NDTV Khabar

किसान कर्ज माफी


'किसान कर्ज माफी' - 84 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • मध्य प्रदेश के कृषि मंत्री का दावा, BJP उम्मीदवार की मां का भी कर्ज हुआ माफ

    मध्य प्रदेश के कृषि मंत्री का दावा, BJP उम्मीदवार की मां का भी कर्ज हुआ माफ

    मध्य प्रदेश में किसानों की कर्ज माफी को लेकर छिड़ी बयानबाजी के बीच राज्य के कृषि मंत्री सचिन यादव ने दावा किया है कि झाबुआ विधानसभा क्षेत्र के उप-चुनाव के उम्मीदवार भानु भूरिया की मां वरदी भूरिया का एक लाख रुपये का कर्ज माफ हुआ.

  • कर्ज मुक्त किसान और आत्महत्या मुक्त भारत का सपना कब होगा पूरा?

    कर्ज मुक्त किसान और आत्महत्या मुक्त भारत का सपना कब होगा पूरा?

    कुछ राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं जिसमें महाराष्ट्र भी शामिल है. अब चुनाव से पहले बहुत कुछ वादे किए जाएंगे. किसानों की समस्या को लेकर बात होगी. किसानों के लिए कई योजनाओं की घोषणा होगी. चुनाव के बाद यह सब वादे खोखले साबित होंगे क्योंकि अगर राजनैतिक दलों ने अपना वादा पूरा किया होता तो आज किसान आत्महत्या नहीं करता.

  • कर्ज में डूबे किसान ने की खुदकुशी, लिखा- मेरी मौत के जिम्मेदार गहलोत और पायलट, इनके वादे का क्या हुआ?

    कर्ज में डूबे किसान ने की खुदकुशी, लिखा- मेरी मौत के जिम्मेदार गहलोत और पायलट, इनके वादे का क्या हुआ?

    बताया जा रहा है कि मृतक के पास एक सुसाइड नोट भी मिला है. जिसमें उसने सरकार द्वारा कर्ज माफी का वादा पूरा न करने को अपनी मौत की वजह का कारण बताया है. हालांकि परिजनों व पुलिस ने इस सुसाइड नोट की पुष्टि नहीं की है.

  • असली मुद्दा कर्जमाफी है और शिवराज सिंह चौहान ने भी माना भाई का कर्ज हुआ माफ: मुख्यमंत्री कमलनाथ

    असली मुद्दा कर्जमाफी है और शिवराज सिंह चौहान ने भी माना भाई का कर्ज हुआ माफ: मुख्यमंत्री कमलनाथ

    मध्य प्रदेश में किसान कर्ज माफी को लेकर हो रहे वार-पलटवार के बीच मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि चुनाव में असली मुद्दा किसान कर्ज माफी है और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी मान लिया है कि उनके भाई का भी कर्ज माफ हुआ है.

  • कमलनाथ पर किसानों से वादाखिलाफी का आरोप लगाने वाले शिवराज के भाई और चाचा का कर्ज माफ

    कमलनाथ पर किसानों से वादाखिलाफी का आरोप लगाने वाले शिवराज के भाई और चाचा का कर्ज माफ

    बीजेपी के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान किसानों का कर्ज माफ न किए जाने का आरोप मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार पर लगा रहे हैं लेकिन वास्तव में सरकार ने खुद शिवराज सिंह के भाई और चाचा का कर्ज माफ किया है. सरकारी दस्तावेज इसकी पुष्टि कर रहे हैं.

  • राहुल गांधी कुछ देर में जारी करेंगे कांग्रेस का घोषणा पत्र, इन बड़े वादों पर रहेगी नजर...

    राहुल गांधी कुछ देर में जारी करेंगे कांग्रेस का घोषणा पत्र, इन बड़े वादों पर रहेगी नजर...

    राहुल गांधी (Rahul Gandhi) मंगलवार की दोपहर कांग्रेस का घोषणापत्र (Congress Manifesto) जारी करेंगे, जिसमें न्यूनतम आय योजना (न्याय) और स्वास्थ्य के अधिकार के साथ किसान की कर्ज माफी, नीति आयोग को खत्म करने से लेकर दलितों एवं ओबोसी समुदायों के लिए कई प्रमुख वादे हो सकते हैं.  

  • किसानों की कर्जमाफी के मुद्दे पर पीएम मोदी बोले- चुनाव जीतने के लिए कांग्रेस ने किसानों की पीठ में छुरा भोका

    किसानों की कर्जमाफी के मुद्दे पर पीएम मोदी बोले- चुनाव जीतने के लिए कांग्रेस ने किसानों की पीठ में छुरा भोका

    मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में किसानों की क़र्ज़ माफ़ी के बाद कांग्रेस के निशाने पर आए प्रधानमंत्री मोदी ने  पलटवार किया है.

  • मध्‍यप्रदेश में कर्ज माफी की योजना के दायरे में नहीं आने के कारण किसान ने की आत्महत्या

    मध्‍यप्रदेश में कर्ज माफी की योजना के दायरे में नहीं आने के कारण किसान ने की आत्महत्या

    मध्यप्रदेश की नवगठित कांग्रेस सरकार की कर्जमाफी की योजना के दायरे में कथित रूप से नहीं आने के कारण खंडवा जिले की पंधाना विधानसभा क्षेत्र के अस्तरिया गांव के 45 वर्षीय एक आदिवासी किसान ने कथित तौर पर पेड़ से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली.

  • लोकसभा चुनाव-2019 से पहले BJP के सबसे बड़े दांव को क्या राहुल गांधी ने नाकाम कर दिया

    लोकसभा चुनाव-2019 से पहले BJP के सबसे बड़े दांव को क्या राहुल गांधी ने नाकाम कर दिया

    किसानों की कर्जमाफी का मुद्दा इस समय देश में छाया हुआ है. कांग्रेस ने सरकार बनाते ही अपना वादा पूरा किया और मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में किसानों के कर्ज माफ करने का ऐलान कर दिया है.

  • Ground Report: कर्ज़माफी को लेकर मध्यप्रदेश के किसानों में भ्रम 

    Ground Report: कर्ज़माफी को लेकर मध्यप्रदेश के किसानों में भ्रम 

    मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार की कर्ज माफी योजना की वाहवाही जहां राहुल गांधी कर रहे हैं, वहीं प्रदेश के कई किसान इस योजना को लेकर भ्रम की हालत में हैं. वजह है कि इस योजना का क्रियान्वयन कैसे होगा उनके नियम क्या हैं ये साफ नहीं हुए हैं. कई किसानों ने तो यह तक धमकी दी है कि अगर उनके साथ धोखा हुआ तो वो लोकसभा चुनाव में बदला ले लेंगे... कुछ खुश हैं...कुछ रास्ते बता रहे हैं, जिनपर सरकार काम करे तो उन्हें कर्जमाफी की ज़रूरत ना पड़े.

  • राहुल गांधी बोले- किसानों की कर्ज माफी तक PM मोदी को सोने नहीं देंगे

    राहुल गांधी बोले- किसानों की कर्ज माफी तक PM मोदी को सोने नहीं देंगे

    राहुल ने कहा, 'हिंदुस्तान में एक तरफ मजदूर किसान हैं तो दूसरी तरफ 15 -20 अमीर है. मोदी जी ने साढ़े तीन लाख करोड़ रुपए 15-20 लोगों के जेब में डाला है. हमारी चुनाव में जीत हिंदुस्तान के गरीब जनता की है. मोदी जी के दो हिंदुस्तान हैं. एक हिंदुस्तान 15-20 लोगों का कर्ज माफी का, दूसरा गरीब लोगों का और किसानों का है. हमनें वादा किया किया था दस दिन के अंदर किसानों का कर्जा माफ करेंगे. दो राज्यों में छह घंटे भी नहीं लगे और तीसरे राज्यों में भी जल्द कर्ज माफ होगा. मोदी जी चार साल से पीएम हैं, किसान का एक रुपया माफ नहीं किया.

  • दफ्तर संभालते ही कमलनाथ ने राहुल गांधी के कर्ज माफी के वायदे पर किया दस्तखत, 5 खास बातें... 

    दफ्तर संभालते ही कमलनाथ ने राहुल गांधी के कर्ज माफी के वायदे पर किया दस्तखत, 5 खास बातें... 

    कमलनाथ (Kamal Nath) मध्यप्रदेश के 18वें मुख्यमंत्री बन गए हैं. पद और गोपनियता की शपथ (Kamal Nath Oath Ceremony) लेने के तुरंत बाद ही उन्होंने अपने वादे के मुताबिक किसानों के कर्ज़ माफ (Loan Waiver) करने वाली फाइल पर दस्तखत कर दिए. बता दें कि मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शपथ लेने से पहले ही कहा कि था कि वे 10 दिनों से पहले ही किसानों का कर्ज माफ करेंगे. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने दस्तखत के बाद किसानों के दो लाख रुपये तक के ऋण माफ हो गए. मध्यप्रदेश के किसान कल्याण एवं कृषि विकास विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. राजेश राजोरा ने बताया कि मुख्यमंत्री द्वारा कर्जमाफी की फाइल पर हस्ताक्षर करने के बाद इस संबंध में आदेश जारी कर दिये गए हैं. उन्होंने कहा, 'सोमवार शाम जारी आदेश में कहा गया है कि मध्यप्रदेश शासन एतद् द्वारा निर्णय लिया जाता है कि मध्यप्रदेश राज्य में स्थित राष्ट्रीयकृत तथा सहकारी बैंकों में अल्पकालीन फसल ऋण के रूप में शासन द्वारा पात्रता अनुसार पात्र पाए गए किसानों के दो लाख रुपये की सीमा तक का 31 मार्च 2018 की स्थिति में बकाया फसल ऋण माफ किया जाता है.'

  • मुख्यमंत्री पद की शपथ लेते ही कमलनाथ ने वादे के मुताबिक सबसे पहले किया यह काम...

    मुख्यमंत्री पद की शपथ लेते ही कमलनाथ ने वादे के मुताबिक सबसे पहले किया यह काम...

    कमलनाथ (Kamal Nath) मध्यप्रदेश के 18वें मुख्यमंत्री बन गए हैं. राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कमलनाथ को पद और गोपनियता की शपथ (Kamal Nath Oath Ceremony) दिलाई. शपथ लेने के तुरंत बाद ही अपने वादे के मुताबिक मध्यप्रदेश के नवनियुक्त मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राजधानी भोपाल में किसानों के कर्ज़ माफ (Loan Waiver) करने वाली फाइल पर दस्तखत कर दिए. बता दें कि मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शपथ लेने से पहले ही कहा कि था कि वे 10 दिनों से पहले ही किसानों का कर्ज माफ करेंगे.

  • जब-जब जिस पार्टी ने किया किसानों की कर्ज माफी का किया वादा, उसने मारी चुनाव में बाजी!

    जब-जब जिस पार्टी ने किया किसानों की कर्ज माफी का किया वादा, उसने मारी चुनाव में बाजी!

    कांग्रेस ने इन चुनावों के दौरान वादा किया कि उनकी सरकार बनने के बाद 10 दिनों के भीतर किसानों का कर्ज माफ कर दिया जाएगा. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने खुद कई रैलियों को संबोधित करते हुए यह वादा किया था और घोषणा पत्र में भी इसका जिक्र किया गया. इतना ही नहीं कांग्रेस ने किसानों के मुद्दों को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना भी साधा. इसके बाद कांग्रेस ने पांच राज्यों में से राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में जीत भी हासिल की.

  • सरकार बनने से पहले ही किसानों की कर्ज माफी की तैयारियां शुरू, राहुल ने किया था 10 दिनों में माफ करने का वादा

    सरकार बनने से पहले ही किसानों की कर्ज माफी की तैयारियां शुरू, राहुल ने किया था 10 दिनों में माफ करने का वादा

    भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस द्वारा अपने जन घोषणा पत्र में सरकार बनने के 10 दिनों के भीतर किसानों का कर्ज माफ करने की घोषणा की गई है. इस घोषणा की पूर्ति के लिए किसानों की ऋण माफी योजना तैयार किया जाना है. अधिकारियों से कहा गया है कि उनके अधीन कार्यरत बैंकों द्वारा किसानों को वितरित कृषि ऋण अवशेष की जानकारी 30 नवंबर की स्थिति के अनुसार उपलब्ध कराएं.

  • आखिर क्यों दिल्ली की सड़कों पर उतरा देश का अन्नदाता, हजारों किसानों का आज संसद मार्च, 10 बड़ी बातें

    आखिर क्यों दिल्ली की सड़कों पर उतरा देश का अन्नदाता, हजारों किसानों का आज संसद मार्च, 10 बड़ी बातें

    किसानों को लेकर केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ आवाज बुलंद करने के लिए एक बार फिर से देशभर के किसान देश की राजधानी दिल्ली की सड़कों पर जमा हुए हैं. किसानों की कर्जमाफी और फसलों की लागत का डेढ़ गुना समर्थन मूल्य दिए जाने समेत कई मांगों को लेकर विभिन्न राज्यों के किसान (Kisan Mukti March) दिल्ली के रामलीला मैदान पहुंच गए हैं. दो दिवसीय किसान मुक्ति मार्च का आज यानी शुक्रवार को दूसरा और आखिरी दिन है और किसान आज अपनी मांगों को लेकर संसद मार्च करेंगे. किसानों ने सरकार और प्रशासन को चेताया है कि अगर उन्हें संसद की ओर जाने से रोका गया तो फिर वे न्यूड प्रदर्शन करेंगे. किसान (Kisan Mukti March) इस बार सिर्फ दो मांगों को लेकर यह आंदोलन कर रहे हैं. उनकी पहली मांग है कि उन्हें कर्ज से पूरी तरह मुक्ति दी जाए और दूसरी अपनी दूसरी मांग में फसलों की लागत का डेढ़ गुना मुआवजा चाहते हैं. ऐतिहासिक रामलीला मैदान पर लाल टोपी पहने और लाल झंडा लिए किसानों ने 'अयोध्या नहीं, कर्ज माफी चाहिए' जैसे नारे लगाते दिखे.

  • किसान मुक्ति मार्च में महिलाएं भी शामिल, कर्ज माफी की मांग बुलंद की

    किसान मुक्ति मार्च में महिलाएं भी शामिल, कर्ज माफी की मांग बुलंद की

    बढ़ते बैंक कर्ज, फसल की बर्बादी, कर्ज चुकाने के तरीकों का अभाव और आश्रित बड़े परिवारों जैसे कुछ साझे मुद्दों को लेकर गुरुवार को महिला किसान सड़कों पर उतरीं. सत्ता के केंद्र तक अपनी आवाज पहुंचाने की उम्मीद लेकर देश के कोने-कोने से आए हजारों किसानों ने अपनी मांगें मनवाने के लिए दो दिवसीय विरोध प्रदर्शन शुरू किया.

  • रामलीला मैदान में जुटे देश भर के हजारों किसान, कहा - 'अयोध्या नहीं, कर्ज माफी चाहिए', संसद कूच आज

    रामलीला मैदान में जुटे देश भर के हजारों किसान, कहा - 'अयोध्या नहीं, कर्ज माफी चाहिए', संसद कूच आज

    अपनी मांगों को लेकर विभिन्न राज्यों के किसान (Kisan Mukti March) दिल्ली के रामलीला मैदान पहुंच गए हैं. वह एक बार फिर केंद्र सरकार की घेराबंदी करेंगे. किसान (Kisan Mukti March) इस बार सिर्फ दो मांगों को लेकर यह आंदोलन कर रहे हैं. उनकी पहली मांग है कि उन्हें कर्ज से पूरी तरह मुक्ति दी जाए और दूसरी अपनी दूसरी मांग में फसलों की लागत का डेढ़ गुना मुआवजा चाहते हैं.