NDTV Khabar

केंद्रीय एजेंसी से जांच की मांग


'केंद्रीय एजेंसी से जांच की मांग' - 4 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • अधीर रंजन चौधरी ने चिट फंड घोटालों की जांच, पीड़ित निवेशकों को मुआवजा देने की मांग की

    अधीर रंजन चौधरी ने चिट फंड घोटालों की जांच, पीड़ित निवेशकों को मुआवजा देने की मांग की

    पश्चिम बंगाल कांग्रेस के प्रमुख अधीर रंजन चौधरी ने शुक्रवार को चिटफंड घोटालों की केंद्रीय एजेंसी से जांच कराने और राज्य सरकार से इस घोटाले के शिकार निवेशकों को मुआवजा देने की मांग की.

  • सुशांत सिंह केस CBI को ट्रांसफर करने की याचिका SC में खारिज, CJI बोले - पुलिस को काम करने दें

    सुशांत सिंह केस CBI को ट्रांसफर करने की याचिका SC में खारिज, CJI बोले - पुलिस को काम करने दें

    बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई से जांच की मांग करने वाली एक जनहित याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया है. याचिका को खारिज करते हुए शीर्ष अदालत के प्रधान न्यायाधीश एस ए बोबडे ने यह भी कहा कि मुंबई पुलिस मामले की जांच कर रही है, उसे जांच करने दिया जाए.

  • CBI vs CBI: आलोक वर्मा की याचिका पर बोले CJI-सीबीआई के अंतरिम चीफ नहीं लेंगे कोई नीतिगत फैसला, 10 बातें

    CBI vs CBI: आलोक वर्मा की याचिका पर बोले CJI-सीबीआई के अंतरिम चीफ नहीं लेंगे कोई नीतिगत फैसला, 10 बातें

    सीबीआई (CBI vs CBI) में छिड़ी जंग के बीच आज यानी शुक्रवार को सीबीआई डायरेक्टर आलोक वर्मा (Alok Verma) की अर्जी पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में सुनवाई हुई. सीबीआई डायरेक्टर आलोक वर्मा और स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के बीच आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला जब सार्वजनिक हो गया, तब केंद्र सरकार ने दोनों को छुट्टी पर भेज दिया. मगर केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो के निदेशक आलोक कुमार वर्मा को अधिकार वापस लेकर उन्हें छुट्टी पर भेजे जाने के खिलाफ उनकी याचिका पर आज सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई की और सीवीसी जांच के लिए महज दो सप्ताह का वक्त दिया. सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने आलोक वर्मा की याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि दो सप्ताह के भीतर सीवीसी जांच पूरी हो जानी चाहिए. साथ ही इसकी रिपोर्ट सीलबंद लिफाफे में केंद्र को देना होगा. दरअसल, आलोक वर्मा ने अपनी याचिका में केंद्र की ओर से उन्हें छुट्टी पर भेजे जाने तथा अंतरिम प्रभार 1986 बैच के भारतीय पुलिस सेवा के ओडिशा कैडर के अधिकारी तथा एजेंसी के संयुक्त निदेशक एम नागेश्वर राव को सौंपे जाने के फैसले पर रोक लगाने की मांग की है.

  • प्रत्यूषा के माता-पिता ने मौत की जांच केंद्रीय एजेंसी से कराने के लिए राजनाथ को पत्र लिखा

    प्रत्यूषा के माता-पिता ने मौत की जांच केंद्रीय एजेंसी से कराने के लिए राजनाथ को पत्र लिखा

    मुंबई पुलिस के टीवी अभिनेत्री प्रत्यूषा बनर्जी की मौत की जांच के तरीके पर असंतोष जताते हुए उनके माता-पिता ने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखकर मामले की किसी प्रमुख केंद्रीय एजेंसी से जांच कराने की मांग की।

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com