NDTV Khabar

जनता दल यूनाइटेड


'जनता दल यूनाइटेड' - 240 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • बिहार में भाजपा नेताओं को अचानक नीतीश कुमार के नेतृत्व से क्यों होने लगी है बोरियत?

    बिहार में भाजपा नेताओं को अचानक नीतीश कुमार के नेतृत्व से क्यों होने लगी है बोरियत?

    मुख्यमंत्री और जनता दल यूनाइटेड के अध्यक्ष नीतीश कुमार ने शनिवार को रांची में झारखंड के आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र अपने पार्टी के कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. जहां उन्होंने शराबबंदी पर रघुबर दास सरकार को घेरा और बताया कि कैसे बिहार हर मामले में झारखंड से आगे निकल चुका हैं.

  • तेजस्वी ने जेडीयू के नए नारे पर कहा- आत्मविश्वास इतना घट गया कि ‘ठीके तो है‘ पर आ गए

    तेजस्वी ने जेडीयू के नए नारे पर कहा- आत्मविश्वास इतना घट गया कि ‘ठीके तो है‘ पर आ गए

    जनता दल यूनाइटेड के लिए अपने नेता नीतीश कुमार के लिए एक नए नारे के साथ पोस्टर लगाना कुछ महंगा सौदा साबित हो रहा है. हर दिन उनके सत्ता में सहयोगी से लेकर विपक्ष, कोई न कोई तंज कर देता है. बुधवार को विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि पूरी जनता दल यूनाइटेड और नीतीश कुमार का आत्मविश्वास इतना कम हो गया है कि अब ‘ठीके है‘ में चले गए हैं.

  • बिहार : सुशील मोदी को पसंद नहीं आया जेडीयू का यह कदम, कहा- विकास पर ध्यान दीजिए

    बिहार : सुशील मोदी को पसंद नहीं आया जेडीयू का यह कदम, कहा- विकास पर ध्यान दीजिए

    बिहार में जनता दल यूनाइटेड (JDU) को उनकी सहयोगी बीजेपी के वरिष्ठ नेता और उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कुछ सलाह दी है. सुशील मोदी जनता दल यूनाइटेड द्वारा अगले साल होने वाले विधानसभा के मद्देनजर अभी से चुनावी होर्डिंग लगाए जाने से खुश नहीं हैं.

  • ब्लॉग : क्या नीतीश कुमार अब अपनी ही पार्टी जेडीयू के लिए 'कामचलाऊ' नेता बन गए हैं

    ब्लॉग :  क्या नीतीश कुमार अब अपनी ही पार्टी जेडीयू के लिए 'कामचलाऊ' नेता बन गए हैं

    क्या बिहार में सत्तारूढ़ जनता दल यूनाइटेड अपने सुप्रीमो नीतीश कुमार को अब 'कामचलाऊ' और 'अस्थायी'  मानती है. ये सवाल सोमवार को पार्टी दफ़्तर के बाहर लगाए गये नए होर्डिंग के बाद लोग पूछ रहे हैं.  रविवार शाम , पटना में पार्टी दफ़्तर के बाहर नए होर्डिंग लगाए गए जिसमें नारा  था , ‘क्यूं करे विचार ठीके तो है नीतीश कुमार’.  निश्चित रूप से जिसने भी स्लोगन लिखा होगा उसमें पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ख़ासकर नीतीश कुमार के क़रीबी आरसीपी सिंह के सहमति से  ही ये होर्डिंग लगायी होगी. लेकिन पार्टी के ही नेताओं को लगता है ये नारा लोगों को पच नहीं रहा. ठीके का मतलब बिहार की राजनीति और गांव घर में यही होता हैं कि वो बहुत अच्छे तो नहीं लेकिन ठीक ठाक कामचलाऊ हैं.

  • बिहार में जनता दल यूनाइटेड के विधायक की दादागिरी

    बिहार में जनता दल यूनाइटेड के विधायक की दादागिरी

    इस तस्वीर में जो सज्जन हाथ जोड़कर याचना कर रहे हैं वो बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा के सिविल सर्जन डॉक्टर परमानंद चौधरी हैं और जो व्यक्ति उन्हें उंगली दिखा रहे हैं वो जनता दल यूनाइटेड के विधायक जितेंद्र कुमार हैं. ये घटना शनिवार की है जब विधायक महोदय अपने पार्टी के एक ब्लॉक नेता जितेंद्र कुमार यादव की मौत पर उनका पोस्टमार्टम करवाने बिहारशरीफ अस्पताल पहुंचे.

  • झारखंड और महाराष्ट्र में अपने चुनाव चिन्ह 'तीर' का प्रयोग नहीं कर पाएगी JDU, चुनाव आयोग ने लगाई रोक

    झारखंड और महाराष्ट्र में अपने चुनाव चिन्ह 'तीर' का प्रयोग नहीं कर पाएगी JDU, चुनाव आयोग ने लगाई रोक

    चुनाव आयोग ने जनता दल (यूनाइटेड) को अपने चुनाव चिह्न ‘तीर’ का इस्तेमाल झारखंड और महाराष्ट्र में चुनाव में करने से रोक लगा दी है क्योंकि यह चिह्न झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) और शिव सेना के चुनाव चिह्न ‘धनुष और तीर’ से मिलता-जुलता है. चुनाव आयोग ने इससे पहले जदयू को एक नियम के तहत दो राज्यों में अपने चुनाव चिह्न का इस्तेमाल करके चुनाव लड़ने की छूट दी थी. अब यह छूट वापस ले ली गई है.

  • कभी नीतीश कुमार को चांदी सिक्कों से तौला था अनंत सिंह ने, पढ़ें बिहार के इस बाहुबली के ऊपर था किसका हाथ

    कभी नीतीश कुमार को चांदी सिक्कों से तौला था अनंत सिंह ने, पढ़ें बिहार के इस बाहुबली के ऊपर था किसका हाथ

    बिहार में मोकामा से निर्दलीय बाहुबली विधायक अनंत सिंह का जेल जाना तय है यह बात वह भी जानते हैं. जब से उनके पैतृक घर से  AK-47 राइफल, हैंड ग्रेनेड और 26 राउंड गोलियां बरामद हुई है तब से ही अनंत सिंह बार बार यही कह रहे हैं कि उन्हें सांसद ललन सिंह के इशारे पर फंसाया गया है और अब कोर्ट से ही उन्हें न्याय मिलेगा. अनंत सिंह के घर पर राबड़ी देवी के कार्यकाल में भी छापेमारी हुई थी और घंटों तक दोनों तरफ़ से फ़ायरिंग हुई लेकिन उस समय की राजनीतिक परिस्थिति में अनंत सिंह पर नीतीश कुमार और ललन सिंह का आशीर्वाद था और वह विधायक जनता दल यूनाइटेड के टिकट पर चुने गये थे.

  • धारा-370 पर पूछा सवाल, तो जदयू नेता आरसीपी सिंह 'तू-तड़ाक' पर उतर आए, देखें- VIDEO

    धारा-370 पर पूछा सवाल, तो जदयू नेता आरसीपी सिंह 'तू-तड़ाक' पर उतर आए, देखें- VIDEO

    धारा 370 पर सवाल पूछे जाने पर इन दिनों जनता दल यूनाइटेड के नेता भड़क जाते हैं. ऐसा ही एक वाकया शनिवार को पार्टी दफ़्तर में पार्टी में सामने आया. दरअसल, पार्टी के महासचिव आरसीपी सिंह से जब एक पत्रकार ने जम्मू-कश्मीर को लेकर सवाल पूछा तो वे 'तू-तड़ाक' पर उतर आए. 

  • अनुच्छेद 370 पर सवाल को नीतीश कुमार ने टाला, राज्यसभा में जेडीयू के नेता ने कहा- ....अब बीजेपी का ही एजेंडा चलेगा

    अनुच्छेद 370 पर सवाल को नीतीश कुमार ने टाला, राज्यसभा में जेडीयू के नेता ने कहा- ....अब बीजेपी का ही एजेंडा चलेगा

    जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के मुद्दे पर आधिकारिक रूप से भले ही लोकसभा और राज्यसभा में जनता दल यूनाइटेड ने विरोध किया हो लेकिन यह अब पार्टी के लिए गले की हड्डी बनता जा रहा है.  हालांकि इस मुद्दे पर जनसमर्थन और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के स्टैंड के कारण नाराज़गी के बाद राज्यसभा में पार्टी के संसदीय दल के नेता रामचंद्र प्रसाद सिंह ने सफ़ाई दी थी कि चूंकि इस संबंध में बिल पारित हो गया है और नया क़ानून बन गया हैं इसलिए अब पार्टी पूरी तरह केंद्र सरकार के पीछे है.

  • कश्मीर पर आखिर सुशील मोदी ने नीतीश कुमार को सलाह दे डाली

    कश्मीर पर आखिर सुशील मोदी ने नीतीश कुमार को सलाह दे डाली

    पिछले दो दिनों से बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार को आर्टिकल 370 के मुद्दे पर विरोधियों से ज़्यादा अपने सहयोगियों और समर्थकों से सलाह और नसीहत मिल रही हैं. हर मुद्दे पर राजद को कोसने वाले नीतीश कुमार मंत्रिमंडल के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने भी इस मुद्दे पर नीतीश कुमार को कुछ सलाह दी है.

  • आर्टिकल 370 हटाने के मुद्दे पर अब नीतीश की पार्टी पड़ी नरम, रुख बदलने का यह है कारण

    आर्टिकल 370 हटाने के मुद्दे पर अब नीतीश की पार्टी पड़ी नरम, रुख बदलने का यह है कारण

    जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में आर्टिकल 370 (Article 370) के अधिकांश प्रावधानों को हटाए जाने के मुद्दे पर विरोध दर्ज करा चुका जनता दल यूनाइटेड (JDU)अब इस मुद्दे पर जनभावना के आगे नतमस्तक होता नजर आ रहा है. बुधवार को जेडीयू ने संसद में इस मुद्दे पर अपने विरोध के पक्ष में सफाई दी कि यदि आर्टिकल 370 को हटाने का समर्थन किया जाता तो जॉर्ज फर्नांडिस (George Fernandes) की आत्मा को दुख पहुंचता. उन्होंने इस मुद्दे पर सन 1996 में ही अपना रुख तय कर दिया था. जेडीयू ने कहा है कि अब जब एक बार कानून बन गया तो वह देश का कानून हो गया और हम सब साथ हैं.

  • क्या नीतीश कुमार के लिए सिद्धांत सर्वोपरि हैं?

    क्या नीतीश कुमार के लिए सिद्धांत सर्वोपरि हैं?

    आर्टिकल 370 के मुद्दे पर केंद्र की भारतीय जनता पार्टी को अपने सहयोगी नीतीश कुमार की जनता दल यूनाइटेड से निराशा हाथ लगी. लोकसभा और राज्यसभा दोनों सदनों में जनता दल यूनाइटेड के नेताओं ने न केवल विरोध में भाषण दिया बल्कि सदन का बहिष्कार भी किया. जबकि इस मुद्दे की गंभीरता और जनता में इसको लेकर आम लोगों के बीच जो सरकार के प्रति भावना है उसके बाद बीएसपी, आम आदमी पार्टी जैसे विपक्षी दल सरकार के समर्थन में आगे आए. लेकिन सवाल है कि इस सबके बावजूद आख़िर इस मुद्दे पर अपनी पार्टी की पुराने लाइन और सिद्धांत पर नीतीश क्यों टिके रहे. इसके लिए आपको पांच वर्ष के एक घटनाक्रम पर भाजपा के एक वरिष्ठ नेता का कमेंट जानना होगा.

  • जेडीयू ने साफ किया, अनुच्छेद 370 के मुद्दे पर वह क्यों नहीं बीजेपी के साथ

    जेडीयू ने साफ किया, अनुच्छेद 370 के मुद्दे पर वह क्यों नहीं बीजेपी के साथ

    जनता दल यूनाइटेड ने बीजेपी से कहा है कि आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में हम आपके साथ हैं लेकिन अनुच्छेद 370 जैसे विवादास्पद मुद्दे को आपको नहीं छेड़ना चाहिए था. लोकसभा में भी जनता दल यूनाइटेड ने जम्मू- कश्मीर पुनर्गठन बिल पर अपना विरोध जाहिर करने के बाद सदन का बहिष्कार किया. लोकसभा में अनुच्छेद 370 हटाने और राज्य के पुनर्गठन संबंधी बिल पर बहस में जनता दल यूनाइटेड संसदीय दल के नेता राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह ने कहा कि धारा 370 पर आपके कदम का हम समर्थन नहीं कर सकते, हम इसके भागीदार नहीं हो सकते, लेकिन आतंकवाद के खिलाफ आपके हर कदम में हम साथ हैं.

  • पीएम नरेंद्र मोदी के एक फैसले के बाद बीजेपी उसके सहयोगियों की मजबूरी बन गई

    पीएम नरेंद्र मोदी के एक फैसले के बाद बीजेपी उसके सहयोगियों की मजबूरी बन गई

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने अपने एक निर्णय से राजनीति में एक नए अध्याय की शुरुआत कर दी है जिससे भाजपा (BJP) के सहयोगी भी अब उसके बिना नहीं चलने वाले. केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने राज्यसभा में जैसे ही आर्टिकल 370 (Article 370) को खत्म करने की घोषणा की तो पहली बार सदन के अंदर और बाहर इस मुद्दे पर समर्थन करने की बीजेपी के विरोधियों में भी होड़ दिखी. बीजेपी के एक सहयोगी जनता दल यूनाइटेड के अलावा हर सहयोगी के मुंह से वाह-वाह निकल रहा था. बीजेपी की घोर विरोधी बहुजन समाज पार्टी (BSP), अरविंद केजरीवाल की 'आप' (AAP), चंद्रबाबू नायडू की तेलगू देशम और उसके अलावा हर मुद्दे पर अपना अलग स्टैंड लेने वाली जगनमोहन रेड्डी की वाईएसआर कांग्रेस ने जहां इस मुद्दे पर अपना समर्थन देने में कोई देरी नहीं की.

  • राज्यसभा में तीन तलाक बिल पर नीतीश कुमार ने इस तरह की मोदी सरकार की मदद

    राज्यसभा में तीन तलाक बिल पर नीतीश कुमार ने इस तरह की मोदी सरकार की मदद

    बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) अगले साल विधानसभा चुनाव बीजेपी (BJP) के साथ गठबंधन में ही लड़ेंगे. इसका संकेत मंगलवार को तीन तलाक (Teen Talaq Bill) के मुद्दे पर राज्यसभा (Rajya Sabha) में जनता दल यूनाइटेड (JDU) के रुख से मिला. जनता दल यूनाइटेड के राज्यसभा सांसदों के बिल के खिलाफ मतदान से यह बिल खतरे में पड़ सकता था. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर ही पार्टी के सभी सांसदों ने बजाय मतदान में बाग लेने के सदन का बहिष्कार कर दिया. इससे केंद्र सरकार को न केवल राहत मिली बल्कि इस बिल के राज्यसभा में पारित होने का रास्ता भी आसान हो गया.

  • बिहार में राजद नेताओं का जदयू में पलायन शुरू, अब इस दिग्गज नेता ने छोड़ा लालू यादव की पार्टी का साथ

    बिहार में राजद नेताओं का जदयू में पलायन शुरू, अब इस दिग्गज नेता ने छोड़ा लालू यादव की पार्टी का साथ

    बिहार में राष्ट्रीय जनता दल के वरिष्ठ नेताओं और विधायकों में असंतोष हैं. कहा जा रहा है कि ये नाराज़गी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू यादव के उत्तराधिकारी तेजस्वी यादव को लेकर हैं. लोकसभा चुनाव के दौरान राजद से जनता दल यूनाइटेड में  नेताओं के जाने का जो क्रम शुरू हुआ वो रविवार को भी जारी रहा.

  • तीन तलाक बिल पर चर्चा में नीतीश की पार्टी के सांसद ने गिरिराज सिंह को चुप कराया, कहा- आपका एजेंडा...

    तीन तलाक बिल पर चर्चा में नीतीश की पार्टी के सांसद ने गिरिराज सिंह को चुप कराया, कहा- आपका एजेंडा...

    ट्रिपल तलाक के मुद्दे पर गुरुवार को जनता दल यूनाइटेड ने अपने पुराने स्टैंड पर कायम रहते हुए विरोध किया और सदन का बहिष्कार किया. इससे पूर्व सदन में पार्टी के नेता राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह ने अपने भाषण में इस बिल को जनहित में नहीं बताते हुए कहा कि इससे समाज के एक वर्ग में अविश्वास पैदा होगा.

  • ...तो इस वजह से तृणमूल कांग्रेस की शहीद दिवस रैली में शामिल नहीं हुए रणनीतिकार प्रशांत किशोर

    ...तो इस वजह से तृणमूल कांग्रेस की शहीद दिवस रैली में शामिल नहीं हुए रणनीतिकार प्रशांत किशोर

    मीडिया में इस बात की चर्चा जोरों पर थी कि किशोर इस रैली में शामिल होंगे. किशोर भाजपा की गठबंधन सहयोगी जनता दल (यूनाइटेड) के वरिष्ठ पदाधिकारी भी हैं.प्रशांत किशोर के रैली में शामिल न होने को लेकर तृणमूल के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि प्रशांत किशोर रैली में शामिल नहीं हुए. इसमें शामिल होने की उनकी कोई संभावना नहीं थी.