NDTV Khabar

गुजरात कांग्रेस


'गुजरात कांग्रेस' - 969 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • जूनागढ़ नगर निगम चुनाव : मुस्लिम बहुल इलाके में बीजेपी ने 60 में से जीतीं 54 सीटें , कांग्रेस को मिली सिर्फ 1

    जूनागढ़ नगर निगम चुनाव : मुस्लिम बहुल इलाके में बीजेपी ने 60 में से जीतीं 54 सीटें , कांग्रेस को मिली सिर्फ 1

    गुजरात के जूनागढ़ नगर निगम के चुनाव में बीजेपी ने अब तक सबसे बड़ी जीत दर्ज की है. उसने 56 में से 51 सीटें जीत ली हैं. कांग्रेस को अब सिर्फ 1 ही सीट जीत सकी. पहले उसके पास 56 सीटें थीं. खास बात यह है कि जूनागढ़ नगर निगम का मुस्लिम बहुल इलाके में है. यह चुनाव एक बार फिर संकेत दे रहे हैं कि जमीन पर कांग्रेस बिलकुल खत्म होती जा रही है. वहीं बीजेपी नगर निगम से लेकर पंचायत तक का चुनाव भी बड़े जोर-शोर लड़ती है. यह एक तरह से बीजेपी की रणनीति भी है कि वह अपने सभी कार्यकर्ताओं को चुनाव के बहाने व्यस्त रखती है और पार्टी से टिकट देकर उम्मीद दिखाती है कि जिनको सांसद और विधायक का टिकट नहीं मिला उनको कम से कम यहां नगर निगम या पंचायत तक का चुनाव तो पार्टी लड़ा ही सकती है. बीजेपी की इस रणनीति पर चुनाव विशेषज्ञ भी कहते हैं कि यह पार्टी एक तरह से 'चुनाव लड़ने की मशीन' बन चुकी है.

  • गुजरात कांग्रेस के पूर्व विधायक अल्पेश ठाकोर और धवल सिंह जाला ने थामा भाजपा का दामन

    गुजरात कांग्रेस के पूर्व विधायक अल्पेश ठाकोर और धवल सिंह जाला ने थामा भाजपा का दामन

    गुजरात में कांग्रेस के पूर्व विधायक अल्पेश ठाकोर (Alpesh Thakor) और धवल सिंह जाला बृहस्पतिवार को भाजपा में शामिल हो गए. दोनों ने  भाजपा मुख्यालय में एक कार्यक्रम में पार्टी में शामिल हुए. इस दौरान गुजरात भाजपा अध्यक्ष जीतू वाघानी भी मौजूद थे. ठाकोर (Alpesh Thakor) और जाला ने राज्यसभा उपचुनाव में कथित रूप से कांग्रेस उम्मीदवारों के खिलाफ मतदान करने के बाद पांच जुलाई को विधायक पद से इस्तीफा दे दिया था.

  • गुजरात में तुगलकी फरमान: कुंवारी लड़कियों के फोन रखने पर बैन, उल्लंघन किया तो पिता से वसूले जाएंगे 1.50 लाख रुपये

    गुजरात में तुगलकी फरमान: कुंवारी लड़कियों के फोन रखने पर बैन, उल्लंघन किया तो पिता से वसूले जाएंगे 1.50 लाख रुपये

    दांतीवाड़ा में ठाकोर समुदाय द्वारा एक नया नियम बनाया गया है जिसमें अविवाहित लड़कियों के मोबाइल फोन रखने पर प्रतिबंध लगाया है. रविवार को जलोल गांव में हुई समुदाय की मीटिंग में कुछ फैसले लिए गए जिन्हें गांव के लोगों द्वारा संविधान की तरह माना जाता है. नए नियमों के मुताबिक अविवाहित लड़कियों को फोन नहीं दिया जाएगा और अगर कोई लड़की इस नियम को तोड़ती है तो इसे अपराध माना जाएगा.

  • गुजरात विधानसभा चुनाव में सिरदर्द बन चुके अल्पेश ठाकोर भी शामिल होंगे बीजेपी में

    गुजरात विधानसभा चुनाव में सिरदर्द बन चुके अल्पेश ठाकोर भी शामिल होंगे बीजेपी में

    गुजरात विधानसभा चुनाव में बीजेपी के लिए सरदर्द बन चुके अल्पेश ठाकोर बीजेपी में ही शामिल होने जा रहे हैं. ठाकोर सेना और ओबीसी एकता मंच की बैठक में सभी ने ये फ़ैसला लिया है कि विकास के लिए वो बीजेपी में शामिल होंगे. लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद अल्पेश ठाकोर ने दावा किया था कि राज्य में कांग्रेस के 15 से ज्यादा विधायक पार्टी छोड़ने वाले हैं. उन्होंने कहा है कि कांग्रेस से हर कोई नाराज और असंतुष्ट हैं.

  • Karnataka : क्या बदला जाएगा मुख्यमंत्री? जाने कर्नाटक संकट से जुड़ीं 12 बड़ी बातें

    Karnataka : क्या बदला जाएगा मुख्यमंत्री? जाने कर्नाटक संकट से जुड़ीं 12 बड़ी बातें

    कर्नाटक में सत्तारूढ़ जनता दल (एस)-कांग्रेस गठबंधन के एक दर्जन से अधिक विधायकों के इस्तीफे से उत्पन्न संकट के एक दिन बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव गुलाम नबी आजाद ने आरोप लगाया कि भाजपा कर्नाटक में हमारी सरकार गिराने के लिए हमारे विधायकों को मुंबई ले गई है. कर्नाटक में हुई राजनीतिक संकट के बारे में पूछे गये एक सवाल के जवाब में आजाद ने यहां मीडिया को बताया, 'प्रधानमंत्री जी (नरेन्द्र मोदी) कहते हैं - सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास. ये तो टेलीविजन पर बहुत अच्छी चीजें लगती हैं. लेकिन जमीन पर नहीं है.' उन्होंने आगे कहा, 'माननीय प्रधानमंत्री की मौजूदगी में मैंने कहा था कि आपने (बीजेपी) हमारी सरकार हिमाचल प्रदेश में तोड़ दी. मणिपुर एवं गोवा में हमारे विधायकों को (सदन में) वोट नहीं देने दिया. बंगाल के विधायक ले जा रहे हो, आंध्रप्रदेश के विधायक ले जा रहे हो, गुजरात के विधायक ले जा रहे हो और अब आप कर्नाटक के विधायक ले जा रहे हो.' आजाद ने सवाल किया, 'इन सबका विश्वास कहां चला गया? और कहां है लोकतंत्र?' उन्होंने कहा, ‘‘लोकतंत्र पर तो हमारा विश्वास होता है, भरोसा होता है. पार्टी के चुनाव चिन्ह के आधार पर जनता अपना प्रतिनिधि चुनकर देती है और अगर उसमें कोई भी बाहुबली ताकत वाला इस तरह से करे, तो क्या होगा.’’

  • कांग्रेस विधायक अल्पेश ठाकोर ने राज्यसभा उपचुनाव में मतदान के तुरंत बाद दिया इस्तीफा 

    कांग्रेस विधायक अल्पेश ठाकोर ने राज्यसभा उपचुनाव में मतदान के तुरंत बाद दिया इस्तीफा 

    कांग्रेस विधायक अल्पेश ठाकोर और धवलसिंह जाला ने राज्यसभा उपचुनाव के मतदान के बाद गुजरात विधानसभा से इस्तीफा दे दिया है. आपको बता दें कि गृह मंत्री अमित शाह और स्मृति ईरानी द्वारा खाली की गई दो राज्यसभा सीटों के लिए गुजरात में मतदान जारी है.

  • गुजरात कांग्रेस विधायकों को राज्यसभा चुनाव से पहले रिजॉर्ट ले जाया गया

    गुजरात कांग्रेस विधायकों को राज्यसभा चुनाव से पहले रिजॉर्ट ले जाया गया

    पार्टी नेताओं ने बताया कि शुक्रवार को मतदान से पहले सत्तारूढ़ भाजपा द्वारा 'खरीद-फरोख्त' की किसी कोशिश को नाकाम करने के लिए 65 कांग्रेस विधायकों को बुधवार रात को एक रिजॉर्ट में ले जाया गया. 

  • अमित शाह या स्मृति ईरानी की सीट जीतने का सपना देख रही कांग्रेस अब N=[T/(S+1)]+1 फॉर्मूले में फंसी

    अमित शाह या स्मृति ईरानी की सीट जीतने का सपना देख रही कांग्रेस अब N=[T/(S+1)]+1 फॉर्मूले में फंसी

    अमित शाह और स्मृति ईरानी के लोकसभा चुनाव में जीतने के बाद गुजरात से राज्यसभा की दो सीटें खाली हो गई हैं. कांग्रेस चाहती थी कि दोनों सीटों पर एक साथ चुनाव कराए जाएं. लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने पार्टी की मांग को खारिज कर दिया है. अब दोनों सीटों पर भी 5 जुलाई को चुनाव होंगे. अब इसके साथ ही कांग्रेस की इन दो सीटों में से एक सीट जीतने का प्लान भी फेल होता जा नजर आ रहा है. हालांकि न्यायमूर्ति संजीव खन्ना और न्यायमूर्ति बी. आर. गवई की अवकाश पीठ ने गुजरात कांग्रेस को दोनों सीटों पर उपचुनाव संपन्न होने के बाद ‘चुनाव याचिका’ दायर करने की छूट दी है.

  • कांग्रेस को बड़ा झटका: SC ने गुजरात में दो सीटों पर राज्यसभा चुनाव एक साथ कराने की मांग ठुकराई, कहा- अभी EC जाइए

    कांग्रेस को बड़ा झटका: SC ने गुजरात में दो सीटों पर राज्यसभा चुनाव एक साथ कराने की मांग ठुकराई, कहा- अभी EC जाइए

    कांग्रेस के सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल किए जाने के बाद चुनाव आयोग से इस पर जवाब मांगा गया था. चुनाव आयोग ने हलफनामा दाखिल करते हुए दो सीटों पर अलग- अलग चुनाव कराने के अपने फैसले को सही ठहराया है और कहा था कि कांग्रेस की याचिका सुनवाई योग्य नहीं है. हलफनामे में कहा गया था कि अमित शाह और स्मृति ईरानी की खाली हुई सीटों पर अलग-अलग चुनाव कराना कानून के मुताबिक है. चुनाव आयोग 1957 से यह चुनाव कराता आया है.

  • चुनाव आयोग का हलफनामा- गुजरात में राज्यसभा चुनाव कानून के मुताबिक, कमजोर पड़ रही कांग्रेस

    चुनाव आयोग का हलफनामा- गुजरात में राज्यसभा चुनाव कानून के मुताबिक, कमजोर पड़ रही कांग्रेस

    गुजरात में राज्यसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस की याचिका पर चुनाव आयोग ने हलफनामा दाखिल किया है.चुनाव आयोग ने दो सीटों पर अलग- अलग चुनाव कराने के अपने फैसले को सही ठहराया. हलफनामे में कहा गया है कि अमित शाह और स्मृति ईरानी द्वारा खाली की गई सीटों पर अलग-अलग चुनाव कराना कानून के मुताबिक है.

  • गुजरात राज्यसभा चुनाव: कांग्रेस की याचिका पर न्यायालय ने निर्वाचन आयोग से जवाब मांगा

    गुजरात राज्यसभा चुनाव: कांग्रेस की याचिका पर न्यायालय ने निर्वाचन आयोग से जवाब मांगा

    न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता और न्यायमूर्ति सूर्यकांत की अवकाश पीठ ने मामले की सुनवाई के लिए 25 जून की तारीख तय करते हुए कहा कि इस पर सुनवाई की जरूरी है.

  • गुजरात राज्यसभा चुनाव: कांग्रेस की याचिका पर न्यायालय ने निर्वाचन आयोग से जवाब मांगा

    गुजरात राज्यसभा चुनाव: कांग्रेस की याचिका पर न्यायालय ने निर्वाचन आयोग से जवाब मांगा

    न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता और न्यायमूर्ति सूर्यकांत की अवकाश पीठ ने मामले की सुनवाई के लिए 25 जून की तारीख तय करते हुए कहा कि इस पर सुनवाई की जरूरी है.

  • गुजरात में राज्यसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस की याचिका पर SC सुनवाई को तैयार

    गुजरात में राज्यसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस की याचिका पर SC सुनवाई को तैयार

    गुजरात कांग्रेस के नेता विपक्ष परेशभाई धनानी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर दो सीटों के लिए जारी चुनाव आयोग की अधिसूचना को चुनौती दी है.

  • गुजरात में राज्यसभा उपचुनाव को लेकर कांग्रेस सुप्रीम कोर्ट पहुंची, जानिए - क्या है हार-जीत का गणित

    गुजरात में राज्यसभा उपचुनाव को लेकर कांग्रेस सुप्रीम कोर्ट पहुंची, जानिए - क्या है हार-जीत का गणित

    गुजरात में राज्यसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई है. कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर दो सीटों के लिए जारी चुनाव आयोग की अधिसूचना को चुनौती दी है. अमित शाह और स्मृति ईरानी द्वारा खाली की गई सीटों पर एक साथ चुनाव कराने की मांग की गई है.

  • राज्यसभा की छह खाली सीटों के लिए 5 जुलाई को होगा उपचुनाव, 18 जून को जारी होगी अधिसूचना

    राज्यसभा की छह खाली सीटों के लिए 5 जुलाई को होगा उपचुनाव, 18 जून को जारी होगी अधिसूचना

    भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद सहित छह राज्यसभा सदस्यों के हाल ही में लोकसभा चुनाव जीतने के कारण उच्च सदन की रिक्त हुयी छह सीटों के लिये उपचुनाव पांच जुलाई को होगा. निर्वाचन आयोग द्वारा शनिवार को जारी चुनाव कार्यक्रम के मुताबिक बिहार, ओडिशा और गुजरात से रिक्त हुयी छह सीटों पर उपचुनाव होगा. इनमें से बिहार से एक, गुजरात से दो और ओडिशा से तीन सीट रिक्त हुयी हैं. 

  • कांग्रेस को राज्यसभा चुनावों में गड़बड़ी का अंदेशा, अमित शाह-स्मृति ईरानी की खाली हुई सीटों पर साथ चुनाव की मांग

    कांग्रेस को राज्यसभा चुनावों में गड़बड़ी का अंदेशा, अमित शाह-स्मृति ईरानी की खाली हुई सीटों पर साथ चुनाव की मांग

    राज्यसभा के चुनावों में भी गड़बड़ी का अंदेशा जताते हुए कांग्रेस ने मांग की है कि गुजरात में स्मृति ईरानी (Smriti Irani) और अमित शाह (Amit Shah) के इस्तीफों से जो सीटें ख़ाली हुई हैं, उन पर एक साथ चुनाव कराए जाएं.

  • महाराष्ट्र से लेकर कर्नाटक- गुजरात और राजस्थान तक कांग्रेस में बगावत और नाराजगी, राधाकृष्ण पाटिल मिले देवेंद्र फडणवीस से

    महाराष्ट्र से लेकर कर्नाटक- गुजरात और राजस्थान तक कांग्रेस में बगावत और नाराजगी, राधाकृष्ण पाटिल मिले देवेंद्र फडणवीस से

    लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद कई राज्यों में कांग्रेस के अंदर बगावत के सुर फूट रहे हैं. अभी तक कई विधायकों और नेताओं ने पार्टी से इस्तीफा दिया है. हालात यह हैं कि मुख्यमंत्रियों और प्रदेश अध्यक्षों के बीच भी पटरी नहीं खा रही है. राजस्थान में जहां सीएम अशोक गहलोत ने अपने बेटे वैभव गहलोत के सिर पर हार का ठीकरा फोड़ा है तो मध्य प्रदेश में गुना सीट से हार का स्वाद चख चुके ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में कहा कि मुख्यमंत्री ठीक से प्रदर्शन नहीं कर पाए. उनका निशाना जाहिर तौर पर सीएम कमलनाथ की ओर था जो अपने बेटे नकुलनाथ को छिंदवाड़ा से जिताने में लगे रहे.

  • गुजरात में कांग्रेस छोड़कर भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले चार विधायकों ने ली शपथ

    गुजरात में कांग्रेस छोड़कर भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले चार विधायकों ने ली शपथ

    शपथ लेने वाले चार विधायक है- जवाहर चावड़ा, पुरुषोत्तम साबरिया, राघवजी पटेल और आशा पटेल. चारों विधायक माणावदर, ध्रांगध्रा, जामनगर (ग्रामीण) और ऊंझा विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में जीते हैं. इन सीटों पर उपचुनाव 23 अप्रैल को लोकसभा चुनाव के साथ हुए थे जिनके नतीजे 23 मई को घोषित किए गए.