NDTV Khabar

कर्नाटक के गृह मंत्री जी परमेश्वर


'कर्नाटक के गृह मंत्री जी परमेश्वर' - 5 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • जी. परमेश्वर- 2013 में कर्नाटक के CM बनने से चूके, अब डिप्टी सीएम की रेस में सबसे आगे, जानिये 10 अहम तथ्य

    जी. परमेश्वर- 2013 में कर्नाटक के CM बनने से चूके, अब डिप्टी सीएम की रेस में सबसे आगे, जानिये 10 अहम तथ्य

    कर्नाटक में बगैर फ्लोर टेस्ट बीएस येदियुरप्पा के इस्तीफा देने के बाद अब कांग्रेस और जेडीएस के सरकार गठन का रास्ता साफ हो चुका है. मुख्यमंत्री पद के लिए जेडीएस नेता एचडी कुमारस्‍वामी का नाम तय है.अब उप मुख्‍यमंत्री यानी डिप्टी सीएम पद को लेकर कयास लगना शुरू हो गया है. कहा जा रहा है कि उप मुख्यमंत्री कांग्रेस का होगा और पार्टी इसके लिए किसी दलित चेहरे का नाम आगे कर सकती है. कांग्रेस की लिस्ट में जो नाम सबसे ऊपर है वो है 'जी परमेश्वर' का. कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष जी परमेश्वर सन 1989 से 1992 तक वे कर्नाटक कांग्रेस के ज्वाइंट सेक्रेटरी रहे.सन 1992 से 1997 तक वे प्रदेश कांग्रेस के महासचिव पद रहे. वर्ष 1997 में उन्हें प्रदेश उपाध्यक्ष बनाया गया और वर्ष 1999 तक इस पद पर काबिज रहे. साल 2010 में उन्हें कर्नाटक कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया गया. इसके अलावा 2010 से 2017 तक वे पार्टी की प्रदेश इकाई की प्रचार समिति के अध्यक्ष भी रह चुके हैं. परमेश्वर वर्ष 2013 में CM पद के प्रबल दावेदार थे, लेकिन हारने की वजह से उनका हाथ खाली रहा. जुलाई 2014 में परमेश्वर विधान परिषद के लिए एमएलसी चुने गए और 30 अक्टूबर 2015 को उन्हें कर्नाटक का गृह मंत्री नियुक्त कर दिया गया और 2017 तक वह इस पद पर काबिज रहे. अब उनका डिप्टी सीएम बनना लगभग तय माना जा रहा है.आपको आपको बताते हैं जी परमेश्वर से जुड़े 10 अहम तथ्य : 

  • बेंगलुरु के भीड़ भरे इलाकों पर नजर रखने के लिए घुड़सवार पुलिस की तैनाती

    बेंगलुरु के भीड़ भरे इलाकों पर नजर रखने के लिए घुड़सवार पुलिस की तैनाती

    बेंगलुरु में अब भीड़ भरे इलाकों में अब घोड़ों पर सवार पुलिस के जवान हर गतिविधि पर नजर रखेंगे. जरूरत पड़ने पर यह घुड़सवार पुलिस कर्मी संकरे और भीड़भाड़ वाले रास्तों से होकर तुरंत मौके पर पहुंचेंगे और हालात पर काबू पाएंगे. बेंगलुरु में तेजी से बढ़ती आबादी और वाहनों की तादाद की वजह से अपराधों में भी वृद्धि हुई है. ऐसे में अब भीड़भाड़ वाले इलाकों में घुड़सवार पुलिस की तैनाती पहली बार की गई है.

  • बेंगलुरु : बीजेपी कार्यकर्ता की हत्या, कारणों का खुलासा नहीं...

    बेंगलुरु : बीजेपी कार्यकर्ता की हत्या, कारणों का खुलासा नहीं...

    शहर के अनेकल में मंगलवार तड़के एक बीजेपी कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई. हमलावरों के बारे में अभी कोई विस्तृत जानकारी नहीं मिल पाई है, साथ ही हत्या के कारणों का भी खुलासा नहीं हुआ है. बीजेपी कार्यकर्ता पर जिस समय हमला हुआ, उस समय वह सैर करने निकले थे. वह नगरपालिका के सदस्य भी थे. कर्नाटक के गृह मंत्री जी परमेश्वर का कहना है कि इस हत्या की वजह राजनीतिक है या फिर हत्या निजी कारणों से की गई है या फिर रियल एस्टेट से जुड़ी है. यह सब जांच के बाद साफ हो जाएगा.

  • बेंगलुरु : महिलाओं से छेड़खानी, मंत्री ने ‘पश्चिमी रहन-सहन’ को जिम्मेदार बताया

    बेंगलुरु : महिलाओं से छेड़खानी, मंत्री ने ‘पश्चिमी रहन-सहन’ को जिम्मेदार बताया

    देश के महानगरों में शामिल बेंगलुरु के पॉश इलाके में 31 दिसंबर की रात नए साल के आगमन पर पार्टी करना महिलाओं को भारी पड़ा क्योंकि ऐसी महिलाएं भले ही अकेली थीं या परिवार के साथ, ज्यादातर को छेड़खानी और भद्दी टिप्पणियों का सामना करना पड़ा. इतना ही नहीं राज्य के गृहमंत्री ने इस पूरे घटनाक्रम के लिए युवाओं के रहन-सहन के ‘‘पश्चिमी तौर-तरीकों’’ को जिम्मेदार बताकर और बड़ा बखेड़ा खड़ा कर दिया.

  • कर्नाटक : उप मुख्यमंत्री पद न मिलने से नाखुश जी परमेश्वर को गृह मंत्रालय देकर खुश करने की कोशिश

    कर्नाटक : उप मुख्यमंत्री पद न मिलने से नाखुश जी परमेश्वर को गृह मंत्रालय देकर खुश करने की कोशिश

    कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जी परमेश्वर का उप मुख्यमंत्री बनने का सपना इस बार मंत्रिमंडल में हुए फेरबदल में भी पूरा नहीं हो सका। उन्हें गुरुवार को कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ दिलाई गई और शुक्रवार को देर शाम हुए गृह मंत्रालय का कार्यभार केजी जॉर्ज से लेकर सौंप दिया गया।

Advertisement