Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

किसानों की बदहाली


'किसानों की बदहाली' - 32 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • Lok Sabha Election 2019: एनसीपी ने जारी किया घोषणा-पत्र, पाकिस्‍तान से बातचीत की वकालत की

    Lok Sabha Election 2019: एनसीपी ने जारी किया घोषणा-पत्र, पाकिस्‍तान से बातचीत की वकालत की

    पिछले पांच साल में देश में करीब एक लाख किसानों ने आत्महत्या की है और किसानों की बढ़ती बदहाली को दूर करने के लिए सभी ज़रूरतमंद किसानों का क़र्ज़ माफ़ होना चाहिए. एनसीपी नेता डी पी त्रिपाठी ने दिल्ली में एनसीपी का मैनिफेस्टो जारी करने के बाद ये बात कही.

  • यूपी विधानसभा में योगी ने विपक्ष को 'गुंडा' कहा, जवाब में सीएम को कहा गया 'लोकल डॉन'

    यूपी विधानसभा में योगी ने विपक्ष को 'गुंडा' कहा, जवाब में सीएम को कहा गया 'लोकल डॉन'

    यूपी विधानसभा सत्र के पहले दिन सीएम योगी ने विपक्ष को “गुंडा” कहा और विपक्ष ने उन्हें “लोकल डॉन.” योगी विधानसभा के अंदर-बाहर विपक्ष के प्रदर्शन से नाराज थे और विपक्ष उनकी ज़ुबान से. विपक्ष ने प्रदर्शन कर सरकार पर कानून व्यवस्था,बेरोजगारी, किसानों की बदहाली और सीबीआई–ईडी के दुरुपयोग के इल्जाम लगाए.

  • NDTV से बोले रघुराम राजन, जीएसटी और नोटबंदी से देश को नुकसान हुआ

    NDTV से बोले रघुराम राजन, जीएसटी और नोटबंदी से देश को नुकसान हुआ

    रिज़र्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन का कहना है कि रिज़र्व बैंक जैसी संस्थाओं में सरकार का दखल देसी और विदेशी निवेश पर असर डाल सकता है. एनडीटीवी के एग्जीक्यूटिव को. चेयरपर्सन प्रणय रॉय के साथ एक इंटरव्यू में रघुराम राजन ने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था के सामने तीन सबसे बड़ी चुनौतियां हैं, किसानों की बदहाली, पावर सेक्टर और बैंकिंग सिस्टम में संकट. रघुराम राजन का ये भी कहना है कि नोटबंदी एक ख़राब विचार था.

  • स्वामीनाथन कमेटी की 8 मुख्य सिफारिशें, जिसकी चर्चा हर किसान आंदोलन के समय होती है

    स्वामीनाथन कमेटी की 8 मुख्य सिफारिशें, जिसकी चर्चा हर किसान आंदोलन के समय होती है

    दिल्ली में किसानों का आंदोलन समाप्त हो गया है. राजधानी कूच करने वाले किसान दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर अपनी 15 सूत्रीय मांगों के साथ धरने पर बैठे थे. जिसमें बिजली और डीजल की दरों में रियायत, किसानों को सामाजिक सुरक्षा, न्यूनतम समर्थन मूल्य को वैधानिक दर्जा और 10 साल से ज्यादा पुराने ट्रैक्टरों के इस्तेमाल की छूट के साथ-साथ स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिशों को लागू करना शामिल था. देश में जब-जब किसानों का प्रदर्शन होता है और वे सड़क पर आते हैं तब-तब स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिशों की चर्चा होती है. आइये आपको बताते हैं स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिशें क्या हैं. 

  • Budget 2018 : किसानों की बदहाली दूर करने और ग्रामीण इलाकों के बुनियादी ढांचे में सुधार पर रहेगा जोर

    Budget 2018 : किसानों की बदहाली दूर करने और ग्रामीण इलाकों के बुनियादी ढांचे में सुधार पर रहेगा जोर

    इस साल के बजट में ग्रामीण भारत में किसानों की बदहाली दूर करने के लिए वित्त मंत्री विशेष कदमों का एलान कर सकते हैं. मनरेगा जैसी ग्रामीण विकास की योजनाओं के लिए फंड्स में बढ़ोत्तरी का एलान भी संभव है. यूपी के बाराबंकी ज़िले के आलू किसान परेशान हैं. आलू की फसल उगाने के लिए लागत बढ़ती जा रही है, लेकिन कमाई घटती जा रही है. ऊपर से मंडियों में सही कीमत नहीं मिलने से गुजारा मुश्किल हो रहा है. इस बार के बजट में वित्तमंत्री से वे भी राहत चाहते हैं.

  • लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी सपा, 8 जनवरी को बुलाई अहम बैठक

    लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी सपा, 8 जनवरी को बुलाई अहम बैठक

    सपा कार्यालय से जुड़े सूत्रों के मुताबिक, आठ जनवरी को विधायकों, पिछले विधानसभा चुनाव के प्रत्याशियों और प्रमुख नेताओं की बैठक बुलाई गई है. सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव इस बैठक में चुनावी तैयारियों के संबंध में दिशा-निर्देश देंगे.

  • अन्ना हजारे की दो टूक, बोले- 2018 के आंदोलन में कोई 'केजरीवाल' पैदा नहीं होगा

    अन्ना हजारे की दो टूक, बोले- 2018 के आंदोलन में कोई 'केजरीवाल' पैदा नहीं होगा

    जनलोकपाल और किसानों की बदहाली के खिलाफ आवाज मुखर करने वाले समाजसेवी अन्ना हजारे ने मंगलवार को अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा. अन्ना हजारे ने कहा कि साल 2011 में भ्रष्टाचार के खिलाफ उनके आंदोलन के बाद अरविंद केजरीवाल ने जब आम आदमी पार्टी बना ली तो उन्होंने उनसे कोई वास्ता नहीं रखा.उन्होंने कहा कि 23 मार्च 2018 से वह एक और आंदोलन शुरू करने वाले हैं और उम्मीद करते हैं कि इससे कोई नया ‘केजरीवाल’ पैदा नहीं होगा.

  • मध्य प्रदेश : किसानों ने बताई अपनी परेशानी तो अफसर ने कहा, खेती छोड़कर बन जाओ मजदूर

    मध्य प्रदेश : किसानों ने बताई अपनी परेशानी तो अफसर ने कहा, खेती छोड़कर बन जाओ मजदूर

    एडिशनल चीफ सेक्रेटरी राधेश्याम जुलानिया ने किसानों से कहा कि भावांतर योजना में सरकार किसानों को इतना दे रही है और अगर ये भी कम पड़ रहा है तो नरेगा में मजदूर बन जाओ या पंचायत का चुनाव लड़कर सरपंच बन जाओ, क्योंकि सरपंची में आजकल ज्यादा कमाई हो रही है.

  • मध्य प्रदेश में 24 घंटे में दो किसानों ने की खुदकुशी, कर्ज की वजह से थे परेशान

    मध्य प्रदेश में 24 घंटे में दो किसानों ने की खुदकुशी, कर्ज की वजह से थे परेशान

    मध्य प्रदेश में 24 घंटे में दो किसानों ने खुदकुशी कर ली. दमोह ज़िले के पथरिया में रामा पटेल ने कीटनाशक पीकर जान दे दी, वहीं गुना में सुमेर सिंह ने फांसी लगाकर जान दे दी.

  • अब राजस्थान में सुलगने लगी किसान आंदोलन की आग, गुरुवार से प्रदर्शन

    अब राजस्थान में सुलगने लगी किसान आंदोलन की आग, गुरुवार से प्रदर्शन

    महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश में किसान आंदोलन के बाद अब राजस्थान किसान आंदोलन का नया केंद्र बन सकता है...आरएसएस से जुड़े भारतीय किसान संघ ने 15 जून से राज्य में किसानों की बढ़ती बदहाली के सवाल पर विरोध प्रदर्शन शुरू करने का एलान कर दिया है.

  • महाराष्ट्र में किसानों की बदहाली जानने के लिए एसी बस में कांग्रेस की संघर्ष यात्रा!

    महाराष्ट्र में किसानों की बदहाली जानने के लिए एसी बस में कांग्रेस की संघर्ष यात्रा!

    किसानों के मसले सुनने के लिए महाराष्ट्र में विपक्ष की संघर्ष यात्रा नया विवाद लेकर चल रही है. इस विवाद के केंद्र में है वह एयर कंडीशंड बस जिसमें से विपक्षी दलों के विधायक संघर्ष यात्री बनकर सफर कर रहे हैं. इस बस पर लगा मर्सिडीज बेंज का स्टीकर ही बस के आलीशान होने का अहसास करा रहा है.

  • प्राइम टाइम इंट्रो : खेती से हारे, अब भाषा से हारते किसान

    प्राइम टाइम इंट्रो : खेती से हारे, अब भाषा से हारते किसान

    संसाधन से लेकर संपादकीय पसंद जैसे तमाम कारणों से दिल्ली से चलने वाले स्थानीय किंतु राष्ट्रीय कहलाने वाले चैनलों की दुनिया में दक्षिण भारत और पूर्वोत्तर भारत का आगमन तभी होता जब वहां ऐसा कुछ होता है जिसका तालुल्क भाषा से कम हो, हल्ला हंगामा या तमाशा से ज़्यादा हो. आज के मीडिया जगत में तमाशा की कोई भाषा नहीं होती है. तमाशा हो तो हिन्दी चैनलों पर फ्रांस की घटना भी भारत की ज़रूरी ख़बरों से ज़्यादा जगह घेर लेगी.

  • पटेलों; दलितों के बाद गुजरात में एक और आंदोलन, किसान वेदना यात्रा गांधीनगर पहुंची

    पटेलों; दलितों के बाद गुजरात में एक और आंदोलन, किसान वेदना यात्रा गांधीनगर पहुंची

    जूनागढ़ के किसान पिछले 20 दिन से सोमनाथ से शुरू हुई किसान वेदना यात्रा में 450 किलोमीटर पैदल चले हैं. किसानों की राज्य में बदहाली को लेकर विविध मांगों को लेकर गांधीनगर तक यह यात्रा निकाली गई. किसान नोटबंदी से भी बेहद परेशान हैं. उन्होंने कपास और फलों की खेती की थी लेकिन उसका पैसा नहीं मिला तो नई सीजन की बुवाई पर असर पड़ा है.

  • मोदी सरकार ने उद्योगपतियों का कर्ज माफ किया, किसानों को भूल गए : राहुल गांधी

    मोदी सरकार ने उद्योगपतियों का कर्ज माफ किया, किसानों को भूल गए : राहुल गांधी

    अपनी उत्तर प्रदेश यात्रा के दूसरे दिन कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने किसानों के कर्ज माफ करने की मांग उठाई और कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गरीबों के लिए सरकार चलानी चाहिए और किसान जो ‘रो’ रहे हैं उनकी बदहाली पर ध्यान देना चाहिए.

  • अकोला : किराये पर बैल लेने के लिए नहीं हैं पैसे, किसान ने बेटे को खेत में जोता

    अकोला : किराये पर बैल लेने के लिए नहीं हैं पैसे, किसान ने बेटे को खेत में जोता

    महाराष्ट्र के अकोला में बरसात हो रही है, कई किसानों के लिये ये खुशखबरी है लेकिन कुछ के लिये मुसीबतें कम नहीं हुई हैं। ज़िले के दहीगांव के रहने वाले अरुण गावंडे उनमें से एक हैं, बैल कर्ज पर ले नहीं सकते इसलिये खेत जोतने बेटे की मदद ले रहे हैं।

  • पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र के इस किसान ने मांगी तीन हत्या करने की इजाज़त...जानिए क्यों?

    पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र के इस किसान ने मांगी तीन हत्या करने की इजाज़त...जानिए क्यों?

    मुआवज़े को लेकर किसानों की ज़िन्दगी सरकारी तंत्र में किस तरह उलझी होती है, इसकी एक बानगी बनारस के फूलपुर में दिखाई देती है। बिंदा के रहने वाले राजेंद्र यादव ने एक ख़त लिखा है जिसमें उन्होंने पूर्व ग्राम प्रधान और लेखपाल के साथ साथ अपनी हत्या की अनुमति मांगी है।

  • सूखाग्रस्त अमरावती में मुख्यमंत्री फडणवीस के स्वागत में हज़ारों लीटर पानी बहाया गया

    सूखाग्रस्त अमरावती में मुख्यमंत्री फडणवीस के स्वागत में हज़ारों लीटर पानी बहाया गया

    शनिवार को मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस सूखाग्रस्त अमरावती के दौरे पर थे लेकिन एक रात पहले उनके स्वागत में शहर के रास्ते साफ़ करने के लिए हज़ारों लीटर पानी बहा दिया गया।

  • क्या साहूकार के चंगुल में है भारत ?

    क्या साहूकार के चंगुल में है भारत ?

    सोचना यह भी होगा कि जब हम रायसेन के पास सलामतपुर के बांशिदों की रिवर्स माइग्रेशन की तारीफ कर रहे होते हैं तो दूसरी ओर हमारी नीतियों में व्यापक रूप से क्या यह मॉडल आ पाता है।