NDTV Khabar

घरेलू निवेश


'घरेलू निवेश' - 68 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • एफपीआई ने भारतीय पूंजी बाजारों में किया 5,072 करोड़ रुपये का निवेश

    एफपीआई ने भारतीय पूंजी बाजारों में किया 5,072 करोड़ रुपये का निवेश

    विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने अक्टूबर महीने में अब तक भारतीय पूंजी बाजार में 5,072 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश किया है. इससे पहले सितंबर में भी एफपीआई ने 6,557.8 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश किया था. हालांकि जुलाई और अगस्त में एफपीआई शुद्ध बिकवाल रहे थे. डिपॉजिटरी के हालिया आंकड़ों के अनुसार, एफपीआई ने एक से 18 अक्टूबर के दौरान शेयरों में 4,970 करोड़ रुपये और बांड बाजार में 102 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश किया. इस तरह घरेलू पूंजी बाजार में एफपीआई का शुद्ध निवेश 5,072 करोड़ रुपये रहा.

  • मूडीज ने भारत की GDP वृद्धि दर का अनुमान घटाया, कहा- आर्थिक नरमी के असर दीर्घकालिक वाले हैं

    मूडीज ने भारत की GDP वृद्धि दर का अनुमान घटाया, कहा- आर्थिक नरमी के असर दीर्घकालिक वाले हैं

    मूडीज का कहना है कि भारतीय अर्थव्यवस्था नरमी से काफी प्रभावित है और इसके कुछ कारक दीर्घकालिक असर वाले हैं. रिजर्व बैंक ने भी हालिया मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक के बाद जीडीपी वृद्धि दर का अनुमान घटाकर 6.10 प्रतिशत कर दिया है. मूडीज ने एक रिपोर्ट में कहा कि नरमी का कारण निवेश में कमी है जो बाद में रोजगार सृजन में नरमी तथा ग्रामीण क्षेत्र में वित्तीय संकट के कारण उपभोग में भी प्रभावी हो गया.

  • आर्थिक आंकड़ों और कंपनियों के वित्तीय नतीजों का शेयर बाजार पर पड़ेगा प्रभाव

    आर्थिक आंकड़ों और कंपनियों के वित्तीय नतीजों का शेयर बाजार पर पड़ेगा प्रभाव

    देश के शेयर बाजार की चाल तय करने में इस सप्ताह जारी होने वाले प्रमुख आर्थिक आंकड़ों के साथ-साथ घरेलू कंपनियों की दूसरी तिमाही के वित्तीय नतीजों की अहम भूमिका होगी. इसके अलावा, घरेलू व विदेशी घटनाक्रमों और डॉलर के मुकाबले रुपये की चाल का भी असर देखने को मिलेगा. भारतीय शेयर बाजार में बीते सप्ताह बिकवाली के भारी दबाव में प्रमुख संवेदी सूचकांकों में भारी गिरावट दर्ज की गई, लेकिन इस सप्ताह कई प्रमुख घरेलू कंपनियां 30 सितंबर को समाप्त हुई तिमाही के लिए अपनी वित्तीय नतीजों की घोषणाएं करने वाली हैं जिन पर निवेशकों की विशेष नजर होगी और इससे बाजार को दिशा भी मिलेगी. साथ ही, बाजार की दिशा तय करने में विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों यानी एफपीआई और घरेलू संस्थागत निवेशकों (डीआईआई) के निवेश के प्रति रुझान की अहम भूमिका होगी.

  • अर्थशास्त्री देसारडा मोदी सरकार पर उठाए सवाल, कहा 5 साल पहले अर्थव्यवस्था को मजबूत करने का मौका गंवा दिया

    अर्थशास्त्री देसारडा मोदी सरकार पर उठाए सवाल, कहा 5 साल पहले अर्थव्यवस्था को मजबूत करने का मौका गंवा दिया

    चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर घटकर पांच प्रतिशत पर आ गई है जो इसका छह साल का निचला स्तर है. यह लगातार पांचवीं तिमाही रही जबकि जीडीपी की वृद्धि दर सुस्त रही है. घरेलू मांग नीचे आई है. निजी उपभोग कम हुआ है जबकि निवेश भी सुस्त हुआ है. 

  • शेयर बाजार: आर्थिक आंकड़ों पर रहेगी नजर

    शेयर बाजार: आर्थिक आंकड़ों पर रहेगी नजर

    अगले सप्ताह शेयर बाजार की चाल घरेलू और विदेशी आर्थिक आंकड़े, डॉलर के खिलाफ रुपये की चाल, मॉनसून का रूख, वैश्विक बाजारों के रुख, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) और घरेलू संस्थागत निवेशकों (डीआईआई) द्वारा किए गए निवेश और कच्चे तेल की कीमतें मिलकर तय करेंगे. घरेलू शेयर बाजार सोमवार (2 सितंबर) को गणेश चतुर्थी के कारण बंद रहेंगे.

  • शेयर बाजार : आरबीआई नीति, तिमाही नतीजों पर रहेगी नजर

    शेयर बाजार : आरबीआई नीति, तिमाही नतीजों पर रहेगी नजर

    अगले सप्ताह शेयर बाजार की चाल भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की मौद्रिक नीति समिति के निर्णय और घरेलू और वैश्विक व्यापक आर्थिक आंकड़े मिलकर तय करेंगे. इसके साथ ही, निवेशकों की नजर प्रमुख कंपनियों के तिमाही नतीजों, मानसून की चाल, वैश्विक बाजारों के रुख, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) और घरेलू संस्थापक निवेशकों (डीआईआई) द्वारा किए गए निवेश, डॉलर के खिलाफ रुपये की चाल और कच्चे तेल की कीमतों पर भी रहेगी.

  • रुपया शुरुआती कारोबार में डॉलर के मुकाबले 10 पैसे कमजोर

    रुपया शुरुआती कारोबार में डॉलर के मुकाबले 10 पैसे कमजोर

    मुद्रा डीलरों ने कहा कि विदेशी बाजारों में डॉलर के मजबूत होने से रुपये पर दबाव रहा. हालांकि , विदेशी पूंजी के निरंतर निवेश और घरेलू शेयर बाजारों की शुरुआती बढ़त ने रुपये की गिरावट को थामने का प्रयास किया.

  • एक और भारत बंद: वालमार्ट-फ्लिपकार्ट डील के खिलाफ आज सड़क पर उतरेंगे व्यापारी

    एक और भारत बंद: वालमार्ट-फ्लिपकार्ट डील के खिलाफ आज सड़क पर उतरेंगे व्यापारी

    व्यापारियों के संगठन कैट ने वालमार्ट द्वारा घरेलू खुदरा कंपनी फ्लिपकार्ट के अधिग्रहण और खुदरा क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) के विरोध में आज यानी शुक्रवार को भारत बंद का आह्वान किया है. कंफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने एक बयान में कहा है, “देश के सभी व्यावसायिक बाजार बंद रहेंगे और कोई व्यावसायिक गतिविधि नहीं होगी. इस बंद में देश भर के सात करोड़ से अधिक छोटे कारोबारियों के हिस्सा लेने की संभावना है.” 

  • शेयर बाजार: लगातार छठे दिन गिरे शेयर बाजार, सेंसेक्स दो सप्ताह के निचले स्तर पर

    शेयर बाजार: लगातार छठे दिन गिरे शेयर बाजार, सेंसेक्स दो सप्ताह के निचले स्तर पर

    विदेशी निवेशकों द्वारा उभरते बाजारों में निवेश की चौतरफा बिकवाली के दबाव और भारतीय रुपये की लगातार गिरावट के बीच बुधवार को घरेलू शेयर बाजारों में लगातार छठे दिन गिरावट दर्ज की गई. वैश्विक बाजार के वर्तमान वातावरण में निवेशक जोखिम लेने के मूड में नहीं दिख रहे हैं. बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स शुरू में थोड़ा सुधार के साथ खुलने के बाद अंत में 139.61 अंक लुढ़ककर दो सप्ताह से अधिक के निचले स्तर 38,018.31 अंक पर आ गया. निफ्टी भी 43.35 अंक गिरकर 11,476.95 अंक पर रहा. सेंसेक्स पिछले छह सत्रों में 878.32 अंक गिरा है.

  • चीन-अमेरिका के बीच व्यापार वार्ता और आर्थिक आंकड़े तय करेंगे बाजार की चाल

    चीन-अमेरिका के बीच व्यापार वार्ता और आर्थिक आंकड़े तय करेंगे बाजार की चाल

    अगले सप्ताह शेयर बाजार की चाल अमेरिका और चीन के बीच चल रही व्यापार वार्ता के नतीजे, घरेलू और वैश्विक बाजारों के व्यापक आर्थिक आंकड़े, प्रमुख कंपनियों के तिमाही नतीजे, मॉनसून की चाल, वैश्विक बाजारों के रुख, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) और घरेलू संस्थापक निवेशकों (डीआईआई) द्वारा किए गए निवेश, डॉलर के खिलाफ रुपये की चाल और कच्चे तेल की कीमतों का प्रदर्शन मिलकर तय करेंगे.

  • रुपये और कच्चे तेल की कीमत सहित कई आंकड़े तय करेंगे शेयर बाजार की चाल

    रुपये और कच्चे तेल की कीमत सहित कई आंकड़े तय करेंगे शेयर बाजार की चाल

    अगले सप्ताह शेयर बाजार की चाल घरेलू और वैश्विक व्यापक आर्थिक आंकड़े, प्रमुख कंपनियों के तिमाही नतीजे, मॉनसून की चाल, वैश्विक बाजारों के रुख, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) और घरेलू संस्थापक निवेशकों (डीआईआई) द्वारा किए गए निवेश, डॉलर के खिलाफ रुपये की चाल और कच्चे तेल की कीमतों का प्रदर्शन मिलकर तय करेंगे.  बुधवार (15 अगस्त) को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर शेयर बाजार बंद रहेंगे.

  • शेयर बाजार : आरबीआई की नीति, तिमाही नतीजों पर रहेगी नजर

    शेयर बाजार : आरबीआई की नीति, तिमाही नतीजों पर रहेगी नजर

    अगले सप्ताह शेयर बाजार की चाल भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की मौद्रिक नीति समिति के निर्णय और घरेलू और वैश्विक व्यापक आर्थिक आंकड़े मिलकर तय करेंगे. इसके साथ ही निवेशकों की नजर प्रमुख कंपनियों के तिमाही नतीजे, मानसून की चाल, वैश्विक बाजारों के रुख, मॉनसून की चाल, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) और घरेलू संस्थापक निवेशकों (डीआईआई) द्वारा किए गए निवेश, डॉलर के खिलाफ रुपये की चाल और कच्चे तेल की कीमतों पर भी रहेगी. 

  • 6 जून को जारी होगी आरबीआई की मौद्रिक नीति, शेयर बाजार पर दिखेगा असर

    6 जून को जारी होगी आरबीआई की मौद्रिक नीति, शेयर बाजार पर दिखेगा असर

    अगले सप्ताह शेयर बाजार की चाल भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की मौद्रिक नीति समिति के निर्णय और घरेलू और वैश्विक व्यापक आर्थिक आंकड़े मिलकर तय करेंगे. इसके साथ ही निवेशकों की नजर प्रमुख कंपनियों के तिमाही नतीजे, मानसून की चाल, वैश्विक बाजारों के रुख, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) और घरेलू संस्थापक निवेशकों (डीआईआई) द्वारा किए गए निवेश, डॉलर के खिलाफ रुपये की चाल और कच्चे तेल की कीमतों पर भी रहेगी.

  • शेयर बाजार पर दिख सकता है कर्नाटक विधानसभा चुनाव के नतीजों का असर

    शेयर बाजार पर दिख सकता है कर्नाटक विधानसभा चुनाव के नतीजों का असर

    अगले सप्ताह शेयर बाजार की चाल कर्नाटक विधानसभा चुनाव के नतीजे, प्रमुख कंपनियों की चौथी तिमाही के नतीजे, घरेलू और वैश्विक बाजार के व्यापक आर्थिक आंकड़ों, वैश्विक बाजारों के प्रदर्शन, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) और घरेलू संस्थापक निवेशकों (डीआईआई) के निवेश, डॉलर के खिलाफ रुपये की चाल और कच्चे तेल की कीमतों के आधार पर तय होंगे.

  • कई कंपनियों के तिमाही नतीजे शेयर बाजार की पर डाल सकते हैं असर

    कई कंपनियों के तिमाही नतीजे शेयर बाजार की पर डाल सकते हैं असर

    अगले सप्ताह शेयर बाजार की चाल प्रमुख आर्थिक आंकड़ों, कंपनियों के तिमाही नतीजों, वैश्विक बाजारों के रुख, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) और घरेलू संस्थापक निवेशकों (डीआईआई) द्वारा किए गए निवेश, डॉलर के प्रति रुपये की चाल और कच्चे तेल की कीमतों के प्रदर्शन पर निर्भर करेगी.

  • इस साल पहली छमाही में भारत की औसत वृद्धि दर 7.8 प्रतिशत रहेगी : रिपोर्ट

    इस साल पहली छमाही में भारत की औसत वृद्धि दर 7.8 प्रतिशत रहेगी : रिपोर्ट

    भारतीय अर्थव्यवस्था में चक्रीय सुधार दिखने की उम्मीद है. एक रिपोर्ट में कहा गया है कि निवेश और उपभोग में सुधार से इस साल की पहली छमाही में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की औसत वृद्धि दर 7.8 प्रतिशत रहेगी. जापान की वित्तीय सेवा क्षेत्र की कंपनी नोमूरा के अनुसार शुद्ध निर्यात की स्थिति खराब होने के बीच निवेश और उपभोग मांग में बढ़ोतरी से मुख्य रूप से वृद्धि दर को रफ्तार मिलेगी.

  • शेयर बाजार : कंपनियों की चौथी तिमाही के नतीजे, निवेश रुपये की चाल पर होगी नजर

    शेयर बाजार : कंपनियों की चौथी तिमाही के नतीजे, निवेश रुपये की चाल पर होगी नजर

    अगले सप्ताह शेयर बाजार की चाल प्रमुख कंपनियों की चौथी तिमाही के तिमाही नतीजों, घरेलू और वैश्विक व्यापक आर्थिक आंकड़े, वैश्विक बाजारों के प्रदर्शन, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) और घरेलू संस्थापक निवेशकों (डीआईआई) द्वारा किए गए निवेश, डॉलर के खिलाफ रुपये की चाल और कच्चे तेल की कीमतों के आधार पर तय होंगे. अगले सप्ताह जिन कंपनियों के तिमाही नतीजे जारी होंगे, उनमें एचडीएफसी बैंक ने अपनी चौथी तिमाही के नतीजे शनिवार (21 अप्रैल) को जारी की, जिसका असर सोमवार को शेयर बाजार खुलने पर दिखेगा.

  • वित्त मंत्रालय ने तय किया कंपनी का प्रोफाइल जो लगा सकेगी एयर इंडिया के लिए बोली

    वित्त मंत्रालय ने तय किया कंपनी का प्रोफाइल जो लगा सकेगी एयर इंडिया के लिए बोली

    निवेश व लोक आस्ति प्रबंधन विभाग (दीपम) के सचिव नीरज गुप्ता ने कहा कि पर्याप्त कोष व योग्यता वाली कोई भी इकाई एयर इंडिया में 76 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने के लिए बोली लगा सकती है. उन्होंने कहा कि उद्यम पूंजी (वीसी) कोष सार्वजनिक उपक्रमों के विनिवेश कार्यक्रम में भाग ले सकते हैं और वे सार्वजनिक आस्तियों के लिए बोली लगाने हेतु घरेलू कंपनियों से गठजोड़ कर सकते हैं.