि को मरीना बीच पर दफनाने को लेकर क्यों है विवाद? 10 बड़ी बातें

    Karunanidhi Death: करुणानिधि को मरीना बीच पर दफनाने को लेकर क्यों है विवाद? 10 बड़ी बातें

    डीएमके प्रमुख और दक्षिण भारत के दिग्गज नेता एम करुणानिधि को मरीना बीच पर दफनाने को लेकर विवाद जारी है. डीएमके की याचिका पर मद्रास हाईकोर्ट में आधी रात को सुनवाई हुई. हालांकि कोर्ट ने मामले को सुबह 8 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया है. इस मामले में तमिलनाडु सरकार ने कोर्ट से जवाब देने के लिए अधिक समय की मांग की है. दरअसल, डीएमके ने करुणानिधि के निधन के बाद मरीना बीच पर उन्हें दफनाने के लिए जमीन की मांग की थी. तमिलनाडु सरकार ने मरीना बीच पर जगह देने से इनकार कर दिया था. सरकार ने करुणानिधि को दफनाने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री सी राजगोपालचारी और के कामराज के स्मारकों के समीप जगह देने की पेशकश की थी. डीएमके इस पर राजी नहीं हुई और इस मामले पर सियासी उठापटक शुरू हो गई. 

  • राजकीय सम्मान के साथ चेन्नई के मरीना बीच पर हुआ तमिलनाडु के जननेता एम करुणानिधि का अंतिम संस्कार

    राजकीय सम्मान के साथ चेन्नई के मरीना बीच पर हुआ तमिलनाडु के जननेता एम करुणानिधि का अंतिम संस्कार

    तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री और डीएमके प्रमुख एम करुणानिधि (M Karunanidhi) का चेन्नई के मरीना बीच पर राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार (Karunanidhi Burial) किया गया. उनके पार्थिक शरीर को सुपुर्दे खाक कर दिया गया. पूर्व मुख्यमंत्री के पार्थिव शरीर को मरीना बीच पर उनके मार्गदर्शक और द्रमुक संस्थापक सीएन अन्नादुरई की समाधि के पास पूरे राजकीय सम्मान के साथ दफनाया गया. इससे पहले तीनों सेनाओं के कर्मियों ने उनके ताबूत को जैसे ही उठाया वैसे ही 'करुणानिधि अमर रहें' के नारे गूंजने लगे. करुणानिधि का पार्थिव शरीर सेना की खुली गाड़ी में मरीना बीच तक पहुंचा. उनके बेटे एमके स्टालिन और तमीझरासू समेत परिवार के अन्य सदस्य नम आंखों के साथ उनके साथ चल रहे थे. उनकी अंतिम यात्रा में शामिल हजारों लोगों ने काली कमीज पहनी हुई थी और वे दिवंगत नेता की तस्वीरें और तख्तियों थामे हुए थे. करुणानिधि के पार्थिव शरीर को राष्ट्रीय ध्वज में लपेटा गया और उन्हें काला चश्मा, पीली शॉल, सफेद कमीज और धोती पहनाई गई थी. इससे पहले, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत विभिन्न राजनीतिज्ञों ने दिवंगत नेता को श्रद्धांजलि दी.

  • NEWS FLASH : CBI ने मुजफ्फरपुर शेल्टर होम कांड के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर के बैंक अकाउंट फ्रीज किए

    NEWS FLASH :  CBI ने मुजफ्फरपुर शेल्टर होम कांड के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर के बैंक अकाउंट फ्रीज किए

    देश-दुनिया की राजनीति, खेल एवं मनोरंजन जगत से जुड़े समाचार इसी एक पेज पर जानें...

  • तमिलनाडु की राजनीति के एक युग का अंत

    तमिलनाडु की राजनीति के एक युग का अंत

    तमिलनाडु की राजनीति का आज दूसरा युग समाप्त हो गया. डीएमके नेता एम करुणानिधि का देहांत हो गया. 94 साल के करुणानिधि 28 जुलाई से अस्पताल में भर्ती थे. तमिलनाडु में जयललिता और करुणानिधि का लंबा दौर चला है. 5 दिसंबर 2016 को जयललिता के निधन के बाद तमिलनाडु की राजनीति अनिश्चतता से गुज़र रही थी. 5 बार मुख्यमंत्री रहे एम करुणानिधि के निधन ने राज्य की राजनीति का मैदान खुला छोड़ दिया है. जयललिता और करुणानिधि की राजनीति सिर्फ प्रतिस्पर्धा की राजनीति नहीं थी, दोनों ने विचारधारा के स्तर पर कई रेखाएं खीचीं हैं. आज स्क्रीन पर आप भले ही करुणानिधि के उदास और टूटे हुए समर्थकों को देख रहे हैं मगर इस शख्स ने तमिलनाडु का ग़ज़ब का इतिहास लिखा है. आप जानते है कि डीएमके की स्थापना अन्ना दुरई ने की थी. इस पार्टी में नौजवान नेता के रूप में एम करुणानिधि आए थे. इससे पहले वे पत्रकारिता में थे.

  • Karunanidhi Death : मरीन बीच पर करुणानिधि को दफनाने के लिए जगह देने की मांग का मामला सुबह 8 बजे तक स्थगित

    Karunanidhi Death : मरीन बीच पर करुणानिधि को दफनाने के लिए जगह देने की मांग का मामला सुबह 8 बजे तक स्थगित

    तमिलनाडु सरकार ने विपक्षी द्रमुक को उसके दिवंगत नेता पूर्व मुख्यमंत्री एम. करुणानिधि (Karunanidhi Death) को दफनाने के लिए मरीना बीच पर जगह देने से इनकार कर दिया. तमिलनाडु सरकार ने उसे इसके लिए पूर्व मुख्यमंत्री सी राजगोपालचारी और के कामराज के स्मारकों के समीप जगह देने की पेशकश की. सरकार के इस कदम पर विवाद पैदा हो गया है. इसके बाद डीएमके तमिलनाडु सरकार के खिलाफ मद्रास उच्च न्यायालय पहुंच गया. सूत्रों के मुताबिक मद्रास उच्च न्यायालय की कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश आज रात ही मामले की सुनवाई कर सकती हैं.