NDTV Khabar

गरीबों का अनाज


'गरीबों का अनाज' - 14 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • Exclusive: केंद्र ने मध्यप्रदेश से कहा- लॉकडाउन में बंटा चावल इंसान के लायक नहीं, जानवरों को खिलाएं

    Exclusive: केंद्र ने मध्यप्रदेश से कहा- लॉकडाउन में बंटा चावल इंसान के लायक नहीं, जानवरों को खिलाएं

    लॉकडाउन (Lockdown) में केन्द्र और राज्य सरकारों ने गरीबों को मुफ्त में अनाज देने के बड़े-बड़े वादे किए, ये खबरें सुर्खियां बनीं,  जो नहीं बनीं वह ये थीं कि इस खाने से पोषण भी मिलेगा या सिर्फ पेट भरेगा! एक और बात जो सुर्खियों में नहीं आई कि इसकी गुणवत्ता क्या है? दूसरे सवाल का जवाब कम से कम मध्यप्रदेश के लिए तो केन्द्र सरकार ने ही दे दिया है. दो आदिवासी बहुल जिलों- मंडला और बालाघाट में चावल को जांचा गया है. कहा है कि इंसान तो छोड़िए,  इसे भेड़-बकरियों की खिला दीजिए.

  • पीएम मोदी की घोषणा पर रामविलास पासवान ने कहा, राज्य अतिरिक्त अनाज लेना शुरू करें

    पीएम मोदी की घोषणा पर रामविलास पासवान ने कहा, राज्य अतिरिक्त अनाज लेना शुरू करें

    केंद्रीय खाद्य मंत्री रामविलास पासवान ने एनडीटीवी से कहा कि प्रधानमंत्री ने देश के 80 करोड़ गरीबों को नवंबर तक मुफ्त अनाज बांटने का ऐलान करके एक ऐतिहासिक फैसला किया है. मैं राज्य सरकारों से अपील करता हूं कि वे जल्दी से जल्दी जो अतिरिक्त अनाज का आवंटन करने का फैसला प्रधानमंत्री ने किया है उसे लिफ्ट करना शुरू करें.

  • Unlock2: कोरोना से जंग के बीच PM मोदी की गरीबों को बड़ी सौगात, पढ़ें 10 अहम बातें

    Unlock2: कोरोना से जंग के बीच PM मोदी की गरीबों को बड़ी सौगात, पढ़ें 10 अहम बातें

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को संबोधित करते हुए गरीब कल्याण योजना का विस्तार नवंबर अंत तक करने की घोषणा की. उन्होंने कहा कि अब दिवाली और छठ तक 80 करोड़ लोगों को मुफ्त अनाज मिलेगा. इस पर 90,000 करोड़ रुपये खर्च होंगे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने माना कि अनलॉक-1 के बाद लापरवाही बढ़ी है. उन्होंने कहा कि हमें लापरवाही बरतने वालों को समझना होगा. कोरोना वैश्विक महामारी के खिलाफ लड़ते हुए अब हम Unlock2 में प्रवेश कर रहे हैं और हम उस मौसम में भी प्रवेश कर रहे हैं जहां सर्दी-जुखाम, खांसी-बुखार ये सारे न जाने क्या क्या होता है, इनके मामले बढ़ जाते हैं. ऐसे में लोगों को सावधान रहने की जरूरत है.

  • पीएम मोदी के राष्ट्र के नाम संबोधन में चीन का जिक्र नहीं, अनलॉक-2 और गरीबों पर रहा फोकस

    पीएम मोदी के राष्ट्र के नाम संबोधन में चीन का जिक्र नहीं, अनलॉक-2 और गरीबों पर रहा फोकस

    त्योहारों का यह समय जरूरत भी बढ़ता है और खर्च भी बढ़ाता है. हमने अब फैसला किया है कि प्रधानमंत्री गरीब योजना का विस्तार अब दिवाली और छठ पूजा यानि नवंबर महीन के आखिरी तक कर दिया जाएगा. यानि 80 करोड़ लोगों को मुफ्त अनाज देने वाली ये योजना नवंबर में भी लागू रहेगी.

  • ज़रूरतमंदों के हाथ में दें पैसे, हर एक को मिले अस्थायी राशन कार्ड : नोबेल विजेता अर्थशास्त्री अभिजीत बनर्जी ने दिए टिप्स

    ज़रूरतमंदों के हाथ में दें पैसे, हर एक को मिले अस्थायी राशन कार्ड : नोबेल विजेता अर्थशास्त्री अभिजीत बनर्जी ने दिए टिप्स

    अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए बनर्जी ने लोगों के हाथ में पैसा देने के अलावा अस्थायी राशन कार्ड बनने का सुझाव भी दिया है. उन्होंने कहा कि गरीबों और जरूरतमंदों के लिए अनाज की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए अस्थायी राशन कार्ड की व्यवस्था की जानी चाहिए वो भी बिना किसी पहचान के.

  • कोरोना की खासियत है, यह खुद कहीं नहीं जाता, दो गज़ की दूरी हमें बचाएगी : पंचों से बैठक में PM की 10 बड़ी बातें

    कोरोना की खासियत है, यह खुद कहीं नहीं जाता, दो गज़ की दूरी हमें बचाएगी : पंचों से बैठक में PM की 10 बड़ी बातें

    राष्ट्रीय पंचायतराज दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) पूरे देश की ग्राम पंचायतों के साथ वीडियो कांन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत की. केंद्र सरकार की ओर से कहा गया है कि कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम में ग्राम पंचायतों ने अहम भूमिका निभाई है जिसमें गरीबों और प्रवासी मजदूरों तक अनाज की आपूर्ति में अहम भूमिका रही है. इस मौके पर पीएम मोदी एकीकृत ई-ग्राम स्वराज पोर्टल भी लांच किया. इसके साथ ही पीएम मोदी ने स्वामित्व योजना की भी शुरुआत की. ग्राम पंचायतों से बातचीत की शुरुआत करते हुए पीएम मोदी ने सभी लोगों को पंचायतीराज दिवस पर शुभकामनाएं दीं. पीएम मोदी ने इस दौरान पंच और सरपंचों से क्या कहा और क्या बातचीत की, आइए 10 प्वाइंट में जानते हैं.

  • PM नरेंद्र मोदी ने किया स्वामित्व योजना का ऐलान, गांवों में प्रॉपर्टी की मैपिंग ड्रोन के ज़रिये होगी, मिलेगा संपत्ति का प्रमाणपत्र

    PM नरेंद्र मोदी ने किया स्वामित्व योजना का ऐलान, गांवों में प्रॉपर्टी की मैपिंग ड्रोन के ज़रिये होगी, मिलेगा संपत्ति का प्रमाणपत्र

    आज राष्ट्रीय पंचायतराज दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूरे देश की ग्राम पंचायतों के साथ वीडियो कांन्फ्रेंस के जरिए बातचीत कर रहे हैं. केंद्र सरकार की ओर से कहा गया है कि कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम में ग्राम पंचायतों ने अहम भूमिका निभाई है जिसमें गरीबों और प्रवासी मजदूरों तक अनाज की आपूर्ति में अहम भूमिका रही है. आज इस मौके पर पीएम  मोदी एकीकृत ई-ग्राम स्वराज पोर्टल भी लांच  किया है. 

  • राष्ट्रीय पंचायतीराज दिवस : पीएम मोदी आज 11 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से पूरे देश की ग्राम पंचायतों से बात करेंगे

    राष्ट्रीय पंचायतीराज दिवस : पीएम मोदी आज 11 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से पूरे देश की ग्राम पंचायतों से बात करेंगे

    आज राष्ट्रीय पंचायत दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूरे देश की ग्राम पंचायतों के साथ वीडियो कांन्फ्रेंस के जरिए बातचीत करेंगे. केंद्र सरकार की ओर से कहा गया है कि कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम में ग्राम पंचायतों ने अहम भूमिका निभाई है जिसमें गरीबों और प्रवासी मजदूरों तक अनाज की आपूर्ति में अहम भूमिका रही है. आज इस मौके पर पीएम  मोदी एकीकृत ई-ग्राम स्वराज पोर्टल भी लांच करेंगे जिसके जरिए ग्राम पंचायतों के विकास की योजनाएं तैयार कर सकेंगी. प्रधानमंत्री का यह कार्यक्रम आज 11 बजे होगा.  

  • उत्तर प्रदेश घोषणापत्र : किसानों के लिए सौगातें बरकरार, तकनीक की भी बनी हिस्सेदारी

    उत्तर प्रदेश घोषणापत्र : किसानों के लिए सौगातें बरकरार, तकनीक की भी बनी हिस्सेदारी

    उत्तर प्रदेश में राजनीतिक दलों के घोषणा पत्रों में किसानों को रिण माफी के लिए दिए जाने वाले आश्वासन तो हैं ही, साथ ही साथ लैपटॉप और स्मार्ट फोनों का भी वादा किया जा रहा है. दक्षिण में चलने वाली लोकलुभावनवादी योजनाओं की तर्ज पर सत्ताधारी समाजवादी पार्टी ने एक करोड़ लोगों को विभिन्न योजनाओं के तहत दिए जाने वाले पेंशन लाभों के अलावा गरीबों के लिए प्रेशर कुकर और अनाज देने का वादा किया है. इसके अलावा छात्रों को दूध एवं घी देने का भी वादा किया गया है. पिछले चुनावों में समाजवादी पार्टी ने अपने घोषणापत्र में छात्रों को लैपटॉप और टेबलेट देने का वादा करके सभी का ध्यान खींच लिया था.

  • पंजाब : गरीबों को मिलने वाले अनाज की बंदरबांट, मरे हुए लोगों के नाम पर भी बांटा जा रहा अनाज

    पंजाब : गरीबों को मिलने वाले अनाज की बंदरबांट, मरे हुए लोगों के नाम पर भी बांटा जा रहा अनाज

    पंजाब में गरीबों के नाम पर अनाज ऐसे लोगों के खाते में दिखाया जा रहा है, जो या तो मर चुके हैं या फिर उनका वजूद ही नहीं है। एनडीटीवी ने संगरूर के गांव बीर कलां में पड़ताल की तो सार्वजानिक वितरण प्रणाली में चौंकाने वाली खामियां सामने आईं।

  • सुप्रीम कोर्ट के आदेश का खुल्लम-खुल्ला उल्लंघन, आधार बिना नहीं दे रहा कोई राशन!

    सुप्रीम कोर्ट के आदेश का खुल्लम-खुल्ला उल्लंघन, आधार बिना नहीं दे रहा कोई राशन!

    गरीबों को सस्ते अनाज का अधिकार दिलाने में लगी सामाजिक कार्यकर्ता सुमन कहती हैं, 'यहां लोग काफी गरीब हैं और उनके लिए खाद्य सुरक्षा बिल के तहत मिलने वाला राशन काफी अहम है। लेकिन सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बावजूद राशन कार्ड बनाने या उसमें नाम शामिल करने से पहले आधार कार्ड मांगा जा रहा है।'

  • तेल, अनाज नहीं, गरीबों के खातों में सीधे कैश पहुंचाने पर फैसला आज

    तेल, अनाज नहीं, गरीबों के खातों में सीधे कैश पहुंचाने पर फैसला आज

    सरकार का इरादा है कि यूआईडी कार्ड के आधार पर गरीबों की पहचान की जाए और परिवार की महिलाओं के खाते में पैसे जमा किए जाएं। हर परिवार को साल में 35 से 40 हजार रुपये मिलेंगे।

  • खाद्य सुरक्षा विधेयक को मिली कैबिनेट की मंजूरी

    केंद्र ने गरीबों को सस्ते अनाज का कानूनी अधिकार दिलाने के उद्देश्य से प्रस्तावित खाद्य सुरक्षा विधेयक के मसौदे को मंजूरी दे दी।

  • खाद्य सुरक्षा विधेयक को मिली कैबिनेट की मंजूरी

    केंद्र ने गरीबों को सस्ते अनाज का कानूनी अधिकार दिलाने के उद्देश्य से प्रस्तावित खाद्य सुरक्षा विधेयक के मसौदे को मंजूरी दे दी।

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com